इस साल साबुन-शैम्पू जैसे प्रोडक्ट्स की बढ़ेगी मांग, 2021 में भी इजाफा होने की उम्मीद : रिपोर्ट

इस साल बढ़ेगी एफएमसीजी सेक्टर की मांग

रेटिंग एजेंसी क्रिसिल (CRISIL) ने अपनी एक रिपोर्ट में कहा है कि वित्त वर्ष 2020 में एफएमसीजी प्रोडक्ट्स की मांग में 9 फीसदी का इजाफा होगा. वहीं वित्त वर्ष 2021 में यह बढ़कर 11 फीसदी के पार जा सकता है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. सुस्त अर्थव्यवस्था के बीच वित्त वर्ष 2020 में एफएमसीजी सेक्टर में 9 फीसदी तक की ग्रोथ हो सकती है. रेटिंग एजेंसी क्रिसिल (Rating Agency CRISIL) ने अपनी एक रिपोर्ट में यह बात कही है. ग्रामीण क्षेत्रों (Rural Areas) में बढ़ती खरीद और मांग की वजह से वित्त वर्ष 2021 में एफएमसीजी सेक्टर (FMCG Sector) की ग्रोथ 11 फीसदी तक पहुंच सकती है. यह सेक्टर करीब 4 लाख करोड़ रुपये का है. क्रिसिल की इस रिपोर्ट के मुताबिक, फार्म इनकम (Farm Income) बढ़ने का असर मार्च से अप्रैल महीने में दिखने लगेगा, जब ग्रामीण क्षेत्रों में खपत बढ़ेगी. इस वजह से एफएसजी सेक्टर में रिकवरी देखने को मिल सकती है.

    ग्रामीण मांग बढ़ने से आएगी तेजी
    क्रिसिल का यह अनुमान ऐसे समय पर आ रहा है, जब पूरे देश में खपत में भारी गिरावट आई है. खपत में इस भारी कमी की वजह से ही जीडीपी ग्रोथ रेट (GDP Growth Rate) में भी बड़ी गिरावट देखने को मिल रही है. इस साल अच्छी बारिश की वजह से पिछले साल के मुकाबले स्टोरेज में 40 फीसदी का इजाफा हुआ है. वहीं, खरीफ फसलों में 8 फीसदी का इजाफा हुआ है. ऐसे में उम्मीद की जा रही है कि ग्रामीण क्षेत्रों में खपत और मांग (Consumption and Demand) बढ़ेगी.

    यह भी पढ़ें: FD से ज्यादा मिल रहा है ब्याज, पैसा लगाने के लिए आपके पास बचे हैं सिर्फ 2 दिन



    शहरी क्षेत्रों में भी होगा 8 फीसदी का इजाफा
    क्रिसिल के वरिष्ठ निदेशक अनुज सेठी ने बताया, 'ग्रामीण इन्फ्रास्ट्रक्चर पर सरकार द्वारा अधिक खर्च से ग्रामीण इनकम को फायदा पहुंचेगा. इससे एफएमसीजी प्रोडक्ट्स की मांग भी बढ़ेगी.' उन्होंने कहा कि शहरी क्षेत्रों में एफएमसीजी प्रोडक्ट्स की मांग में 8 फीसदी तक इजाफा हो सकता है. हालांकि, सभी कंपनियों के लिए यह इजाफा एक समान नहीं होगा. इस रिपोर्ट में 57 कंपनियों को चुना गया था, जिनके एफएमसीजी इंडस्ट्री का करीब 50 फीसदी रेवेन्यू आता है.

    इन सेगमेंट के प्रोडक्ट्स में होगा इजाफा
    इस इंडस्ट्री के कुल रेवेन्यू का 50 फीसदी हिस्सा पैकेज्ड फूड सेगमेंट से आता है और चालू वित्त वर्ष के दौरान इसमें भी 10 फीसदी तक का इजाफा देखने को मिल सकता है. वित्त वर्ष 2021 के लिए यह अनुमान 12 फीसदी तक हो सकता है. कुल रेवेन्यू में एक तिहाई हिस्सेदारी रखने वाला पर्सनल एंड होम केयर प्रोडक्ट्स का ग्रोथ में इस साल 6 से 7 फीसदी तक बढ़ेगा. वहीं, अगले वित्त वर्ष के दौरान इसमें 8—9 फीसदी का इजाफा देखने को मिल सकता है.

    यह भी पढ़ें: Zomato ने Uber Eats को ख़रीदा, 100 से ज्यादा लोगों की नौकरी पर लटकी तलवार

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.