अगर सफल हुई कोरोना वैकसीन! तो दुनिया की सबसे बड़ी कंपनी बन सकती है AstraZeneca

अगर सफल हुई कोरोना वैकसीन! तो दुनिया की सबसे बड़ी कंपनी बन सकती है AstraZeneca
AstraZeneca के शेयर में आया जोरदार उछाल

कोरोना की वैकसीन पर काम कर रही ब्रिटिश कंपनी अस्ट्राजेनेका दुनिया की सबसे बड़ी फार्मा कंपनी बन सकती है.

  • Share this:
नई दिल्ली. दवा निर्माता कंपनी अस्ट्राजेनेका दुनिया की सबसे बड़ी फार्मा कंपनी बन सकती है, क्योंकि यह अपनी प्रतिद्वंद्वी औषधि कंपनी गिलियड के साथ विलय पर विचार कर रही है. मामले की जानकारी रखने वाले सूत्रों से यह जानकारी मिली है. इसीलिए इस दवा कंपनी AstraZeneca के शेयरों में दो महीने में जोरदार तेजी आई है. शेयर ने 24% की छलांग लगाई है. कंपनी ने Covid-19 के टीके को तैयार करने के लिए सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के साथ करार की घोषणा की है.  आपको बता दें कि यह टीका ऑक्सफॉर्ड युनिवर्सिटी (Oxford University) के साथ मिलकर तैयार किया जा रहा है और अभी इसका ट्रायल चल रहा है. भारतीय सहायक कंपनी के एक प्रवक्ता ने कहा कि यह टीका ब्रिटेन के कैंब्रिज में अपने मुख्यालय में किया जा रहा है, लेकिन कंपनी की वैक्सीन की टेस्टिंग को लेकर अभी तक कोई बात नहीं हो पाई है.

निवेशकों ने जमकर कमाई- पिछले दो महीने से एनएसई (नेशनल स्टॉक एक्सचेंज) पर कंपनी का शेयर जोरदार तेजी दिखा रहा है. इसमें 24 फीसदी की तेजी आई है. एक्सपर्ट्स को आगे भी इसमें तेजी की उम्मीद नज़र आ रही है. हालांकि, शुक्रवार को शेयर 3.5 फीसदी गिरकर 3,209.95 रुपये के भाव पर बंद हुआ.

एक्सपर्ट्स का कहना, उछल की वजह कोविड-19 वैक्सीन-एक घरेलू ब्रोकरेज के एक्सपर्ट्स का कहना है कि AstraZeneca इंडिया के शेयर की बढ़ोत्तरी की मुख्य वजह इसकी पेरेंट कंपनी द्वारा बनाई जा रही कोविड-19 की वैक्सीन है. IOCD-AWACS के डेटा के अनुसार, पिछले 12 महीने में मई के अंत तक AstraZeneca इंडिया ने 667 करोड़ की बिक्री देखी गई, 8.7% की ग्रोथ रेट से जबकि इंडस्ट्री सेक्टर में औसत 6.4% की ग्रोथ ही दर्ज की गई और सेल्स मार्केट शेयर की तुलना में 0.5% कम रहा.



अगर यह वैक्सीन सफल होती है तो 2020 के अंत तक इसके एक अरब डोज तैयार किए जाएंगे और इसके लिए उसने सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के साथ लाइसेंसिंग डील करने पर सहमति जताई है. ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय वर्तमान में लगभग 10,000 स्वयंसेवकों साथ स्टेज 2 और 3 पर ट्राइल चल रहा है.
बन सकती है दुनिया की सबसे बड़ी कंपनी- दुनिया की सबसे बड़ी फार्मा कंपनी दवा निर्माता कंपनी अस्ट्राजेनेका दुनिया की सबसे बड़ी फार्मा कंपनी बन सकती है, क्योंकि यह अपनी प्रतिद्वंद्वी औषधि कंपनी गिलियड के साथ विलय पर विचार कर रही है. मामले की जानकारी रखने वाले सूत्रों से यह जानकारी मिली है. अगर ऐसा हुआ तो यह हेल्थकेयर सेक्टर में अब तक की सबसे बड़ी डील होगी.

ब्लूमबर्ग की एक रिपोर्ट के मुताबिक, पहचान जाहिर न करने की शर्त पर एक सूत्र ने बताया कि ब्रिटेन की कंपनी आस्ट्राजेनेका ने पिछले महीने संभावित समझौते को लेकर ग्लियड से बातचीत की थी.

ये भी पढ़ें : खुशखबरी! रिकॉर्ड स्तर पर पहुंचा देश का विदेशी मुद्रा भंडार, RBI ने दी जानकारी
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज