Home /News /business /

Real Estate सेक्‍टर पर पड़ी कोविड-19 की मार, आधी रह गई मकानों की बिक्री, 10 करोड़ वाले घर ज्‍यादा बिके

Real Estate सेक्‍टर पर पड़ी कोविड-19 की मार, आधी रह गई मकानों की बिक्री, 10 करोड़ वाले घर ज्‍यादा बिके

कोरोना संकट के कारण 2020 में माकानों की बिक्री 47 फीसदी कम रह गई.

कोरोना संकट के कारण 2020 में माकानों की बिक्री 47 फीसदी कम रह गई.

एनारॉक प्रॉपर्टी कंसल्‍टेंट्स (ANAROCK Property Consultants) के डाटा के मुताबिक, वर्ष 2020 के दौरान देश के 7 प्रमुख शहरों में घरों की बिक्री (Property Sell) 47 फीसदी कम हो गई है. आंकड़ों के मुताबिक, 2019 में इन शहरों में 2.61 लाख बिके थे. वहीं, इस साल सिर्फ 1.38 लाख घरों (Homes) की बिक्री हो पाई है.

अधिक पढ़ें ...
    नई दिल्‍ली. देश के रियल एस्‍टेट सेक्‍टर (Real Estate Sector) पर कोरोना संकट की बुरी मार पड़ी है. इस साल 7 प्रमुख शहरों में केवल 1.38 लाख घरों की बिक्री (Sales of Houses) हो पाई, जबकि 2019 में इन्हीं शहरों में 2.61 लाख घरों की बिक्री हुई थी. एनारॉक प्रॉपर्टी कंसल्‍टेंट्स (Anarock Property Consultants) के आंकड़ों के मुताबिक, 2020 में घरों की बिक्री करीब 47 फीसदी घट गई है. आंकड़ों के मुताबिक, पिछले साल 2.37 लाख नये घर बनाए (Construction) गए थे, जबकि इस बार 1.28 लाख नए घरों का ही निर्माण हुआ.

    घरों की संख्‍या में दर्ज हुआ 2 फीसदी का इजाफा
    एनारॉक की रिपोर्ट के मुताबिक, 2020 रियल एस्टेट सेक्टर के लिए उतार-चढ़ावों से भरा रहा है. हालांकि, कोरोना संकट के बीच वित्‍त वर्ष 2020-21 की चौथी तिमाही के दौरान इस सेक्टर के लिए अच्छे दिन लौटने और बड़े पैमाने पर घरों की बिक्री की उम्‍मीद जताई जा रही है. एनारॉक के मुताबिक, देश के 7 प्रमुख शहरों में 2019 की चौथी तिमाही के 51,850 घरों के मुकाबले 2020 की चौथी तिमाही में 52,820 घर बने. सालाना आधार पर घरों की संख्या में 2 फीसदी का इजाफा हुआ है. हैदराबाद में अन्य शहरों के मुकाबले चालू तिमाही में 12,830 घरों का पंजीकरण हुआ.

    ये भी पढ़ें- यात्रीगण कृपया ध्‍यान दें...Indian railways जल्‍द शुरू कर रहा है 24 स्पेशल ट्रेनें, देखें पूरी लिस्ट

    महंगे घरों की बिक्री में इस साल हुई है बढ़ोतरी
    मुंबई 11,910 घरों के रजिस्‍ट्रेशन के साथ दूसरे नंबर पर रहा. वहीं, शहरों में नये घरों की संख्या में इजाफा होने के कारण नहीं बिके घरों की संख्या में सालाना आधार पर 2 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई. हालांकि, प्रमुख अंतरराष्ट्रीय संपत्ति सलाहकार नाइट फ्रैंक इंडिया के मुताबिक, मुंबई में 10 करोड़ रुपये से अधिक मूल्य वाले घरों की बिक्री में वृद्धि हुई है. आंकड़ों के अनुसार, मुंबई में 1-17 दिसंबर 2020 के बीच महंगी आवासीय संपत्तियों की 116 यूनिट्स बिकीं. बता दें कि महाराष्ट्र सरकार ने हाल में स्टांप ड्यूटी को 3 फीसदी घटा दिया था. अक्टूबर 2020 में हाई-एंड हाउसिंग यूनिट्स की सबसे ज्यादा 50 यूनिट बिक्री हुई.

    ये भी पढ़ें- Gold Price Today: गोल्‍ड के दाम में तेजी, चांदी हजार रुपये से ज्‍यादा हुई महंगी, चेक करें नई कीमतें

    आखिरी 4 महीनों में हुई महंगे मकानों की बिक्री
    महंगी आवासीय इकाइयों की बिक्री में 2020 की दूसरी छमाही में बढ़ोतरी हुई है. इस साल 17 दिसंबर तक 10 करोड़ रुपये से ज्‍यादा कीमत वाली 240 यूनिट्स की बिक्री हुई. इस तरह के मकानों की लगभग आधी बिक्री साल के आखिरी 4 महीनों में हुई. प्रॉपर्टी एडवायजर के मुताकि, 1 सितंबर से 17 दिसंबर 2020 की अवधि में बेची गई प्रमुख आवासीय संपत्तियों का औसत मूल्य 19.33 करोड़ रुपये से अधिक दर्ज किया गया.undefined

    Tags: Business news in hindi, Indian real estate sector, Price of any property, Property market, Property value, Real estate market

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर