लाइव टीवी

टेंशन में पाकिस्तानी! अब इस वजह से निकाह करने के लिए तरस रहे हैं आम लोग

News18Hindi
Updated: September 24, 2019, 6:45 PM IST
टेंशन में पाकिस्तानी! अब इस वजह से निकाह करने के लिए तरस रहे हैं आम लोग
टेंशन में पाकिस्तानी! अब इस वहज से निकाह करने में आ रही है दिक्कतें

गरीबी में आटा गीला..' कहावत इन दिनों पाकिस्तान (Pakistan) पर एकदम फिट बैठ रही है. पाकिस्तान आर्थिक संकट और बेतहाशा महंगाई (Inflation) से जूझ रहा है और ऐसे में आम लोगों के लिए अब निकाह पढ़ना भी आसान नहीं रह गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 24, 2019, 6:45 PM IST
  • Share this:
इस्लामाबाद. 'गरीबी में आटा गीला..' कहावत इन दिनों पाकिस्तान (Pakistan) पर एकदम फिट बैठ रही है. पाकिस्तान आर्थिक संकट और बेतहाशा महंगाई (Inflation) से जूझ रहा है और ऐसे में आम लोगों के लिए अब निकाह करना भी आसान नहीं रह गया है. पाकिस्तान के अखबार डॉन (Dawn) में छपी खबर के मुताबिक, वेडिंग सीजन यानी शादियों (निकाह) के शुरू होने से पहले पाकिस्तान में चिकन के दाम अब तक के सबसे उच्चतम स्तर पर पहुंच गए है. ऐसे में आम लोगों का खर्च बढ़ गया है. साथ ही, फलों और सब्ज़ियों के कई उत्पादों के दाम तो पाकिस्तान में आसमान छू ही रहे हैं. ऐसे में आम आदमी के लिए निकाह करना बहुत महंगा हो गया है.


बढ़ा शादियों का खर्च- महंगाई की मार झेल रहे पाकिस्तान में न सिर्फ खाने-पीने की आम चीजों की कीमतें आसमान छू रही हैं, बल्कि पेट्रोल-डीजल के साथ दूध की कीमत भी आम आदमी के पहुंच के बाहर हो गई है.

>> पिछले महीने वहां पेट्रोल की कीमत 117.83 रुपये (पाकिस्तानी रुपया) प्रति लीटर तक पहुंच गई थी और डीजल की कीमत 132.47 रुपये प्रति लीटर तक पहुंच गई थी.

>> वहां, दूध की कीमत 140 रुपये प्रति लीटर तक पहुंच चुकी है. इस तरह से अब पाकिस्तान में पेट्रोल-डीजल से भी महंगा दूध बिक रहा है.


>> इसके अलावा सोने की कीमतें 1 लाख रुपये प्रति तौला (10 ग्राम) के करीब पहुंच गई है. वहीं, अब चिकन के दाम अब तक सबसे ऊपरी स्तर पर है.पाकिस्तान में बिक रहा है सबसे महंगा चिकन - एक कारोबारी के हवाले से इस रिपोर्ट में लिखा गया है कि पाकिस्तान में एक किलोग्राम चिकन का दाम 480-500 रुपये (हड्डियों के साथ) हो गया है. वहीं, बिना हड्डियों वाले चिकन के दाम 600-700 रुपये प्रति किग्रा हो गए है.

आखिर क्यों बढ़े दाम- पोल्ट्री कारोबार से जुड़े कारोबारियों का कहना है कि शादियों का सीजन शुरू होने वाला है. ऐसे में पोल्ट्री कारोबारी ज्यादा मुनाफा कमाने के लिए सप्लाई घटा रहे है. इसीलिए कीमतों में तेजी आई है. हालांकि, सरकार की ओर से जारी दाम 250 से 388 रुपये प्रति किलोग्राम है.

ये भी पढ़ें-फ्री में ले ये खास ट्रेनिंग, नौकरी के साथ अपना बिजनेस कर हर महीने कमाएं हजारों



पाकिस्तान पोल्ट्री एसोसिएशन (Pakistan Poultry Association) के सदस्य मरूफ सिद्दिकी का कहना है कि डिमांड ज्यादा नहीं बढ़ी है. लेकिन सप्लाई तेजी से कम हो रही है. कराची में जहां रोजाना 80 हजार से 90 हजार मुर्गों की सप्लाई होती है. वहीं, अब ये गिरकर 40 से 50 हजार पर आ गई है.

इसके अलावा पोल्ट्री किसानों की लागत भी बढ़ गई है. क्योंकि अमेरिकी डॉलर के मुकाबले पाकिस्तानी रुपये के गिरने की वजह से सोयाबीन विदेशों से खरीदना बहुत महंगा हो गया है. कीमतें लगभग डबल हो चुकी हैं.

पिछले दिनों मौसमी महामारी फैलने के कारण बड़ी संख्या में पशु मारे गए और दूसरी तरफ, महंगाई के कारण पशुओं के टीके, इलाज के साथ ही ट्रांसपोर्ट महंगा हो जाने के कारण पशुओं का पालन और देखरेख काफी महंगा पड़ा इसलिए विक्रेता ज़्यादा दामों पर बिक्री के लिए मजबूर हैं. वहीं, एक ग्राहक के हवाले से लिखा गया है कि विक्रेता मुंहमांगे दाम मांग रहे हैं क्योंकि इस बाज़ार में दाम निर्धारण की व्यवस्था नहीं है.

ये भी पढ़ें-एक रुपये के जरिए जानें सरकार कैसे कमाएगी और कहां खर्च करेगी?

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 24, 2019, 5:25 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर