• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • बजट से पहले सरकार को राहत, चार महीने बाद कोर सेक्टर ग्रोथ में आई तेजी

बजट से पहले सरकार को राहत, चार महीने बाद कोर सेक्टर ग्रोथ में आई तेजी

अर्थव्यवस्था में सुस्ती खत्म होने के संकेत

अर्थव्यवस्था में सुस्ती खत्म होने के संकेत

कोर सेक्टर (Core Sector) के उत्पादन में चार महीने तक गिरावट आने के बाद दिसंबर में बढ़ोतरी दर्ज की गई है. दिसंबर में कोर सेक्टर की वृद्धि दर 1.3 फीसदी रही जबकि पिछले नवंबर में इसमें 0.6 फीसदी की गिरावट आई थी.

  • Share this:
    नई दिल्ली. बजट (Budget 2020) से पहले सरकार को बड़ी राहत मिली है. लगातार चार महीने कोर सेक्टर (Core Sector) ग्रोथ में गिरावट के बाद दिसंबर में बढ़ोतरी दर्ज की गई है. दिसंबर में कोर सेक्टर की वृद्धि दर 1.3 फीसदी रही जबकि पिछले नवंबर में इसमें 0.6 फीसदी की गिरावट आई थी. आठ बुनियादी क्षेत्रों में कोयला, कच्चा तेल, नेचुरल गैस, रिफाइनरी उत्पाद, फर्टिलाइजर्स, स्टील, सीमेंट तथा इलेक्ट्रिसिटी शामिल हैं.

    बजट से ठीक एक दिन पहले आई यह खबर सरकार के लिए राहत देने वाली है. इसके साथ ही भारतीय अर्थव्यवस्था सुस्ती के लंबे दौर में फंसने की आशंका भी खत्म होती नजर आ रही है. कोर सेक्टर में बढ़ोतरी के बावजूद यह आंकड़ा पिछले साल के दिसंबर से पीछे है. दिसंबर 2018 में कोर सेक्टर की वृद्धि दर 2.1 फीसदी रही थी.

    ये भी पढ़ें: सरकारी बैंकों ने टैक्‍सपेयर्स को किया कंगाल! 1 साल में डूबे 99 हजार करोड़ रुपये



    इन क्षेत्रों में उत्पादन में दिखी तेजी
    दिसंबर 2019 में कोर सेक्टर में कोयला, स्टील, सीमेंट और उर्वरक क्षेत्र में बढ़ोतरी दर्ज की गई. कोयला सेक्टर ग्रोथ -2.5 फीसदी से बढ़कर 6.1 फीसदी हो गई. इसके साथ ही सीमेंट आउटपुट ग्रोथ -0.1 फीसदी से बढ़कर 1.9 फीसदी, सीमेंट आउटपुट ग्रोथ 4.3 फीसदी से बढ़कर 5.55 फीसदी रही. इसके अलावा इलेक्ट्रिसिटी आउटपुट ग्रोथ -4.9 फीसदी से बढ़कर -1.6 फीसदी हो गई.

    ये भी पढ़ें: 1 फरवरी से होने जा रहे हैं ये 5 बदलाव! जान लें नहीं तो हो सकता हैं बड़ा नुकसान



    वहीं नेचुरल गैस, क्रूड ऑयल, रिफाइनरी में गिरावट रही. क्रूड ऑयल आउटपुट ग्रोथ -6 फीसदी से घटकर -7.4 फीसदी, नेचुरल गैस आउटपुट ग्रोथ -.64 फीसदी से घटकर -9.2 फीसदी, रिफाइनरी आउटपुट ग्रोथ 3.1 फीसदी से घटकर 3 फीसदी रही. दिसंबर 2019 में सबसे अच्छा प्रदर्शन उर्वरक सेक्टर का रहा. उर्वरक सेक्टर का उत्पादन दिसंबर 2019 में 10.2 फीसदी बढ़ा.

    4 महीने से कोर सेक्टर में थी गिरावट
    नवंबर 2019 में कोर सेक्टर में 0.6 फीसदी गिरावट रही थी. इसी तरह से कोर सेक्टर में अक्टूबर में 5.8 फीसदी, सितंबर में 5.1 फीसदी और अगस्त में 0.2 फीसदी गिरावट रही थी. चालू कारोबारी साल के पहले नौ महीने (अप्रैल-दिसंबर 2019) में कोर सेक्टर की औसत विकास दर 0.2 फीसदी रही.

    ये भी पढ़ें: इनकम टैक्स से मिल सकती है बड़ी राहत, सरकार के आर्थिक सर्वे से मिले संकेत

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज