लाइव टीवी

खुशखबरी! इन 4 सरकारी बैंकों का लोन हुआ सस्ता, घट जाएगी आपके होम-ऑटो लोन की EMI

News18Hindi
Updated: March 31, 2020, 1:09 PM IST
खुशखबरी! इन 4 सरकारी बैंकों का लोन हुआ सस्ता, घट जाएगी आपके होम-ऑटो लोन की EMI
SBI समेत इन 3 बैंकों में कर्ज हुआ सस्ता

सार्वजनिक क्षेत्र के यूनियन बैंक ऑफ इंडिया (UBI) ने अपनी रेपो रेट से जुड़ी लोन ब्याज दरों में 0.75 प्रतिशत की कटौती कर दी. इसके बाद बैंक की लोन ब्याज दरें 7.20% पर आ गयी हैं. बैंक ने यह निर्णय RBI के रेपो दर में 0.75% की कटौती का लाभ ग्राहकों तक पहुंचाने के लिए किया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 31, 2020, 1:09 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना वायरस महामारी (Coronavirus Pandemic) संकट को देखते हुए भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने 27 मार्च को रेपो रेट में 0.75 फीसदी की बड़ी कटौती की थी. इस कटौती का फायदा ग्राहकों तक पहुंचाने के लिए देश के चार सरकारी बैंकों ने लोन दरों में कटौती की है. सबसे पहले भारतीय स्टेट बैंक (SBI) ने ब्याज दरों में कटौती की घोषणा की. इसके बाद, बैंक ऑफ इंडिया (BOI), बैंक ऑफ बड़ौदा (BoB) ने लोन दरों में कटौती की. अब एक और सरकारी बैंक यूनियन बैंक ऑफ इंडिया (UBI) ने लोन ब्याज दरों में बड़ी कटौती का ऐलान किया है. यूनियन बैंक ऑफ इंडिया ने अपनी रेपो रेट से जुड़ी लोन ब्याज दरों में 0.75 प्रतिशत की कटौती की. लोन दरों में कटौती से अब इन बैंकों से होम लोन या आटो लाेन लेना सस्ता हो जाएगा.

यूनियन बैंक ऑफ इंडिया
सार्वजनिक क्षेत्र के यूनियन बैंक ऑफ इंडिया ने सोमवार को अपनी रेपो रेट से जुड़ी लोन ब्याज दरों में 0.75 प्रतिशत की कटौती कर दी. इसके बाद बैंक की लोन ब्याज दरें 7.20 प्रतिशत पर आ गयी हैं. बैंक ने यह निर्णय RBI के रेपो दर में 0.75 प्रतिशत की कटौती का लाभ ग्राहकों तक पहुंचाने के लिए किया है. बैंक ने एक बयान में कहा कि यह ब्याज दरें होम, ऑटो और पर्सनल लोन से लेकर सूक्ष्म, लघु और मध्यम (MSME) उद्योग ऋणों पर लागू होंगी. यह ब्याज दरें आंध्र बैंक और कॉरपोरेशन बैंक के ग्राहकों पर भी समान रूप से लागू होंगी, क्योंकि बुधवार से इन दोनों बैंक का यूनियन बैंक ऑफ इंडिया में विलय प्रभावी हो जाएगा.

ये भी पढ़ें: घटते ब्याज दर के दौर में यहां कराएं फिक्स्ड डिपॉजिट, मिलेगा बेहतर रिटर्न



SBI


RBI के ऐलान के तुरंत बाद SBI ने रेपो रेट में कटौती का फायदा अपने ग्राहकों को दिया. SBI ने एक्सटर्नल बेंचमार्क लेंडिंग रेट (EBR) और रेपो लिंक्ड लेंडिंग रेट (RLLR) में 0.75 फीसदी की कटौती की है. यह कटौती 1 अप्रैल 2020 से लागू होगी. इसके बाद अब SBI में EBR 7.80 फीसदी से घटकर 7.05 फीसदी सालाना हो गई है. RLLR 7.40 फीसदी से घटकर 6.65 फीसदी सालाना पर आ गई है. SBI द्वारा इन दोनों लेंडिंग रेट में कटौती के बाद इस बैंक से होम लोन (Home Loan) लेने वाले ग्राहकों को 30 साल की अवधि के होम लोन EMI में प्रति लाख 52 रुपये की कमी आएगी. ऐसे में अगर आपने SBI से 30 साल के लिए 30 लाख रुपये का लोन लिया है तो आपकी EMI 1,560 रुपये कम हो जाएगी.

बैंक ऑफ इंडिया
बैंक ऑफ इंडिया (Bank of India) ने रविवार को अपने ग्राहकों को बड़ा तोहफा दिया है. बैंक ऑफ इंडिया ने रिजर्व बैंक (RBI) द्वारा नीतिगत ब्याज दरों में कटौती का पूरा लाभ ग्राहकों को देने का फैसला किया है. BOI ने रविवार को एक्सटर्नल बेंचमार्क लेंडिंग रेट्स में 75 बेसिस प्वाइंट्स यानी 0.75 फीसदी की कटौती की है. इस कटौती के बाद एक्सटर्नल बेंचमार्क लेंडिंग रेट घटकर 7.25 फीसदी हो गया. लेंडर्स एक्सटर्नल बेंचमार्क लेंडिंग रेट RBI के रेपो रेट से लिंक्ड है. ब्याज दरों में यह कटौती 1 अप्रैल से प्रभावी होगी.

ये भी पढ़ें: कोरोना संकट : 50 लाख लोगों के भोजन की व्यवस्था करेगी रिलायंस इंडस्ट्रीज

बैंक ऑफ बड़ौदा
BOB ने सोमवार को बड़ौदा रेपो लिंक्ड लेंडिंग रेट (BRLLR) में 75 बेसिस प्वाइंट्स यानी 0.75 फीसदी की कटौती करने की घोषणा की. इस कटौती के बाद बैंक के रिटेल लोन, पर्सनल और माइक्रो स्मॉल एंड मीडियम इंटरप्राइजेज (MSMEs) की ब्याज दर घटकर 7.25 फीसदी हो गई. नई दरें 28 मार्च से लागू हो गईं. नए ग्राहकों को तुरंत फायदा मिलेगा, जबकि मौजूदा ग्राहकों के लिए दरों में कमी उनके लोन की रीसेट डेट से लागू होगी.

ये भी पढ़ें: सैलरी मिलने के बाद न करें कैश की चिंता, सरकार ने बैंकों दिया ये आदेश
First published: March 31, 2020, 12:44 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading