अपना शहर चुनें

States

Corona Impact: बैंक कर रहे 'ग्रुप हेल्थ कवर' पॉलिसी की पेशकश, जानिए इनकम टैक्‍स छूट समेत इसकी तमाम खूबियां

कई बैंक अपने ग्राहकों को ग्रुप हेल्‍थ कवर पॉलिसी उपलब्‍ध करा रहे हैं.
कई बैंक अपने ग्राहकों को ग्रुप हेल्‍थ कवर पॉलिसी उपलब्‍ध करा रहे हैं.

बैंकों की ओर से पेश की जा रही ग्रुप हेल्‍थ कवर पॉलिसी (Group Health Cover Policy) में पहले दिन से कवरेज मिलेगा. साथ ही इनकम टैक्‍स एक्‍ट (IT Act) के सेक्‍शन-80D के तहत टैक्‍स छूट (Tax Exemption) का लाभ भी मिलेगा. इसके लिए ग्राहक का बैंक में अकाउंट (Bank Account) होना जरूरी है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 1, 2020, 10:50 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. कोरोना वायरस (Coronavirus) को लेकर लोग अब काफी सचेत हो गए हैं. लोगों ने अपने परिवार के सुरक्षित भविष्य के लिए टर्म प्लान (Term Plan), हेल्‍थ इंश्‍योरेंस (Health Insurance) जैसी बीमा पॉलिसी (Insurance Policy) ले लिए हैं. लोगों ने अस्पतालों के बड़े-बड़े बिल से बचने के लिए हेल्थ इंश्योरेंस लिया है. मौजूदा स्थिति में 60 साल से अधिक उम्र के लोगों के लिए हेल्थ इंश्योरेंस भी बहुत जरूरी हो गया है. ऐसे में इस वर्ग के लिए बैंक ग्रुप हेल्थ कवर (Group Health Cover) की पेशकश कर रहे हैं. इसमें पॉलिसीधारकों को कम प्रीमियम (Premium) भरने की सुविधा दी जा रही है. साथ ही इसमें इनकम टैक्स एक्‍ट के सेक्शन-80D के तहत टैक्‍स लाभ (Tax Exemption) भी शामिल हैं.

बैंक की ओर से पेश किए जा रहे 'ग्रुप हेल्थ इंश्योरेंस' विशेषताएं
>> इस योजना का कवरेज बीमा कंपनी की ओर से तय किया जाता है, जो व्यक्तिगत आधार पर कस्टमाइज नहीं किया जा सकता है. कुछ बैंक इस पॉलिसी में ऐसा करने की अनुमति दे रहे हैं.

>>'ग्रुप हेल्थ इंश्योरेंस' योजना में पॉलिसीधारक को उस बैंक अकाउंट से प्रीमियम का भुगतान करना होगा, जिससे वह इनकम टैक्स एक्‍ट के सेक्सन-80D के तहत टैक्‍स बेनिफिट ले रहा है.
ये भी पढ़ें- अब रिटेल इंवेस्‍टर्स Paytm मनी से IPO में कर सकते हैं निवेश, आवेदन प्रक्रिया हुई आसान, जानें सबकुछ



>> बैंक सिर्फ उन्हीं ग्राहकों को ग्रुप हेल्थ इंश्योरेंस की सुविधा दे रहा है, जिसका पहले से ही उनके बैंक में खाता है. जब तक ग्राहक का बैंक में खाता चालू है, तब तक वह इस प्लान को जारी रख सकते हैं.

>> योजना में ग्राहकों को पर्सनल हेल्थ पॉलिसी के मुकाबले ग्रुप हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी में कम प्रीमियम (Low Premium) दर ऑफर की जा रही है. इससे ग्राहकों पर प्रीमियम का दवाब कम पड़ेगा.



ये भी पढ़ें- मोदी सरकार की बड़ी सफलता! गूगल, फेसबुक, ट्विटर भारत में ही रखेंगे आपका डाटा, इस शहर में बनेगा यूपी का पहला सेंटर

>> वहीं, यह पॉलिसी बिना वेटिंग पीरियड (No Waiting Period) के ग्राहकों को पहले दिन से ही मौजूदा स्थितियों को कवर करती है, जबकि ऐसी सुविधा कई पर्सनल हेल्थ पॉलिसी में नहीं है.

>> 'ग्रुप हेल्थ इंश्योरेंस' पॉलिसी में ग्राहकों को इसके आवेदन के लिए प्री-मेडिकल चेकअप की जरुरत (No Pre-Medical Checkup) नहीं है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज