कोविड राहत पैकेज: सरकार ने मई में 55 करोड़ लोगों को मुफ्त राशन दिया

प्रतीकात्मक तस्वीर

प्रतीकात्मक तस्वीर

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना यानी पीएमजीकेएवाई (Pradhan Mantri Garib Kalyan Anna Yojana) के तहत केंद्र सरकार दो महीने (मई-जून 2021) के लिए मुफ्त अनाज का वितरण कर रही है.

  • Share this:

नई दिल्ली. सरकार ने गुरुवार को कहा कि उसने महामारी की दूसरी लहर के दौरान लोगों को राहत प्रदान करने की एक योजना के तहत मई में करीब 55 करोड़ लोगों को 28 लाख टन अनाज मुफ्त उपलब्ध कराया. यह वितरण राशन की दुकानों के जरिए किया गया. साथ ही प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना यानी पीएमजीकेएवाई (Pradhan Mantri Garib Kalyan Anna Yojana)

के तहत जून में अब तक 2.6 करोड़ लाभार्थियों को 1.3 लाख टन गेहूं और चावल उपलब्ध कराया गया है.

खाद्य सचिव सुधांशु पांडे ने यह जानकारी दी. उन्होंने पीएमजीकेएवाई योजना के कार्यान्वयन की जानकारी देते हुए बताया कि राज्य और केंद्र शासित प्रदेश अब तक एफसीआई के डिपो से 63.67 लाख टन (मई और जून के लिए योजना तहत किए जाने वाले कुल आवंटन का करीब 80 फीसदी हिस्सा) से ज्यादा अनाज ले चुके हैं.

योजना के तहत केंद्र सरकार दो महीने (मई-जून 2021) के लिए मुफ्त अनाज का वितरण कर रही है. वह राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम (National Food Security Act) के तहत शामिल करीब 79.39 करोड़ लाभार्थियों को प्रति महीने प्रति व्यक्ति पांच किलोग्राम अनाज का वितरण कर रही है.
योजना के तहत करीब 80 लाख टन अनाज का वितरण किया जाएगा. यह वितरण मौजूदा खाद्य कानून के तहत लाभार्थियों को मिलने वाले नियमित आवंटन से इतर किया जा रहा है.

पांडे ने कहा, ''मई 2021 के लिए करीब 55 करोड़ एनएफएसए लाभार्थियों को लगभग 28 लाख टन और जून 2021 के लिए करीब 2.6 करोड़ एनएफएसए लाभार्थियों को लगभग 1.3 लाख टन खाद्यान्न का वितरण किया गया है.''

उनके मुताबिक गुरुवार तक राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा कानून के तहत मई में 90 फीसदी और जून 2021 में 12 फीसदी लाभार्थियों को खाद्यान्न का वितरण किया गया. इसके तहत मई, जून माह में 13,000 करोड़ रुपये से अधिक सब्सिडी दी जा चुकी है. इसमें प्रधानमंत्री गरीब कल्या अन्न योजना के तहत दोनों महीनों के लिए 9,200 करोड़ रुपये से अधिक सब्सिडी दी गई है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज