बड़ी खबर! Coronavirus Vaccine को लेकर सीरम इंस्टीट्यूट ने कहा- दिसंबर तक आ सकती है वैक्सीन

बड़ी खबर! Coronavirus Vaccine को लेकर सीरम इंस्टीट्यूट ने कहा- दिसंबर तक आ सकती है वैक्सीन
इस साल के अंत तक आएगी कोरोना की वैक्सीन

COVID-19: सीरम इंस्टीट्यूट के सीईओ अदार पूनावाला ने कहा है कि कोरोना की वैक्सीन (Coronavirus vaccine) इस साल के अंत तक तैयार हो सकती है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 11, 2020, 11:02 AM IST
  • Share this:
मुंबई. पुणे की सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (Serum Institute of India) ने दावा किया है कि इस साल के अंत तक कोरोना वायरस महामारी की वैक्सीन (Coronavirus Vaccine) बाजार में उपलब्ध हो जाएगी. साथ ही कंपनी दो महीने के अंदर वैक्सीन की कीमत की भी घोषणा कर देगी. बता दें कि सीरम इंस्टीट्यूट दुनिया की सबसे बड़ी वैक्सीन निर्माता कंपनी है और वो भारत में कोविशील्ड (Covishield) नाम से वैक्सीन लॉन्च करने जा रही है. इस वैक्सीन को ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी के वैज्ञानिकों ने विकसित किया है और इसे तैयार करने के लिए सीरम इंस्टीट्यूट ने एस्ट्राजेनेका फार्मा (AstraZeneca) कंपनी के साथ करार किया है.

CNBC-TV18 से बातचीत में सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के सीईओ अदार पूनावाला ने बताया, 'हमें इस साल के अंत तक कोरोना वायरस वैक्सीन आ जाने की उम्मीद है. उन्होंने कहा कि दो महीने में हम इस टीके की कीमत का ऐलान कर देंगे.'

अगस्त के अंत तक वैक्सीन का शरू होगा निर्माण-उन्होंने कहा कि हम आईसीएमआर (ICMR) के साथ मिलकर भारत में हजारों मरीजों पर इस वैक्सीन का ट्रायल करने जा रहे हैं. अगस्त के अंत तक वैक्सीन का निर्माण शुरू हो जाएगा. मुझे पूरी उम्मीद है कि वैक्सीन का ट्रायल सफल होगा. कंपनी कोविशील्ड (Covishield) और नोवावैक्स (Novavax) के नाम से भारत में कोरोना वायरस की वैक्सीन लॉन्च करेगी.



ये भी पढ़ें : कोविड-19 का असर: इस साल 40 फीसदी तक कम हुआ राष्ट्रीय राजमार्ग का निर्माण कार्य
इतनी होगी वैक्सीन की कीमत-सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया ने कोरोना वायरस वैक्सीन के 10 करोड़ खुराक के उत्पादन के लिए बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन और गावी से भी करार किया है. इसके तहत कंपनी भारत समेत अन्य गरीब और विकासशील देशों को 225 रुपये यानी 3 डॉलर में कोरोना वायरस के टीके का खुराक उपलब्ध कराएगी. लेकिन वैक्सीन की फाइनल कीमत दो महीने बाद ही निर्धारित की जाएगी.

ये भी पढ़ें : हेल्‍थ इंश्‍योरेंस लिया है तो करें चेक, COVID-19 वैक्‍सीन का मिलेगा भुगतान या नहीं

कोरोना वायरस की वैक्सीन तैयार करने के लिए दुनिया भर में इन दिनों 200 से ज्यादा प्रोजेक्ट्स पर काम चल रहा है. इनमें से 21 से ज्यादा वैक्सीन क्लीनिकल ट्रायल में है. यह वैक्सीन ह्यूमन ट्रायल के आखिरी दौर में है. अगर इसका परीक्षण सफल रहा तो 2021 तक दुनिया में कोरोना की वैक्सीन उपलब्ध हो जाएगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज