लाइव टीवी

सीरिया की वजह से बदलना पड़ा भारत के इस बैंक को अपना नाम! अब किया 410 करोड़ के नए प्लान का ऐलान

News18Hindi
Updated: November 19, 2019, 5:46 PM IST
सीरिया की वजह से बदलना पड़ा भारत के इस बैंक को अपना नाम! अब किया 410 करोड़ के नए प्लान का ऐलान
'सीरिया' युद्ध की वजह से कैथोलिक सीरियन बैंक को अपना नाम बदलना पड़ा है.

कैथोलिक सीरियन बैंक को 'सीरिया' युद्ध की वजह से अपना नाम बदला है. दरअसल बैंक के नाम में जुड़े शब्‍द 'सीरिया' की वजह एनआरआई ग्राहक विदेशों से अपने खातों में पैसे ट्रांसफर नहीं कर पा रहे थे. आइए जानें अब क्या नया ऐलान किया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 19, 2019, 5:46 PM IST
  • Share this:
मुंबई. केरल स्थित प्राइवेट सेक्टर (Private Sector Bank) बैंक कैथोलिक सीरियन बैंक (Catholic Syrian Bank) का नाम बदल गया है. अब इसका नाम सीएसबी (CSB) बैंक हो गया है. वहीं, बैंक ने आईपीओ (IPO) लाने का ऐलान किया है. बैंक आईपीओ के जरिए करीब 410 करोड़ रुपये जुटाएगा. इसका प्राइस बैंक 195 रुपये प्रति शेयर तय किया गया है. यह 22 नवंबर को खुलेगा और 26 नवंबर को बंद होगा. आपको बता दें कि पिछले साल ही प्रम वत्स की कंपनी फेयरफैक्स इंडिया होल्डिंग्स कॉर्पोरेशन को सीएसबी बैंक की प्रमुख हिस्सेदारी खरीदने के लिए भारतीय रिजर्व बैंक से विशेष अनुमति मिली थी. इस बैंक का मुख्यालय केरल के त्रिसूर में है. वत्स ने लिस्टिंग की शर्त पर ही बैंक को खरीदा था.

आइए जानें आखिर क्यों कैथोलिक सीरियन बैंक (Catholic Syrian Bank को अपना नाम बदलना पड़ा...

इस युद्ध की वजह से बैंक को बदलना पड़ा नाम- केरल के कैथलिक सीरियन बैंक ने अपना नाम बदल लिया है. अब यह सीएसबी बैंक लिमिटेड के नाम से जाना जाता है.

>> इस बैंक ने 'सीरिया' युद्ध की वजह से अपना नाम बदला है. दरअसल  बैंक के नाम में जुड़े शब्‍द 'सीरिया' की वजह एनआरआई ग्राहक विदेशों से अपने खातों में पैसे ट्रांसफर नहीं कर पा रहे थे.

ये भी पढ़ें- बंद होने वाला है ये नए जमाने का Bank, आपका भी है खाता तो तुरंत निकाल लें पैसे



>> वहीं, युद्धग्रस्‍त पश्चिमी एशियाई देश सीरिया के हालात देखकर बहुत से बैंकों ने सीरिया को अपने यहां बैन किया हुआ है. इसलिए विदेशी बैंक कैथलिक सीरियन बैंक में सीरिया शब्‍द देखते ही उसे अपने आप फिल्‍टर कर देते थे.>> बैंक की ओर से हालिया बयान में कहा गया है कि साल 2015 में ही नाम बदलने के लिए आरबीआई के सामने आवेदन कर चुका है. बैंक का कहना है कि बहुत से आयतकों और निर्यातकों को भी मुसीबतों का सामना करना पड़ा है क्‍योंकि बैंक के लेटर ऑफ क्रेडिट को दूसरे बैंक स्‍वीकार नहीं करते हैं. इसीलिए बैंक ने नाम से 'सीरियन' शब्‍द हटा दिया है. यह 10 जून 2019 से लागू हो चुका है.

ये भी पढ़ें- रुक जाएगा आपकी पेंशन का पैसा! अगर दो हफ्ते में जमा नहीं हुआ ये डॉक्युमेंट

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए इनोवेशन से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 19, 2019, 2:58 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर