• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • Bank-Demat Accounts से PAN-Aadhaar Linking पर कन्फ्यूशन, शेयरहोल्डर्स को डबल टीडीएस का नोटिस

Bank-Demat Accounts से PAN-Aadhaar Linking पर कन्फ्यूशन, शेयरहोल्डर्स को डबल टीडीएस का नोटिस

 Confusion over linking of PAN, Aadhaar with demat and bank accounts

Confusion over linking of PAN, Aadhaar with demat and bank accounts

शेयरहोल्डर्स के सामने डबल टीडीएस ( Double TDS) की नई सामने आ गई है. हजारों stock market investors और व्यक्तिगत टैक्सपेयर्स (individual taxpayers ) ने कहा है कि उन्होंने डिविडेंड (dividend ) और interest income पर कंपनियों की तरफ से नोटिस मिला है.

  • Share this:
    मुंबई . शेयरहोल्डर्स के सामने डबल टीडीएस ( Double TDS) की नई समस्या सामने आ गई है. हजारों stock market investors और व्यक्तिगत टैक्सपेयर्स (individual taxpayers ) ने कहा है कि उन्होंने डिविडेंड (dividend ) और interest income पर कंपनियों की तरफ से नोटिस मिला है.

    लेकिन वे पहले से ही टैक्स रिटर्न फाइल कर चुके हैं. साथ ही, पैन और आधार कार्ड को अपने demat and bank accounts से लिंक करा चुके हैं. जैसा कि हाल ही में Income-Tax Department ने नए TDS नियमों के अनुसार निर्देश जारी किया था. शेयरहोल्डर्स की शिकायत है कि नए जारी नियमों का पालन करने के बावजूद उन्हें डबल टीसीएस का नोटिस जारी कर दिया गया.



    नया नियम



    हाल ही में केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड ( CBDT ) के एक सर्कुलर में चेतावनी दी गई है कि अगर कोई करदाता रिटर्न दाखिल नहीं करता है या उसने अपने पैन और आधार नंबर को लिंक नहीं किया है तो डबल टीडीएस कटौती होगी. सीबीडीटी (CBDT) ने यह जांचने के लिए एक डेटाबेस बनाया है कि किसने आवश्यकता का अनुपालन किया है.



    यह भी पढ़ें - Home Loan लेने की योजना आप भी बना रहे हैं ? तो जान लीजिए इससे जुड़ी हर जरूरी बात



    लेकिन, इस डेटाबेस की जांच करने के बजाय, कंपनियां शेयरधारकों पर नए नियमों के अनुसार compliance declarations (अनुपालन घोषणा) दाखिल करने या double tax देने को बोल रही हैं. 5,000 रुपये से अधिक की इक्विटी होल्डिंग और फिक्स डिपोजिट पर मिले ब्याज पर टीडीएस (TDS) लागू होता है.



    नया TDS रेट दोगुना 

    बदले हुए नियमों के तहत कहा गया था कि अगर आपने पिछले कुछ समय में इनकम टैक्स रिटर्न फाइल नहीं किया है, तो आपको 1 जुलाई से ज्यादा टैक्स डिडक्टेड एट सोर्स (TDS) देना पड़ेगा. जो लोग अपना आईटी रिटर्न नहीं भरते हैं, उनके लिए नया TDS रेट दोगुना होगा. पेमेंट करने के लिए एक हिस्सा सीधा टैक्स के तौर पर काटा जाता है. ऐसा ट्रांजैक्शंस की जानकारी इनकम टैक्स विभाग तक पहुंचाने के लिए किया जाता है.

    यह भी पढ़ें- EPF vs GPF vs PPF: जानिए तीनों में कौन बेहतर है, किसमें निवेश करने पर क्या क्या फायदें हैं

    किन्हें देना था ज्यादा TDS?
    अब तक ज्यादा टीडीएस केवल उनका कटता था, जिनके पास पैन नहीं है. लेकिन अब अगर आपने टैक्स रिटर्न नहीं फाइल किया है, तो उस स्थिति में भी TDS की कटौती की जाएगी.
    लेकिन यहां शेयरहोल्डर्स के सामने नई समस्या आ गई है. जिन लोगों आधार-पैन लिंक करा लिया है और टैक्स रिटर्न दाखिल कर दिया है उनको भी डबल टीसीएस का नोटिस मिल रहा है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज