लाइव टीवी

आर्थिक सुस्ती के बीच भारत की घरेलू संपत्ति हुई दोगुनी, लोन भी बढ़ा- रिपोर्ट

News18Hindi
Updated: October 22, 2019, 1:25 PM IST
आर्थिक सुस्ती के बीच भारत की घरेलू संपत्ति हुई दोगुनी, लोन भी बढ़ा- रिपोर्ट
प्रति व्यक्ति आय में इजाफा

क्रेडिट सुइस (Credit Suisse) की रिपोर्ट में कहा कि 2000 से 2019 के बीच देश में घरेलू संपत्ति चार गुना बढ़ी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 22, 2019, 1:25 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. आर्थिक सुस्ती (Economic Slowdown) के बीच भारत की घरेलू संपत्ति दोगुनी हो गई है. स्विटजरलैंड की बैंकिग सर्विस देने वाली क्रेडिट सुइस (Credit Suisse) की रिपोर्ट में दावा किया गया है कि कैलेंडर वर्ष 2019 में घरेलू संपत्ति दोगुनी से अधिक बढ़कर 12.6 लाख करोड़ डॉलर हो गई. रिपोर्ट में कहा गया है कि 2018 में देश में कुल 5.97 लाख करोड़ डॉलर की घरेलू संपत्ति थी.

रिपोर्ट में आगे कहा गया है कि 2000 से 2019 के बीच देश में घरेलू संपत्ति चार गुना बढ़ी. अगले 5 साल में यह अतिरिक्त 43 फीसदी (4.4 लाख करोड़ डॉलर) बढ़ जाएगी. हालांकि, घरेलू संपत्ति के दोगुने होने के कारणों का बैंक ने खुलासा नहीं किया है. रिपोर्ट के मुताबिक, इस घरेलू संपत्ति में वित्तीय और सोने एवं प्रॉपर्टी में निवेश भी शामिल हैं. 2016 में नोटबंदी के बाद से रियल एस्टेट बाजार सुस्ती के दौर से गुजर रहा है.

ये भी पढ़ें: मूर्तियों के बाजार से इस बार ‘मेड इन चाइना’ गायब, ‘मेक इन इंडिया’ का जादू चला

भारत, हालांकि दुनिया में तेजी से बढ़ती हुई अर्थव्यवस्था वाला देश है. जिसमें घरेलू संपत्ति अन्य के मुकाबले काफी तेजी से बढ़ रही है. कुल मिलाकर इस पूरी रिपोर्ट में कहा गया है कि साल 2018-19 में फाइनेंशियल एसेट्स में 1.4 फीसदी की मामूली बढ़त देखने को मिली, जबकि नॉन फाइनेंशियल एसेट्स 6.9 फीसदी बढ़ोतरी हुई. पिछली बार साल 2017-18 में घरेल संपत्ति काफी धीमी गति से बढ़ी थी, जब इसमें 2.6 फीसदी विस्तार हुआ था. लेकिन इस समय रुपये में तेजी से गिरावट आई थी.

प्रति व्यक्ति आय में इजाफा
साल 2018-19 में देश की संपत्ति की कीमतें तकरीबन 6 फीसदी की धीमी गति से बढ़ीं लेकिन फॉरेन एक्सचेंज का उतार चढ़ाव फायदे का सौदा रहा. रिपोर्ट में अनुमान जताया गया है कि प्रति व्यक्ति आय 14,569 डॉलर (तकरीबन 10.31 लाख रुपये) है. भारत में कुछ लोगों की अधिक संपत्ति होने के कारण प्रति व्यक्ति आय बढ़ गई है.

इस रिपोर्ट में अनुमान जताया गया है कि देश की 78 फीसदी एडल्ट पॉपुलेशन के पास 10,000 डॉलर से कम की संपत्ति है, जबकि भारत की 1.8 फीसदी आबादी के पास 100,000 डॉलर से अधिक है. दूसरे मामलों में 1790 व्यक्तियों के पास 100 मिलियन डॉलर से अधिक की संपत्ति है. भारत में दुनिया के 2 फीसदी करोड़पति है.
Loading...

ये भी पढ़ें: इस कंपनी ने मानी पीएम मोदी की बात, प्लास्टिक से निपटने के लिए अपनाया ये तरीका

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 22, 2019, 1:25 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...