LPG Price: रसोई गैस से खाना पकाना हुआ महंगा, सस्ती कुकिंग के लिए अपनाएं यह तरीका

अब पीएनजी, एलपीजी से 60 फीसदी तक सस्ती है, लेकिन इसकी सीमित उपलब्धता बड़ी दिक्कत

10 लीटर पानी को गर्म करने में 10.15 रुपए की रसोई गैस (LPG) खर्च होती है जबकि, इंडक्शन पर 8.33 रुपए की बिजली ही खर्च होती है : रिपोर्ट

  • Share this:
    नई दिल्ली. एलपीजी (Liquefied Petroleum Gases) यानी रसोई गैस की बढ़ती कीमतों ने किचन का बजट बिगाड़ दिया है. दिल्ली में एलपीजी सिलेंडर के रेट 843 रुपए पर पहुंच गए हैं. लेकिन, आप भी दूसरे विकल्प अपनाकर महंगी एलपीजी से निजात पा सकते हैं.
    एलपीजी के मौजूदा दाम की तुलना यदि बिजली से चलने वाले इलेक्ट्रिक कूकर, इंडक्शन या इलेक्ट्रिक स्टोव से करें तो यह काफी सस्ते पड़ रहे हैं. यही नहीं, अब पीएनजी (Piped Natural Gas) भी एलपीजी से करीब 60 फीसदी सस्ती पड़ रही है. वर्ल्ड रिसोर्स इंस्टीट्यूट के एसोसिएट डायरेक्टर दीपक श्रीरामकृष्णन ने एलपीजी और बिजली खर्च का कैलकुलेशन किया है. उनके हिसाब से अब दिल्ली में एलपीजी की तुलना में इलेक्ट्रिक कुकिंग सस्ती है.
    यह भी पढ़ें :   नौकरी की बात : पसंदीदा कंपनियों में काम करने के लिए गूगल अलर्ट लगाएं, जानें जॉब्स पाने के ऐसे ही बेहतरीन तरीके

    इलेक्ट्रिक स्टोव पर पानी को गर्म करने की लागत 9.46 रुपए
    दीपक के कैलकुलेशन के मुताबिक बिजली की रेट 8 रुपए प्रति यूनिट आधार माना गया है. जबकि गैस सिलेंडर के दाम 843 रुपए लिए गए हैं. इस हिसाब से 10 लीटर पानी को उबालने में 10.15 रुपए की एलपीजी खर्च होती है. यदि इतना ही पानी इलेक्ट्रिक स्टोव पर गर्म किया जाए तो 9.46 रुपए की लागत आती है. वहीं, ये पानी इंडक्शन स्टोव के जरिए गर्म किया जाए तो यह खर्चा 8.33 रुपए ही आता है. ऐसे में अंदाजा लगा सकता है कि सिर्फ 10 लीटर पानी उबालने में ही कितना फर्क आ गया है. ऐसे में आप एक टाइम का खाना बनाने में ही काफी पैसे बचा सकते हैं. यही नहीं, जिन राज्यों में बिजली पर सब्सिडी मिल रही है. वहां यह खर्च और कम भी हो सकता है.
    महज छह महीने में 140 रुपए प्रति सिलेंडर महंगी हो गई गैस
    1 जुलाई, 2021 को रसोई गैस सिलिंडर की कीमत 140 रुपए बढ़ाकर 834 रुपए कर दी गई थी, जो पहले दिल्ली में 1 जनवरी को 694 रुपए थी. सरकार ने वर्ष 2020 में रसोई गैस पर दी जाने वाली सब्सिडी खत्म कर दी थी. इस वजह से उपभोक्ताओं को लगभग पूरी कीमत चुकानी पड़ रही है.
    यह भी पढ़ें :  इनकम टैक्स अलर्ट : फटाफट कर लें यह काम, नहीं तो रूक जाएगी आपकी सैलरी

    रसोई गैस महंगी होने का सीधा लाभ पीएनजी को मिलेगा
    रसोई गैस महंगी होने का सीधा लाभ पीएनजी को मिल सकता है और उपभोक्ता इसे अपनाने की तरफ आगे आने लगेंगे. इंडिया रेटिंग्स ऐंड रिसर्च में वरिष्ठ विश्लेषक भानु पाटनी के अनुसार रसोई गैस के दाम बढऩे के बाद एलपीजी और पीएनजी के बीच कीमतों का अंतर और बढ़ गया है. किलो कैलरी के स्तर पर तुलना करें तो पीएनजी एलपीजी के मुकाबले अब 60 प्रतिशत तक सस्ती हो गई है. इससे लोग अपने घरों में अब पीएनजी आपूर्ति व्यवस्था लाने के लिए अधिक दिलचस्पी दिखाएंगे. हालांकि बुनियादी सुविधाएं तैयार नहीं होने की वजह से पीएनजी गैस अधिक से अधिक लोगों तक पहुंचना फिलहाल मुमकिन नहीं लग रहा है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.