RBI की चेतावनी: देशभर में बढ़ सकती है महंगाई! सप्लाई चेन होगी प्रभावित, बताई ये बड़ी वजह

CPI आधारित महंगाई मार्च में बढ़कर 5.5% हो गई जो फरवरी में 5% थी.

CPI आधारित महंगाई मार्च में बढ़कर 5.5% हो गई जो फरवरी में 5% थी.

भारत में कोरोनावायरस (Coronavirus Second wave) की दूसरी लहर थमने का नाम नहीं ले रही है. लगातार बढ़ते कोरोना के मामलों और लॉकडाउन की चर्चा के बीच भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने चेतावनी दी है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 27, 2021, 3:41 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. भारत में कोरोनावायरस (Coronavirus Second wave) की दूसरी लहर थमने का नाम नहीं ले रही है. लगातार बढ़ते कोरोना के मामलों और लॉकडाउन की चर्चा के बीच भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने चेतावनी दी है. RBI का कहना है कि कोरोना के मामले इसी तरह बढ़ते गए और पूरे देश में लॉकडाउन लगता है तो इसका असर सप्लाई चेन पर पड़ेगा. इससे महंगाई बढ़ सकती है. ये बातें भारतीय रिजर्व बैंक ने अपने इको स्टेट में कही हैं.

जानें क्या कहा RBI ने?

RBIका कहना है कि अगर कोरोना के बढ़ते मामले पर समय रहते काबू नहीं किया गया तो इससे सामान की आवाजाही पर लंबे समय तक प्रतिबंध लग सकता है जिसका असर सप्लाई चेन पर देखा जा सकेगा और अगर देश की सप्लाई चेन बिगड़ती है तो फ्यूल इनफ्लेशन बढ़ेगा जिससे पूरे देश में महंगाई बढ़ने का खतरा पैदा होगा. RBI के आंकड़ों के मुताबिक कंज्यूमर प्राइस इंडेक्स (CPI)आधारित महंगाई मार्च में बढ़कर 5.5% हो गई जो फरवरी में 5% थी. वहीं खाद्य और ईंधन की कीमतों में तेजी से महंगाई बढ़ी है.

Youtube Video

ये भी पढ़ें- Bank Privatisation से ग्राहकों को फायदा होगा या नहीं? RBI ने बनाया ये नया प्लान..

मई में महंगाई बढ़ने का खतरा

देश में कोरोना के मामले लगातार बढ़ रहे हैं जिसके चलते कई राज्यों में लाकडाउन समेत कई तरह की पाबंदिया लगाई गई है. इसके कारण आउटलुक में भारी अनिश्चितता व्याप्त हो गई है. इससे अप्रैल और मई में महंगाई बढ़ सकती है. दरअसल, कोरोना के लगातार बढ़ते मामलों के कारण देश की राजधानी दिल्ली में बीते 15 दिनों से लॉकडाउन लगा हुआ है. वहीं महाराष्ट्र जैसे बड़े राज्य में लॉकडाउन होने के कारण सप्लाई चेन प्रभावित हो रहा है. वही कई राज्यों में स्थानीय स्तर पर पाबंदी होने से भी आर्थिक गतिविधियों पर असर देखा जा रहा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज