क्रूड ऑयल में 7% की बड़ी गिरावट, दाम $40/ बैरल के नीचे, भारत में सस्ता होगा पेट्रोल-डीजल

क्रूड ऑयल में 7% की बड़ी गिरावट, दाम $40/ बैरल के नीचे, भारत में सस्ता होगा पेट्रोल-डीजल
कच्‍चे तेल की कीमतें मंगलवार को घटकर 40 डॉलर प्रति बैरल के नीचे पहुंच गईं.

सऊदी अरब (Saudi Arabia) की सरकारी तेल कंपनी अरामको (Aramco) ने अक्‍टूबर के लिए आधिकारिक बिक्री कीमतों (Selling Price) में कटौती की. इसके बाद अमेरिका के डब्‍ल्‍यूटीआई क्रूड (WTI Crude) की कीमतों में भी मंगलवार को 8 फीसदी से ज्‍यादा की गिरावट दर्ज की गई.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 9, 2020, 7:26 AM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. कच्‍चे तेल की कीमतों (Crude Oil Prices) में मंगलवार को तेज गिरावट (Price Fall) दर्ज की गई. कच्‍चा तेल जून 2020 के बाद पहली बार 40 डॉलर प्रति बैरल के नीचे पहुंच गया. वहीं, अमेरिका के कच्‍चे तेल (US Crude) की कीमत में भी 8 फीसदी से ज्‍यादा की कमी आई है. दरअसल, सोमवार को सऊदी अरब (Sudi Arabia) ने पूरी दुनिया में कोरोना वायरस (Coronavirus) के पॉजिटिव मामलों की संख्‍या में लगातार हो रही बढ़ोतरी के बीच अक्‍टूबर के लिए कच्‍चे तेल की बिक्री कीमतों (October Selling Price) में कमी करने का ऐलान किया था. इसी के बाद मंगलवार को कच्‍चे तेल की कीमतें 40 डॉलर के नीचे पहुंच गईं. एक्सपर्ट्स का कहना है कि इसका सीधा फायदा भारत जैसी अर्थव्यवस्था को मिलेगा. एक तो कच्चे तेल के इंपोर्ट पर खर्च घटेगा. वहीं, घरेलू बाजार में पेट्रोल-डीज़ल की कीमतों में गिरावट आ सकती है.

अमेरिका के डब्‍ल्‍यूटीआई क्रूड की कीमत में 3.42 डॉलर की हुई कमी
भारत, ब्रिटेन, स्‍पेन और अमेरिका के कुछ हिस्‍सों में कोरोना वायरस के पॉजिटिव मामलों की संख्‍या लगातार बढ़ रही है. सरकारें कई महीनों से किसी भी तरह से संक्रमण की दर (Infection Rate) को काबू नहीं कर पा रही हैं. इससे वैश्विक अर्थव्‍यवस्‍था (Global Economy) लगातार कमजोर होती जा रही है. ऐसे में कच्‍चे तेल की मांग भी निचले स्‍तर पर बनी हुई है. अमेरिका के डब्‍ल्‍यूटीआई क्रूड की कीमतों में मंगलवार को 3.42 डॉलर प्रति बैरल की गिरावट दर्ज की गई, जो एक दिन पहले के दाम से 8.6 फीसदी कम है.

ये भी पढ़ें- कैबिनेट ने डिफेंस सेक्टर में FDI में बदलाव को दी मंजूरी, IBC संशोधन बिल को संसद में किया जाएगा पेश
ब्रेंट क्रूड ऑयल की कीमत घटकर 39.55 डॉलर प्रति बैरल पहुंच गईं


अमेरिकी क्रूड ऑयल की कीमतें 15 जून के बाद मंगलवार को निचले स्‍तर पर पहुंच गईं. वहीं, ब्रेंट क्रूड ऑयल (Brent Crude Oil) की कीमतों में 5.9 फीसदी की कमी दर्ज की गई. ब्रेंट क्रूड की कीमतें मंगलवार को 2.46 डॉलर घटकर 39.55 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गईं. कीमतों के मामले में दोनों ऑयल बेंचमार्क (Oil Benchmark) अगस्‍त की कीमतों (August Price) से नीचे पहुंच गए. ब्रेंट क्रूड की कीमतों में लगातार पांचवें दिन गिरावट दर्ज की गई और ये अगस्‍त के आखिर से 10 फीसदी नीचे पहुंच गई हैं.

ये भी पढ़ें- Power Grid की संपत्तियां बेचकर पूंजी जुटाएगी सरकार, कैबिनेट ने InvIT के तहत दी मंजूरी

गिरावट के बाद भी अप्रैल के मुकाबले कच्‍चे तेल की कीमतों में है सुधार
अरामको ने मांग में कमी को देखते हुए अक्‍टूबर के लिए अरब लाइट ऑयल की कीमतों में कटौती कर दी है. कोलाराडो की PK Verleger LLC के एनर्जी एनालिस्‍ट फिल वर्लगर का कहना है कि सऊदी के तेल की कीमतों में कटौती करने के कारण अमेरिका के डब्‍ल्‍यूटीआई क्रूड (WTI Crude) को खरीदने में एशियाई खरीदारों (Asian Buyers) की रुचि नहीं दिख रही है. हालांकि, इतनी कम कीमतों के बाद भी अप्रैल के मुकाबले कच्‍चे तेल के दामों में काफी सुधार हुआ है. दरअसल, तेल निर्यातक देशों के संगठन ओपेक प्‍लस (OPEC+) ने तेल आपूर्ति में कटौती का निर्देश दे दिया था. अब 17 सितंबर को ओपेक प्‍लस की बैठक है, जिसमें तेल बाजार की समीक्षा की जाएगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज