Home /News /business /

Alert! समय पर भरते हैं क्रेडिट कार्ड की EMI तो भी खराब हो जाता है Credit Score, नहीं मिलता आसानी से लोन, जानें पूरी डिटेल्स

Alert! समय पर भरते हैं क्रेडिट कार्ड की EMI तो भी खराब हो जाता है Credit Score, नहीं मिलता आसानी से लोन, जानें पूरी डिटेल्स

क्रेडिट यूटिलाइजेशन जैसे-जैसे बढ़ता है, क्रेडिट स्कोर कम होता जाता है.

क्रेडिट यूटिलाइजेशन जैसे-जैसे बढ़ता है, क्रेडिट स्कोर कम होता जाता है.

Credit Utilization Ratio : कई बार क्रेडिट कार्ड की EMI और लोन की किस्त समय पर चुकाने के बावजूद क्रेडिट स्कोर घटता है. इसकी बड़ी वजह है क्रेडिट यूटिलाइजेशन रेश्यो का अधिकतम 30 फीसदी से ज्यादा होना.

नई दिल्ली. मौजूदा दौर में हर व्यक्ति के लिए क्रेडिट स्कोर (Credit Score) की अहमियत बढ़ गई है. यही तय करता है कि आपको किस ब्याज दर पर कितना लोन मिलेगा. अगर आपका क्रेडिट स्कोर कम है तो बैंक आपको लोन देने से बचेंगे और अगर देंगे भी तो ज्यादा ब्याज पर. क्रेडिट स्कोर कम होने के कई कारण है, जिसमें एक है क्रेडिट यूटिलाइजेशन रेश्यो (Credit Utilization Ratio).

पैसा बाजार (Paisa Bazaar) से मिली जानकारी के अनुसार, कई बार क्रेडिट कार्ड की ईएमआई (Credit Card EMI) और लोन की किस्त समय पर चुकाने के बावजूद क्रेडिट स्कोर घटता है. इसकी बड़ी वजह क्रेडिट यूटिलाइजेशन रेश्यो (Credit Utilization Ratio) का अधिकतम 30 फीसदी से ज्यादा होना है.

ये भी पढ़ें- Budget 2022: बड़े स्टॉक मार्केट घोटाले से हुआ था बजट का जन्म, Newton से भी है खास रिश्ता, दिवालिया हो गए थे कई बैंक

होता है नकारात्मक संबंध
क्रेडिट यूटिलाइजेशन रेश्यो और क्रेडिट कार्ड स्कोर में नकारात्मक संबंध होता है. यानी क्रेडिट यूटिलाइजेशन जैसे-जैसे बढ़ता है, क्रेडिट स्कोर कम होता जाता है. खास बात है कि क्रेडिट स्कोर में इसकी हिस्सेदारी 30 फीसदी होती है. इसलिए सस्ता और आसान कर्ज पाने के लिए क्रेडिट स्कोर का बेहतर होना जरूरी है.

ये भी पढ़ें- Mutual Fund SIP : हर महीने केवल 1000 रु बचाकर बन सकते हैं करोड़पति, छोटे निवेश से बड़ा फंड बनाने का मौका

ऐसे तय होता है क्रेडिट यूटिलाइजेशन रेश्यो
यह आपके क्रेडिट कार्ड की कुल लिमिट और खर्च का अनुपात होता है. बेहतर क्रेडिट स्कोर के लिए यह अनुपात अधिकतम 30 फीसदी होना चाहिए. यह इससे ज्यादा नहीं होना चाहिए. मान लीजिए, आपके क्रेडिट कार्ड की कुल लिमिट एक लाख रुपये है और आप हर महीने 25000 रुपये खर्च करते हैं तो ऐसे में आपका क्रेडिट यूटिलाइजेशन 25 फीसदी हुआ.

ये भी पढ़ें- मोदी सरकार आपको देगी 10 हजार रुपये, फायदा उठाने के लिए घर बैठे करना होगा बस ये काम

ज्यादा खर्च तो बढ़ाएं क्रेडिट लिमिट या लें दूसरा क्रार्ड
पैसा बाजार के मुताबिक, क्रेडिट स्कोर में क्रेडिट यूटिलाइजेशन की भूमिका अहम होने की वजह से इस रेश्यो को 30 फीसदी से कम रखें. क्रेडिट कार्ड से खर्च ज्यादा होने पर अपने क्रेडिट कार्ड की लिमिट बढ़वाएं या दूसरे क्रेडिट कार्ड के लिए आवेदन करें. इससे ज्यादा खर्च होने के बावजूद आपका क्रेडिट यूटिलाइजेशन रेश्यो बेहतर रहेगा.

इन वजहों से भी खराब होता है क्रेडिट स्कोर
>>अगर आप सीमित अविध में बार-बार लोन और क्रेडिट कार्ड के लिए आवेदन करते हैं तो इससे भी क्रेडिट स्कोर में गिरावट आती है.
>>आप किसी को अपनी गारंटी पर लोन दिलाते हैं और वह समय पर भुगतान नहीं करता है तो इसका असर भी आपके क्रेडिट स्कोर पर पड़ता है.
>>एक-दो महीने में ज्यादा खर्च होने पर क्रेडिट कार्ड की लिमिट बार-बार न बढ़वाएं. बेहतर होना कि खर्च को संयमित रखें.

Tags: Credit card, Personal finance

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर