होम /न्यूज /व्यवसाय /लॉकडाउन के दौरान प्रधानमंत्री ने कही बड़ी बात-किसी को नौकरी से न निकालें...

लॉकडाउन के दौरान प्रधानमंत्री ने कही बड़ी बात-किसी को नौकरी से न निकालें...

पीएम मोदी ने 3 मई तक लॉकडाउन जारी रखने का किया ऐलान.

पीएम मोदी ने 3 मई तक लॉकडाउन जारी रखने का किया ऐलान.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister of India) ने लॉकडाउन (Lockdown Part-2) को 3 मई तक बढ़ा दिया है. प्रधानमंत्री ...अधिक पढ़ें

    नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने मंगलवार को कोरोना वायरस (Coronavirus) के चलते 24 मार्च को लगाए गए 21 दिन के राष्ट्रीय लॉकडाउन के आखिरी दिन देश को संबोधित किया. इस दौरान प्रधानमंत्री ने लॉकडाउन पार्ट 2 को लेकर बड़ा ऐलान किया. पीएम मोदी ने लॉकडाउन को 3 मई तक बढ़ा दिया है. प्रधानमंत्री ने कहा, 'अपने व्यवसाय और साथ काम करने वालों के प्रति संवेदना रख किसी को नौकरी से न निकालें.' प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के माध्यम से सरकार ने जरूरतमंदों की मदद करने का हरसंभव प्रयास किया है. नई गाइडलाइंस बनाते समय भी उनका पूरा ध्यान रखा गया है.

    पीएम ने कहा, 'पूरी निष्ठा के साथ 3 मई तक लॉकडाउन के नियमों का पालन करें, जहां हैं, वहां रहें, सुरक्षित रहें. वयं राष्ट्रे जागृयाम,” हम सभी राष्ट्र को जीवंत और जागृत बनाए रखेंगे.

    सरकार की ओर से कंपनियों के लिए एडवाइजरी जारी
    पीएम मोदी ने पहले लॉकडाउन में ही कंपनियों को लोगों को नौकरी से नहीं निकालने के लिए एडवाइजरी जारी की थी. लॉकडाउन के चलते कई निजी और सरकारी संस्थाओं के कर्मचारी अपने अपने दफ्तर नहीं जा पा रहे हैं. ऐसे में उन्हें नौकरी जाने का डर भी सता रहा है. इस मामले को देखते हुए श्रम मंत्रालय (Ministry of Labour) ने कंपनियों के लिए एडवाइजरी जारी की है. श्रम मंत्रालय से जुड़ी जानकारी को EPFO एसएमएस के जरिए खाताधारकों और कंपनियों तक पहुंचा रहा है.

    ये भी पढ़ें: SBI ने खाताधारकों को किया अलर्ट! इस वेबसाइट से रहें सावधान वरना हो जाएंगे कंगाल

    आपको बता दें कि ईपीएफओ ने ईपीएस पेंशनर्स की पेंशन समय पर देने का निर्देश दिया है. कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) ने कोरोना वायरस महामारी को देखते हुए ईपीएस (कर्मचारी पेंशन योजना) के तहत आने वाले 65 लाख पेंशनभोगियों को समय पर मासिक पेंशन का भुगतान करने का निर्देश दिया है.

    क्या है सरकार की एडवाइजरी
    केंद्र सरकार ने सभी राज्यों को एक एडवाइजरी जारी की है. इसमें कहा गया है कि कोरोना वायरस या कोविड-19 की वजह से कर्मचारियों को नौकरी से न हटाया जाए और न ही उनकी सैलरी काटी जाए. श्रम एवं रोजगार मंत्रालय के सचिव की ओर से ये एडवाइजरी जारी की गई है. अगर कोई कर्मचारी कोरोना वायरस संकट के कारण छुट्टी लेता है तो भी उसके ड्यूटी पर आने जैसा ही माना जाए और इसके तहत उसकी सैलरी नहीं काटी जाए. इसके अलावा अगर कोई दफ्तर इस आफत के कारण बंद होता है तो ये माना जाए कि उसके कर्मचारी ड्यूटी पर हैं.

    ये भी पढ़ें: कोरोना हो या कोई और बीमारी सरकार करा रही है इस स्कीम के तहत मुफ्त में इलाज!

    Tags: Coronavirus, Coronavirus in India, Lockdown, Modi government

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें