बड़ा झटका! मई में 1100 लोगों की छंटनी करने के बाद Swiggy ने फिर 350 स्टाफ की छुट्टी

बड़ा झटका! मई में 1100 लोगों की छंटनी करने के बाद Swiggy ने फिर 350 स्टाफ की छुट्टी
झटका! मई में 1100 लोगों की छंटनी करने के बाद Swiggy ने फिर 350 स्टाफ की छुट्टी

फूड डिलीवरी करने वाली कंपनी (Food ordering and delivery platform) स्विगी (Swiggy) ने एक बार फिर अपने कर्मचारियों की छंटनी करने का फैसला कर लिया है.

  • Share this:
नई दिल्ली. फूड डिलीवरी करने वाली कंपनी (Food ordering and delivery platform) स्विगी (Swiggy) ने एक बार फिर अपने कर्मचारियों की छंटनी करने का फैसला कर लिया है. घर पर खाना डिलिवरी करने वाली इस कंपनी को भी कोरोना वायरस (Coronavirus) की मार झेलनी पड़ी है. कंपनी ने मई महीने में 1100 कर्मचारियों को निकालने का फैसला किया था, जिसके बाद अब कंपनी ने एक बार फिर 350 कर्मचारियों को नौकरी से छंटनी का ऐलान किया है. कंपनी ने सोमवार को कहा कि कोरोना वायरस की वजह से उनके कारोबार पर काफी बुरा असर पड़ा है.

मई में 1,100 कर्मचारियों की छंटनी की थी
Swiggy ने सोमवार को 350 कर्मचारियों को हटाने की घोषणा करते हुए कहा कि यह कंपनी की कोविड-19 संकट के चलते मई से चल रही कर्मचारियों की हटाने की योजना का हिस्सा है. Swiggy ने मई में मुख्यालय और विभिन्न शहरों में कई स्तर के करीब 1,100 कर्मचारियों की छंटनी की थी. कंपनी ने कोरोना संकट के दौर में अपने संसाधनों को पुन:व्यवस्थित करने की प्रक्रिया के तहत यह कदम उठाया था. कंपनी ने एक बयान में कहा कि उसके बाजार में कारोबार आधा रह गया है. दुर्भाग्य से संसाधन व्यवस्थित करने की इस आखिरी कार्रवाई में उसे और 350 कर्मचारियों की छंटनी करनी पड़ रही है.

ये भी पढ़ें:- 25-30 साल की है उम्र तो शुरू करें ये काम बन जाएंगे करोड़पति, सेफ है Investment
दो महीने पहले से चल रही कर्मचारियों को हटाने की योजना


फूड ऑर्डरिंग एंड डिलीवरी प्लेटफॉर्म Swiggy ने सोमवार को कहा कि 350 कर्मचारियों की छंटनी कंपनी की कोरोना संकट के चलते मई से चल रही कर्मचारियों की हटाने की योजना का हिस्सा है. कंपनी ने बयान में कहा कि हम अपने कर्मचारियों के प्रति पूरी तरह सम्मान और करुणा की भावना रखते हैं. बता दें कि इससे पहले मई महीने में कंपनी के CEO व सह संस्थापक श्री हर्ष मजेटी (Sriharsha Majety) ने एक ईमेल के जरिए 1100 कर्मचारियों के छंटनी की जानकारी दी थी.

ये भी पढ़ें:- चीन को झटका! भारत में सामान भेजना होगा ज्यादा मुश्किल, मार्च से लागू होगा रूल

कोविड-19 ने कंपनी को तोड़कर रख दिया
श्रीहर्ष मजेटी ने कहा था कि आज स्विगी के लिए सबसे दुखद दिन है, क्योंकि हमें कर्मचारियों की दुर्भाग्यपूर्ण छंटनी के दौर से गुजरना है. उन्होंने कहा कि कोविड-19 ने कंपनी को तोड़कर रख दिया है और अभी भी सिर्फ अनिश्चितता बनी हुई है. इस वजह से उसे मजबूरन आगे के लिए कड़े कदम उठाने पड़ रहे हैं. हमें अपनी लागत कम करनी है और आगे की अनिश्चितताओं को देखते हुए किसी भी जोखिम से बचना है. अगले 18 महीने के दौरान व्यवसाय में उथल-पुथल की आशंका के चलते कंपनी अपने कारोबार का स्तर कम रही है. साथ ही जुड़े हुए अन्य कारोबार बंद कर रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading