लाइव टीवी

अब सिर्फ 20 मिनट में होगी Coronavirus की टेस्टिंग, Lab जाकर जांच कराने की नहीं होगी जरूरत

hindi.moneycontrol.com
Updated: May 22, 2020, 4:51 PM IST
अब सिर्फ 20 मिनट में होगी Coronavirus की टेस्टिंग, Lab जाकर जांच कराने की नहीं होगी जरूरत
कोरोना वायरस वैक्सीन का ह्यूमन ट्रायल शुरू

कोरोना की टेस्टिंग को लेकर भी विश्व को कठिनाईयों का सामना करना पड़ा है. ऐसे में इंग्लैंड से राहत की खबर आ रही है कि अब सिर्फ 20 मिनट में कोरोना संक्रमण की जांच हो सकेगी और संक्रमित व्यक्ति का इलाज शुरू करके उसे आइसोलेशन में रखा ज सकता है.

  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना महामारी ने पूरे विश्व और महाशक्तियों को घुटने टेकने पर मजबूर कर दिया है. इससे बचने के लिए दुनिया भर की सरकारों ने अपने यहां लॉकडाउन लागू किया और कोरोना को रोकने की भरसक कोशिश की है. कोरोना की टेस्टिंग को लेकर भी विश्व को कठिनाईयों का सामना करना पड़ा है. ऐसे में इंग्लैंड से राहत की खबर आ रही है कि अब सिर्फ 20 मिनट में कोरोना संक्रमण की जांच हो सकेगी और संक्रमित व्यक्ति का इलाज शुरू करके उसे आइसोलेशन में रखा ज सकता है.

इंग्लैंड के स्वास्थ्यमंत्री ने कहा कि ये टेस्ट पहले के टेस्ट की तुलना में अलग है. इस टेस्ट को पीसीआर टेस्ट कहते हैं और इस टेस्ट को लैब में करने की जरूरत नहीं है. इस टेस्ट में केवल 20 मिनट में रिजल्ट आ जायेगा. इसकी क्लीनिकल टेस्टिंग सफल होने के कारण इंग्लैंड में बड़े पैमाने पर ये टेस्ट किये जाने वाले हैं. गरीब और जरूररमंद लोगों की जांच मुफ्त में की जायेगी.

ये भी पढ़ें: RBI के फैसले से आम आदमी को लग सकता है बड़ा झटका, कम हो सकता है FD पर मुनाफा



इंग्लैंड के स्वास्थ्य मंत्री मैट हैनकॉक के अनुसार कोरोना की स्वैब टेस्टिंग करने के बाद उसकी रिपोर्ट आने में कुछ दिनों का समय लगता है. लिहाजा मरीज के इलाज में विलंब होता है. लेकिन अब ऐसा नहीं होगा. इंग्लैंड के राष्ट्रीय स्वास्थ्य सेवा के कर्मचारियों की ऐंटीबॉडी टेस्टिंग की जाने वाली है. अगले हफ्ते से ये टेस्टिंग की जायेगी ऐसा उन्होंने बताया है.



इस टेस्ट में मिल सकती है कोरोना की जानकारी
महाराष्ट्र टाइम्स में छपी खबर के मुताबिक एंटीबॉ़डी टेस्ट में संबंधित व्यक्ति के अंदर कोरोना संक्रमण है या नहीं, संक्रमण के बाद उसके शरीर में एटीबॉडी विकसित हुई है या नहीं, इसकी जानकारी इस टेस्ट से मिलती है. जबकि स्वैब जांच में व्यक्ति को कोरोना संक्रमण है या नहीं सिर्फ यही जानकारी मिलती है.

ये भी पढ़ें: PM Kisan-गांव लौटे मजदूरों के खाते में भी आएंगे पीएम किसान स्कीम के 6000 रुपये

कोरोना के प्रकोप के चलते ज्यादा से ज्यादा देशों में नागरिकों की टेस्टिंग करना जरूरी हो गया है. कोरोना की टेस्टिंग में उसकी रिपोर्ट आने में देरी होती है जिससे संक्रमण के और अधिक फैलने का खतरा बना रहता है. लेकिन इस नई टेस्टिंग अब सिर्फ 20 मिनट में कोरोना संक्रमित की पहचान हो सकेगी.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 22, 2020, 4:47 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading