बड़ी खबर : कोरोना के इस संकट में UBER ने हमेशा के लिए बंद किया अपना मुंबई ऑफिस-सूत्र

बड़ी खबर : कोरोना के इस संकट में UBER ने हमेशा के लिए बंद किया अपना मुंबई ऑफिस-सूत्र
कई शहरों में शुरू हुई Uber पैसेंजर्स-ड्राइवर्स की सुरक्षा के लिए नए नियम बनाए है

CNBCTV18 को सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, ऐप बेस्ड टैक्सी सर्विस देने वाली अमेरिकी कंपनी उबर (UBER) ने भारत में अपना मुंबई ऑफिस बंद करने का फैसला किया है.

  • Share this:
नई दिल्ली. देशव्यापी लॉकडाउन (Coronavirus Lockdown) के कारण काफी नुकसान झेलने के बाद कई कंपनियों ने अपने ऑफिस या तो किराए पर दे दिये या फिर बंद कर दिया. CNBCTV18 को सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, ऐप बेस्ड टैक्सी सर्विस देने वाली अमेरिकी कंपनी उबर (UBER) ने भारत में अपना मुंबई ऑफिस बंद करने का फैसला किया है. आपको बता दें कि बीते दिनों फूड डिलीवरी कंपनियां, आतिथ्य क्षेत्र की कंपनियां और मिड स्टेज की स्टार्टअप कंपनियों ने अपने कई ऑफिस या तो बंद कर दिए या फिर उन्हें किराए पर दे दिया. कंपनियों के अधिकारियों और रियल एस्टेट डेवलपर्स के मुताबिक कंपनियां अपने किराए में औसतन एक तिहाई की कमी करना चाह रही हैं.



खर्चों में कटौती के लिए उबर कर चुका हैं छंटनी- कोरोना वायरस (Coronavirus Covid 19) संकट के इस दौर में UBER ने अपने 14 फीसदी यानी 3700 कर्मचारियों को निकाल दिया है. बीते महीने उबर ने इन कर्मचारियों को जूम के जरिए वीडियो कॉल कर कहा था कि कोविड-19 महामारी एक बहुत बड़ी चुनौती बन गया है. इससे बचने के लिए उबर ने कर्मचारियों से कहा कि वह अब उनकी जरूरत नहीं.
ये भी पढ़ें :- 90 रुपये प्रति किलो तक पहुंचा टमाटर का दाम, आलू और हरी सब्जियां भी महंगी
 मोबाइल ऐप से टैक्सी बुक करने की सुविधा देने वाली कंपनी उबर को चालू कैलेंडर वर्ष की पहली तिमाही यानी जनवरी से मार्च में 2.9 अरब डॉलर का घाटा हुआ है. कंपनी को पहली तिमाही में 3.54 अरब डॉलर की आय हुई. पिछले साल की समान अवधि के मुकाबले यह 14 फीसदी ज्यादा है. वहीं फूड डिलीवरी कारोबार की आय 53 फीसदी बढ़ी है, क्योंकि लॉकडाउन में घर बैठे लोगों ने ज्यादा फूड ऑर्डर किया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज