CBI के बाद SBI ने दी ग्राहकों को चेतावनी! इस गलती से खाली हो सकता है करोड़ों ग्राहकों का खाता

CBI के बाद SBI ने दी ग्राहकों को चेतावनी! इस गलती से खाली हो सकता है करोड़ों ग्राहकों का खाता
SBI के जरिए यहां से करें खरीदारी, मिल रहा है भारी डिस्काउंट, आज है आखिरी मौका

Covid-19: SBI अपने ग्राहकों को साइबर हमलों (Cyber Attack) की चेतावनी दी है. बैंक ने रविवार को सोशल मीडिया पर एक पोस्ट कर इन राज्यों में ग्राहकों को फर्जी ईमेल से बचने के लिए आगाह किया.

  • Share this:
नई दिल्ली. देश के सबसे बड़े बैंक, भारतीय स्टेट बैंक (SBI) ने अपने ग्राहकों को संभावित साइबर हमलों के बारे में चेतावनी दी है. बैंक ने रविवार शाम को सोशल मीडिया पर एक पोस्ट कर कस्टमर को अलर्ट रहने के लिए कहा. पोस्ट में कुछ बड़े शहरों में संभावित साइबर हमलों के बारे में बताया गया है. ऐसे में एसबीआई ने ग्राहकों से अपील की है कि ये हमलावर COVID-19 के नाम पर फर्जी ई-मेल भेजकर लोगों से उनकी व्यक्तिगत और वित्तीय जानकारी चोरी कर रहे हैं. इससे पहले दिल्ली की साइबर सेल ने भी लोगों को वॉट्सऐप पर अपनी बैंक संबंधित जानकारी शेयर करने के लिए मना किया था. ये हैकर्स बैंक की डिटेल ले आपके अकाउंट को हैक कर रहे हैं.

एसबीआई ने रविवार को अपने एक ट्वीट में लिखा, हमारे संज्ञान में आया है कि भारत के प्रमुख शहरों में एक साइबर हमला होने वाला है. ncov2019@gov.in से आने वाले ईमेल, जिसका सब्जेट 'फ्री COVID-19 टेस्ट' दिया गया है उस पर क्लिक करने से बचें.
एसबीआई ने एक बयान में कहा कि लगभग 20 लाख भारतीयों की ईमेल आईडी साइबर अपराधियों ने चोरी कर ली है. हैकर्स ई-मेल आईडी ncov2019@gov.in से लोगों का फ्री में कोरोना टेस्ट करने के नाम पर उनकी व्यक्तिगत और बैंक की जानकारी प्राप्त कर रहे हैं. SBI ने देश के दिल्ली, मुंबई, हैदराबाद, चेन्नई और अहमदाबाद के लोगों को इस फर्जी ई-मेल के बारे में विशेष रूप से सावधान रहने के लिए कहा गया है.ये भी पढ़ें : कोरोना के इलाज के लिए दूसरी दवा को मिली मंजूरी, Hetero पेश करेगी इंजेक्शनभारतीय कंप्यूटर इमरजेंसी रिस्पोंस टीम (CERT-In) ने पहले ही इस संबंध में चेतावनी जारी कर हर सरकारी विभाग और संस्थान को इस बारे में आगाह किया गया है. इस बार ये हैकर आम लोगों को निशाना बनाने के लिए COVID-19 के नाम पर साइबर हमलों को अंजाम देने की कोशिश कर रहे हैं.

इससे पहले 2016 में भारतीय बैंकिंग संस्थानों को एक भयानक हैकर हमले का सामना करना पड़ा था, जिसमें देश के कई एटीएम प्रभावित हुए थे. जिसमें हैकर्स ने डेबिट कार्ड के पिन सहित सभी गोपनीय जानकारी चुरा ली थी. ग्राहकों की व्यक्तिगत जानकारी की गोपनीयता को खतरे में देख SBI ने कुछ दिनों के भीतर ही ज्यादा रिस्क वाले ग्राहकों के लगभग 6 लाख नए डेबिट कार्ड जारी किए. उसके बाकी बैंकों ने भी इसी तरह के कदम उठाए.



अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज