Home /News /business /

Bitcoin और Dogecoin में उछाल तो Solana में नुकसान, जानें Cryptocurrency के आज के दाम

Bitcoin और Dogecoin में उछाल तो Solana में नुकसान, जानें Cryptocurrency के आज के दाम

भारत सरकार द्वारा क्रिप्टो को कानून के दायरे में लाने की घोषणा के बाद से क्रिप्टो के बाजार लगातार हिचकोले खा रहा है.

भारत सरकार द्वारा क्रिप्टो को कानून के दायरे में लाने की घोषणा के बाद से क्रिप्टो के बाजार लगातार हिचकोले खा रहा है.

क्रिप्टोकरेंसी (Cryptocurrency ) के लेन-देन में मदद करने वाले वजीरएक्स (Wazirx) पर बिटक्वाइन (Bitcoin) 44,49,000 के आसपास बना हुआ है. शीबा इनु (Shiba Inu) की बात करें तो यह खुला तो हरे निशान पर था, लेकिन कुछ देर बाद ही एक फीसदी की गिरावट के साथ लाल निशान पर कारोबार करता दिखाई दिया. शीबा में इस समय -1.1 की गिरावट के साथ 0.003125 रुपये पर ट्रेडिंग की जा रही थी.

अधिक पढ़ें ...

    Cryptocurrency Price Today: क्रिप्टोकरेंसी में आज शुक्रवार को भी काफी उथल-पुथल देखने को मिल रही है. भारत सरकार द्वारा क्रिप्टो को कानून के दायरे में लाने की घोषणा के बाद से क्रिप्टो के बाजार लगातार हिचकोले खा रहा है. इस समय जहां कुछ क्रिप्टो क्वाइन में तेजी का रुख बना हुआ है, वहीं कुछ डिजिटल करेंसी लगातार गोते खा रही है.

    क्रिप्टोकरेंसी की ताजा कीमतों की बात करें तो दुनिया की सबसे पॉपुलर डिजिटल करेंसी बिटक्वाइन (Bitcoin) एक फीसदी से ज्यादा तेजी के साथ हरे निशान पर ट्रेड करता दिखाई दिया.

    Wazirx पर क्रिप्टो के दाम
    क्रिप्टोकरेंसी के लेन-देन में मदद करने वाले वजीरएक्स (Wazirx) पर बिटक्वाइन 44,49,000 के आसपास बना हुआ है. बिटक्वाइन एक फीसदी की तेजी के साथ 58000 डॉलर से अधिक पर ट्रेडिंग कर रहा है. बिटक्वाइन ने हाल ही में 69,000 डॉलर के रिकॉर्ड स्तर को छूआ था.

    Cryptocurrency in India: क्रिप्टो को कानून के दायरे में लाने के खिलाफ हैं 54 फीसदी भारतीय

    शीबा इनु (Shiba Inu) की बात करें तो यह खुला तो हरे निशान पर था, लेकिन कुछ देर बाद ही एक फीसदी की गिरावट के साथ लाल निशान पर कारोबार करता दिखाई दिया. शीबा में इस समय -1.1 परसेंट की गिरावट के साथ 0.003125 रुपये पर ट्रेडिंग की जा रही थी.

    क्रिप्टो पर सरकार का एक्शन
    भारत सरकार क्रिप्टोकरेंसी कारोबार को कानून के दायरे में लाना चाहती है. इसके लिए सोमवार से शुरू हो रहे संसद के शीतकालीन सत्र में क्रिप्टोकरेंसी बिल (Cryptocurrency Bill) पेश किया जाएगा.

    दुनियाभर में यूं रेगुलेट होती है क्रिप्टोकरेंसी, कहीं खुलकर अपनाया गया तो कहीं शिकंजा

    केंद्र सरकार संसद के शीतकालीन सत्र में क्रिप्टोकरेंसी एवं आधिकारिक डिजिटल मुद्रा विनियमन विधेयक 2021 (Cryptocurrency and Regulation of Official Digital Currency Bill, 2021) पेश करने जा रही है. इस बिल के माध्यम से भारत सरकार देश के शीर्ष बैंक रिजर्व बैंक इंडिया के तहत एक आधिकारिक क्रिप्टोकरेंसी जारी करने के लिए फ्रेमवर्क तैयार करने की योजना बना रही है. इसकी तकनीक और इस्तेमाल को लेकर भी तैयारी की जा रही है. साथ ही, इस बिल के तहत ऐसा प्रावधान लाया जाएगा, जिससे सारी निजी क्रिप्टोकरेंसी पर प्रतिबंध लग जाएगा.

    संसदीय समिति का गठन
    बता दें कि कुछ समय पहले क्रिप्टोकरेंसी के संबंध में संसदीय समिति की एक बैठक हुई थी. 16 नवंबर को वित्त मामलों में गठित संसद की स्थायी समिति (Standing Committee on Finance) की क्रिप्टो एक्सचेंज, ब्लॉकचेन, क्रिप्टो एसेट काउंसिल, उद्योग जगत के प्रतिनिधियों और अन्य संबंधित पक्षों के साथ क्रिप्टोकरेंसी के नियमन और प्रोत्साहन से जुड़े पहलू पर विचार किया था. इस मीटिंग में यह बात निकल सामने आई थी कि क्रिप्टोकरेंसी को रोका नहीं जा सकता, लेकिन इसके नियमन की जरूरत है.

    कई देशों में मान्य है क्रिप्टो
    क्रिप्टोकरेंसी दुनिया के कई देशों में मान्य है तो कई देशों में अवैध. अल साल्वाडोर क्रिप्टोकरेंसी को लीगल टेंडर घोषित कर चुका है. कनाडा (Canada) ने अपने यहां अपराध (मनी लॉन्ड्रिंग) और आतंकवादी फाइनेंसिग रेगुलेशन्स को ध्यान में रखते हुए इसे वर्चुअल करेंसी करार दिया है.

    Tags: Cryptocurrency

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर