सावधान ... कहीं आपका डेबिड कार्ड या क्रेडिट कार्ड क्लोन तो नहीं हो रहा है?

सावधान ... कहीं आपका डेबिड कार्ड या क्रेडिट कार्ड क्लोन तो नहीं हो रहा है?
ई-सिम (E-sim upgrade ) के नाम पर हो रहा है फ्रॉड

Bank Fraud-पिछले कुछ समय से दिल्ली -एनसीआर समेत पंजाब , बिहार , बंगाल , झारखंड समेत कई राज्यों के लोगों को कॉल कर रहे हैं. आपके पास या आपके जानकार के पास भी ऐसे कॉल आता होगा , जो फर्जी कॉल सेंटर से साइबर ठग अक्सर ऐसा करते हैं ,

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 27, 2020, 9:38 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली.  "सर , मैं बैंक के कस्टमर सर्विस सेंटर से बोल रही हूं .. आपके मोबाइल सिम कार्ड की वैधता समाप्त हो रही है , इसके लिए अगर आप चाहते हैं की वो बंद नहीं हो , इसके लिए आपको अपना मोबाइल सिम कार्ड को अपग्रेड कराना होगा , नहीं तो कार्ड कभी भी बंद हो सकता है". इस तरह के साइबर फ्राड (Cyber fraud ) का कॉल पिछले कुछ समय से दिल्ली -एनसीआर समेत पंजाब , बिहार , बंगाल , झारखंड समेत कई राज्यों के लोगों को कॉल कर रहे हैं. आपके पास या आपके जानकार के पास भी ऐसे कॉल आता होगा , जो फर्जी कॉल सेंटर से साइबर ठग अक्सर ऐसा करते हैं. लेकिन वक्त के साथ -साथ अब वो साइबर ठग भी अपना ठगी का तरीका बदल रहे हैं.

दिल्ली पुलिस की साइबर सेल के वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक वो लोग अब ई-सिम (E-sim upgrade ) के नए कांसेप्ट के साथ फर्जीवाडे को अंजाम दिया जा रहा है. जिसके आधार पर साइबर ठग अब ई- सिम के नए सिस्टम का झांसा देकर लोगों को चूना लगाने में जुटे हुए है. पिछले एक महीने के दौरान कई मामले दिल्ली -एनसीआर में दर्ज हो रहे हैं .

क्या है नया ई-सिम फ्रॉड ? साइबर ठगी का कारोबार करने वाले लोग अब ठगी का नया तरीका बदल रहे हैं. क्योंकि पहले वो लोग कॉल करके आपका डेबिड कार्ड या क्रेडिट कार्ड का 16 डिजिट का नंबर और उससे संबंधित अन्य जानकारियों को लेने के बाद चंद मिनटों के अंदर ही आपका सारा बैंक बैलेंस या कार्ड में पैसे को खत्म करके चूना लगा देता था.



लेकिन अब लोग भी ये तरीका बहुत ज्यादा कारगर साबित नहीं हो रहा था , इसलिए अब ई -सिम कार्ड को अपग्रेड के नाम पर कॉल किया जा रहा है. दरअसल हाल में ही फरीदाबाद (Faridabad ) की पुलिस ने झारखंड स्थित जामताड़ा (Jamtara ) के रहने वाले चार आरोपियों को गिरफ्तार किया था.
उन लोगों ने पूछताछ के दौरान ये बताया है की हाल में ही उन चारों ने मिलकर करीब 300 से ज्यादा लोगों को ई -सिम कार्ड अपग्रेड करने के नाम पर फर्जीवाडे को अंजाम दे चुका है. जिसमें दिल्ली , यूपी , हरियाणा , पंजाब , बिहार , झारखंड के लोगों को विशेष तौर पर चूना लगाया है.

दरअसल कुछ बड़े मोबाइल कंपनियों द्वारा अपने लेटेस्ट वर्जन के मोबाइल में ई- सिम का कॉन्सेप्ट का विकल्प दिया है , उसी के नाम पर लोगों को लगता है की उसके नए मोबाइल के साथ -साथ ई- सिम में कई नए बदलाब और लुभावने ऑफर और सर्विस होगी , लिहाजा इसी लालच और नए सर्विस के चक्कर में लोग साइबर ठगों का शिकार बन रहे हैं.

इसी दौरान वो साइबर ठग ई -सिम को अपग्रेड करने के नाम पर आपसे सारी महत्वपूर्ण जानकारियों को ले लेता है और तुरंत ही आपके मोबाइल वाले सिम का डुप्लीकेट सिम बनाकर आपके बैंक खातों से पैसों को पार करके चूना लगा देता है . इसलिए लोगों को ऐसे मामलों से बचना चाहिए और अपनी महत्वपूर्ण जानकारी देने से बचना चाहिए.

VIDEO में देखिए कैसे कोरोना के नाम पर हो रहा फ्रॉड

दिल्ली पुलिस (Delhi police ) की स्पेशल सेल , आर्थिक अपराध शाखा और क्राइम ब्रांच (Crime Branch ) की टीम इस तरह के साइबर क्राइम के मामलों को रोकने के लिए कई कदम उठा रही है.

इस तरह के साइबर से जुड़े मामलों की ठगों को पकड़ने के लिए स्पेशल कई टीमों का गठन किया गया है. इस तरह के शिकायतों पर जल्द से जल्द कार्रवाई करने का प्रयास भी कर रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज