अपना शहर चुनें

States

Cox & Kings के प्रमोटर पीटर केरकर गिरफ्तार, Yes Bank से जुड़े मामले में हुई कार्रवाई

कॉक्स एंड किंग्स के प्रमोटर पीटर केरकर को मनी लॉन्ड्रिंग मामले में गिरफ्तार किया गया.
कॉक्स एंड किंग्स के प्रमोटर पीटर केरकर को मनी लॉन्ड्रिंग मामले में गिरफ्तार किया गया.

कॉक्स एंड किंग्स (Cox & Kings) के प्रमोटर पीटर केरकर को ईडी (ED) ने मनी लॉन्ड्रिंग के मामले में गिरफ्तार (arrested) किया है. ईडी ने उनकी गिरफ्तारी मुंबई से की है. आपको बता दें कॉक्स एंड किंग्स ग्रुप ऑफ कंपनीज पर कई बैंकों का कुल 5,500 करोड़ रुपये बकाया है. जिसमें सबसे ज्यादा यस बैंक (Yes Bank) का 2,267 करोड़ रुपये बकाया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 27, 2020, 3:38 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. प्रवर्तन निदेशालय ने पर्यटन क्षेत्र की कंपनी कॉक्स एंड किंग्स के प्रमोटर पीटर केरकर को मनी लॉन्ड्रिंग के मामले में गिरफ्तार किया है. ईडी के अधिकारियों ने बताया कि पीटर केरकर की गिरफ्तारी यस बैंक धन शोधन मामले में चल रही जांच के तहत की गई है. केरकर को धन शोधन रोकथाम कानून (पीएमएलए) की विभिन्न धाराओं के तहत मुंबई से गिरफ्तार किया गया है. जिसके बाद उन्हें यहां स्थानीय अदालत के सामने पेश किया जाएगा.

आपको बता दें कॉक्स एंड किंग्स ग्रुप ऑफ कंपनीज पर कई बैंकों का कुल 5,500 करोड़ रुपये बकाया है. जिसमें सबसे ज्यादा यस बैंक का 2,267 करोड़ रुपये बकाया है.  

यह भी पढ़ें: क्या है Fame स्कीम! जिसका आम आदमी को फायदा पहुंचाने के लिए राज्यों ने उठाएं बड़े कदम



CBI ने भी किया है मामला दर्ज- सीबीआई ने इसी महीने कॉक्स एंड किंग की सहयोगी कंपनी ईजीगो वन ट्रैवल एंड टूर्स लिमिटेड के खिलाफ मामला दर्ज किया है. सीबीआई ने ये मामला यस बैंक के साथ 900 करोड़ रुपये से ज्यादा की धोखाधड़ी के तहत दर्ज किया है. आपको बता दें आरबीआई ने फरवरी 2020 में ईजीगो वन ट्रैवल एंड टूर्स लिमिटेड द्वारा यस बैंक से लिए 946.44 करोड़ के लोन को फ्रॉड घोषित कर दिया था. जिसके बाद सीबीआई ने यस बैंक की शिकायत पर मामला दर्ज किया. 
यह भी पढ़ें: ITR फाइल करने के बाद आपको नहीं मिला रिफंड तो तुरंत करें ये काम

ED ने जून में केरकर के घर की ली थी तलाशी- ED ने जून 2020 में केरकर समेत कंपनी के कई पूर्व अधिकारियों के घर की तलाशी ली थी. आपको बता दें इसके बाद ईडी ने अक्टूबर में कॉक्स एंड किंग्स के पूर्व मुख्य वित्त अधिकारी अनिल खंडेलवाल और आंतरिक ऑडिटर नरेश जैन को गिरफ्तार किया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज