होम /न्यूज /व्यवसाय /Fraud Alert: OLX पर कुछ बेच रहे हैं तो सावधान! बाद में पछताना न पड़े

Fraud Alert: OLX पर कुछ बेच रहे हैं तो सावधान! बाद में पछताना न पड़े

OLX पर कुछ भी बेचते समय आपको ठगों से सावधान रहना है.

OLX पर कुछ भी बेचते समय आपको ठगों से सावधान रहना है.

OLX एक यदि आप कुछ बेचना चाहते हैं तो शौक से बेचिए, लेकिन कुछ बातें हैं जो आपको ध्यान में रखनी चाहिएं, वरना बाद में पछता ...अधिक पढ़ें

    नई दिल्ली. ऑनलाइन मार्केटप्लेस OLX एक यदि आप कुछ बेचना चाहते हैं तो शौक से बेचिए, लेकिन कुछ बातें हैं जो आपको ध्यान में रखनी चाहिएं, वरना बाद में पछताना पड़ सकता है. कुछ दिन पहले एक ऐसा ही केस आया है दिल्ली में. खरीदने वाले की बजाय चीज बेचने वाला पछता रहा है. चलिए जानते हैं क्या है पूरा किस्सा.

    दिल्ली निवासी रोहित के पास एक पुरानी बाइक थी. रोहित उसे बेचकर एक नई बाइक लेना चाहता था. पहले रोहित ने ऑटो मार्केट में बेचना चाहा, लेकिन वहां कम कीमत लगने की वजह से उसने अपनी बाइक के फोटो लेकर उसे OLX पर डाल दिया. उसने बाइक की कीमत डाली 18,000 रुपये.

    दो-तीन दिन तक लोग OLX पर बाइक को देखते रहे, लेकिन किसी ने रोहित से संपर्क नहीं किया. फिर एक व्यक्ति ने रोहित का नंबर लेकर फोन किया. उसने अपना नाम फिरोज़ बताया. फिरोज ने रोहित से कहा कि फोटो में देखने पर तो बाइक ठीक लग रही है, लेकिन वह उसे चलाकर देखना चाहता है. रोहित ने कहा कि उसे कोई दिक्कत नहीं है, और फिरोज को बुला लिया.

    ये भी पढ़ें –  Fraud Alert: जो गलती इस इंजीनियर से हुई, वो आप मत करना

    फिरोज रोहित के दिए पते पर पहुंचा और बाइक को चलाकर देखा. फिरोज ने कहा कि बाइक चलाने में भी ठीक है, लेकिन इसके लिए वह 18,000 रुपये नहीं दे सकता. उसने कहा कि वह मात्र 15,000 रुपये देगा.

    रोहित ने 15,000 में बाइक बेचने से इनकार करते हुए कहा कि इस कीमत पर बाइक को बेचना नहीं चाहता. फिरोज ने बात न बनते देख कहा कि 16,000 रुपये दे सकता हूं, इससे ज्यादा एक पैसा भी नहीं. इस पर रोहित ने सोचा कि ऑटो मार्केट में 15,000 रुपये मिल रहे थे, और फिरोज 16 हजार कह रहा है. सौदा ठीक है, किया जा सकता है. रोहित ने कहा कि ठीक है, आप 16 हजार रुपये दो और बाइक ले जाओ.

    फिरोज ने कहा कि फिलहाल उसके पास पैसे नहीं है, लेकिन वह 1-2 दिनों में पैसे चुकाकर बाइक ले लेगा. रोहित ने कहा कि ठीक है, जैसा आपको ठीक लगे.

    ये भी पढ़ें – Fraud Alert: फोन नंबर KYC कराने के बहाने एक लाख का फ्रॉड

    दो दिन बाद फिरोज ने रोहित को फोन किया और कहा– “मेरे पास अभी पैसे नहीं हैं. 16 हजार का इंतजाम करने में एक सप्ताह का समय और लगेगा.”

    रोहित: ओके, अगर इस बीच मुझे कोई और ग्राहक मिल गया तो फिर मैं उसको बेच दूंगा.

    फिरोज: अरे नहीं. बाइक अच्छी है और मुझे ही चाहिए. तो मैं ऐसा करता हूं कि आपको 2 हजार रुपये टोकन मनी अभी दे देता हूं. बाकी पैसा एक सप्ताह के अंदर-अंदर चुकाकर बाइक ले लूंगा. लेकिन बाइक की ऑनरशिप के कागज तुम्हें ही तैयार करवाने होंगे.”

    रोहित: ठीक है, तुम 2 हजार ट्रांसफर कर दो और अपनी डीटेल मुझे भेज दो. तब तक मैं बाइक की ऑनरशिप ट्रांसफर के कागज तैयार करवा लूंगा.”

    फिरोज: ठीक है, मैं आपको अभी 2 हजार रुपये Google Pay से ट्रांसफर कर रहा हूं, तुम बस उसे Accept कर लेना.

    रोहित: ओके..

    ये भी पढ़ें – Facebook पर “दोस्त” ने किया फ्रॉड, हकीकत पता चली तो उड़े होश

    फिरोज ने यहां पर गेम खेल दिया. फिरोज ने Google Pay से पैसा भेजने की बजाय पैसा लेने के लिए रिक्वेस्ट भेज दी. गूगल पे पर जब कोई आपसे पैसे की रिक्वेस्ट करता है और आप उसे अप्रूव कर देते हैं तो आपका पैसा सामने वाले के अकाउंट में चला जाता है. फिरोज ने रिक्वेस्ट की और रोहित ने उसे अप्रूव कर दिया. अप्रवूल के बाद UPI pin एंटर करते ही रोहित के खाते से 2 हजार रुपये निकल गए और फिरोज को मिल गए.

    तब से फिरोज का नंबर बंद जा रहा है और रोहित को समझ में नहीं आ रहा कि क्या करे. दो हजार रुपये के लिए पुलिस के चक्कर लगाए या फिर उसे भूल जाए.

    Tags: Cyber Fraud, Cyber ​​Thug, Online fraud, Savdhan Digital

    टॉप स्टोरीज
    अधिक पढ़ें