लाइव टीवी

COVID-19 स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं को सरकार दे रही हैं 50 लाख का बीमा कवर, जानिए इस इंश्योरेंस में आप शामिल हो सकते हैं या नहीं?

News18Hindi
Updated: April 9, 2020, 11:55 AM IST
COVID-19 स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं को सरकार दे रही हैं 50 लाख का बीमा कवर, जानिए इस इंश्योरेंस में आप शामिल हो सकते हैं या नहीं?
कोरोनो वायरस महामारी से लड़ने में मदद करने वाले हर स्वास्थ्य कर्मचारी को 50 लाख रुपये का बीमा कवर दिया गया है. यह बीमा कवर केवल दुर्घटना बीमा कवर है. इसमें कर्मचारियों के इलाज पर हुआ किसी भी प्रकार का खर्च शामिल नहीं होगा.

कोरोनो वायरस महामारी से लड़ने में मदद करने वाले हर स्वास्थ्य कर्मचारी को 50 लाख रुपये का बीमा कवर दिया गया है. यह बीमा कवर केवल दुर्घटना बीमा कवर है. इसमें कर्मचारियों के इलाज पर हुआ किसी भी प्रकार का खर्च शामिल नहीं होगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 9, 2020, 11:55 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोनो वायरस महामारी से लड़ने में मदद करने वाले हर स्वास्थ्य कर्मचारी को 50 लाख रुपये का बीमा कवर दिया गया है. यह बीमा कवर केवल दुर्घटना बीमा कवर है. इसमें कर्मचारियों के इलाज पर हुआ किसी भी प्रकार का खर्च शामिल नहीं होगा. यह योजना वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने 26 मार्च को घोषित की थी और ये प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज का एक हिस्सा है.

आइए आपको बताते हैं इस दुर्घटना बीमा योजना में क्या शामिल है और क्या नहीं?

> इस बीमा में COVID -19 के कारण किसी कर्मचारी की मौत होती है तो उसे ये पैसा मिलेगा. कोरोना वायरस ड्यूटी के दौरान आकस्मिक मृत्यु भी इस बीमा कवर में शामिल है.



ये भी पढ़ें:- सरकार ने 5 लाख रुपये तक के इनकम टैक्स रिफंड तुरंत जारी करने का आदेश दिया



> इस योजना में इन लोगों को किया जाता है कवर : सामुदायिक स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं सहित सार्वजनिक स्वास्थ्य सेवा प्रदाता, जिन्हें COVID-19 रोगियों के सीधे संपर्क और देखभाल में रहना पड़ सकता है और जिन्हें इससे प्रभावित होने का खतरा हो सकता है.

> निजी अस्पताल के कर्मचारियों और सेवानिवृत्त / स्वयंसेवक / स्थानीय शहरी निकायों / केंद्रीय अस्पतालों / केंद्रीय / राज्यों / केंद्र शासित प्रदेशों के स्वायत्त अस्पतालों, एम्स और आईएनआई / केंद्रीय मंत्रालयों के अस्पताल में काम कर रहे लोगों को भी शामिल करने का प्रस्ताव दिया गया है.

> 30 मार्च से शुरू होने वाली इस policy की अवधि 90 दिनों की है. इस योजना के लिए कोई आयु सीमा नहीं है और व्यक्तिगत नामांकन की आवश्यकता नहीं है.

> इस योजना के लिए प्रीमियम की पूरी राशि स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा वहन की जा रही है.

ये भी पढ़ें:- बड़ी खबर! किसानों को आसानी से मिलेगा 5 लाख रुपये लोन, मिलेंगी ये छूट

दुनियाभर में बढ़ रहे हैं कोरोना केस 
कोरोना वायरस का कहर बढ़ता ही जा रहा है. गुरुवार सुबह तक 540 नए मामले सामने आने के बाद देश में कोरोना से संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 5734 हो गई है. कोविड-19 महामारी से बीते 24 घंटे में 17 लोगों की मौत हुई है, जिससे मरने वालों का आंकड़ा 166 पहुंच गया है. स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी ताजा आंकड़ों के मुताबिक, कोरोना वायरस के कुल 5734 मामलों में से 5095 एक्टिव केस हैं. इसके अलावा, 473 लोग पूरी तरह से ठीक हो गए हैं या उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है. स्वास्थ्य मंत्रालय के सुबह 8 बजे तक के आंकड़ों के मुताबिक, कोरोना वायरस से सर्वाधिक 72 लोगों की मौत महाराष्ट्र में हुई. यहां अब इस महामारी से पीड़ितों की संख्या 1324 हो गई है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 9, 2020, 10:55 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading