लाइव टीवी

बजट में कंपनियों को मिलेगी बड़ी राहत! कॉर्पोरेट टैक्स में एक बार और हो सकती है इतनी कटौती

News18Hindi
Updated: January 10, 2020, 2:45 PM IST

CNBC-AWAAZ को सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक़ नई कंपनी अगर 5 साल के अंदर उत्पादन शुरू करती है तो भी उसे 15 फीसदी कॉरपोरेट टैक्स का फायदा मिल सकता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 10, 2020, 2:45 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. 1 फरवरी 2020 को पेश होने वाले आम बजट में केंद्र सरकार, नई कंपनियों को कॉर्पोरेट टैक्स (Corporate Tax cut soon) में राहत देने का ऐलान कर सकती है. CNBC-AWAAZ को सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक़ नई कंपनी अगर 5 साल के अंदर उत्पादन शुरू करती है तो भी उसे 15 फीसदी कॉरपोरेट टैक्स का फायदा मिल सकता है. आपको बता दें कि पिछले साल केंद्र सरकार ने कॉरपोरेट टैक्स में बड़ी कटौती की थी. सरकार ने कॉरपोरेट टैक्स को 30 फीसदी से घटाकर 22 फीसदी किया है.

कॉरपोरेट टैक्स कंपनियों पर लगाया जाता है. यह किसी प्राइवेट, लिमिटेड, लिस्टेड व अनलिस्टिड सभी तरह की कंपनियों पर लगाया जाता है.कॉरपोरेट टैक्स सरकार के हर साल के रेवेन्यू का एक अहम जरिया होता है.

कॉरपोरेट टैक्स में कटौती की तैयारी- 

नई कंपनी के लिए कॉरपोरेट टैक्स में कटौती की शर्तें आसान हो सकती हैं. नई कंपनी खोलने के 5 साल के भीतर भी अगर उत्पादन होता है तो 15 फीसदी  कॉरपोरेट टैक्स देना होगा. मौजूदा समय में नई कंपनी खोलने के 3 साल के भीतर ही उत्पादन करना जरूरी  होता है. अभी 15 फीसदी टैक्स के लिए 31 मार्च 2023 तक उत्पादन करना जरूरी है.

ये भी पढ़ें-इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने ITR के नियमों में बदलाव से जुड़ा फैसला वापस लिया

बन चुकी हैं सहमति

उद्योग मंत्रालय ने कम से कम 5 से 7 साल का वक्त दिया जाने की सिफारिश की है. वित्त मंत्रालय उद्योग मंत्रालय की सिफारिश से सहमत है. बजट में मियाद बढ़ाने का ऐलान हो सकता है.इससे क्या होगा-

इस प्रस्तावित फैसले से नए निवेश में बढ़ोतरी की उम्मीद लगाई जा रही है. नए साल की शुरुआत में वित्त मंत्रालय और उद्योग मंत्रालय के बीच प्रस्ताव पर चर्चा हुई.

आपको बता दें कि सिंतबर में सरकार ने कॉर्पोरेट टैक्स में कटौती की थी. इससे, सरकार की 1.45 लाख करोड़ रुपए की आमदनी कम होगी.

ये भी पढ़ें-SBI इस तारीख से शुरू करेगा चुनावी बांड की बिक्री, जानें कैसे खरीद सकते हैं आप?

लेकिन इसके फायदे देखने के लिए वित्त वर्ष खत्म होने तक इंतजार करना पड़ेगा. हालांकि, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा था कि डायरेक्ट टैक्स कलेक्शन में बढ़ोतरी हो रही है. नवंबर तक इसमें 5% इजाफा हुआ.

(लक्ष्मण रॉय, इकॉनोमिक पॉलिसी एडिटर, CNBC Awaaz)

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Mumbai से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 10, 2020, 1:47 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर