लाइव टीवी

शेयर बाजार की भारी गिरावट से एक्शन में आई सरकार, राहत देने के लिए हो सकते है बड़े ऐलान

News18Hindi
Updated: March 12, 2020, 2:00 PM IST

CNBC-आवाज़ को सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, बाजार में स्थिरता लाने के लिए RBI और सरकार में बातचीत शुरू हो गई है. कोरोना वायरस से जिन सेक्टर्स के कारोबार पर असर पड़ा है, उन्हें मदद मिलेगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 12, 2020, 2:00 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना वायरस (Corornavirus) से बाजार में जान डालने के लिए भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) और सरकार (Government) एक्शन में आ गई है. CNBC-आवाज़ को सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, बाजार में स्थिरता लाने के लिए RBI और सरकार में बातचीत शुरू हो गई है. कोरोना वायरस से जिन सेक्टर्स के कारोबार पर असर पड़ा है, उन्हें मदद मिलेगी. सूत्रों के मुताबिक, कुछ सेक्टर्स के लिए रिपेमेंट नियम आसान किए जाएंगे. वहीं, सरकार और RBI मिलकर लिक्विडिटी की मदद देंगे. बता दें कि कोरोना वायरस के मामले बढ़ने की चिंता से भारतीय शेयर बाजार में भारी गिरावट का दौर जारी है. गुरुवार की सुबह खुलते ही सेंसेक्स में 2500 अंक से ज्यादा की गिरावट देखने को मिली है. वहीं, निफ्टी 760 अंक से ज्यादा गिर गया है.

निवेशकों के 9.82 लाख करोड़ रुपये साफ
शेयर बाजारों में गिरावट दुनिया में कोरोना की वजह से रुकी आर्थिक गतिविधियों से आ रही है. इस गिरावट में निवेशकों को 9.82 लाख करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है. अमेरिकी बाजार कोरोना वायरस से घबरा गए हैं. बुधवार के कारोबार में डाओ जोंस 1460 अंक फिसल गया था. डाओ बुधवार को अपनी रिकॉर्ड ऊंचाई से 20 फीसदी नीचे आ गया था. इसके साथ ही नैस्डैक और एसएंडपी 500 भी 5 फीसदी तक गिरे थे. ये भी पढ़ें: Yes Bank के बाद अब इन 3 बैंकों पर भी गहरा सकता है संकट, जानिए पूरा मामला?





नकदी बढ़ाने पर जोर
सूत्रों के मुताबिक, सरकार और आरबीआई प्रभावित सेक्टर्स में नकदी बढ़ाने पर जोर देगी, सप्लाई चेन बाधित होने पर राहत देने का फैसला किया गया है. लोन देने की शर्तों में ढील दी जा सकती है. अगर उन सेक्टर्स की कंपनियां कोरोना वायरस की वजह से या एक्सपोर्ट-इम्पोर्ट में गिरावट की वजह से लोन चुकाने में नाकाम हैं तो उनको एनपीए घोषित करने में थोड़ी सी नरमी बरती जाए.

ऐसे करीब पांच सेक्टर्स की पहचान भी की गई है. उन पांचों सेक्टर पर प्रधानमंत्री के सामने प्रेजेंटेशन भी दिया जा चुका है. फार्मा, ऑटो, मोबाइल, इलेक्ट्रॉनिक मैन्युफैक्चरिंग और एक्सपोर्ट सेक्टर, ये पांच सेक्टर्स पर सरकार का ज्यादा फोकस है. इनके लिए बहुत जल्द आरबीआई की तरफ से बड़े कदम उठाए जा सकते हैं.

 

ग्लोबल मार्केट में भारी गिरावट
अमेरिकी बाजार कोरोना वायरस से घबरा गए हैं. बुधवार के कारोबार में डाओ जोंस 1460 अंक फिसल गया था. डाओ बुधवार को अपनी रिकॉर्ड ऊंचाई से 20 फीसदी नीचे आ गया था. इसके साथ ही नैस्डैक और एसएंडपी 500 भी 5 फीसदी तक गिरे थे. वहीं, एशियाई शेयर बाजार औंधे मुंह गिर गए. टोक्यो में 5 फीसदी से ज्यादा, हांगकांग में 3.8 फीसदी और सिडनी में लगभग 7 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई. बैंकॉक शेयर बाजार लगभग 8 फीसदी नीचे चला गया. सियोल, वेंलिंगटन, मुंबई शेयर बाजार और ताइपे में लगभग 4 फीसदी की गिरावट देखी गई. जबकि सिंगापुर और जकार्ता में 3 प्रतिशत से ज्यादा की कमी आई. शंघाई शेयर बाजार में 1.3 फीसदी की गिरावट आई.

ये भी पढ़ें: 

EPFO ने 64 लाख Pensioners को दिया तोहफा! लाइफ सर्टिफिकेट जमा करने के बदले नियम
किसानों के खाते में कब आएंगे स्कीम के 6000 रुपये, अब घर बैठे ऐसे जानिए पीएम किसान से जुड़ी सभी जानकारियां

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 12, 2020, 1:29 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर