इंफोसिस ने दी बड़ी जानकारी, कहा- दुनिया की टॉप 100 ब्रांड्स की वैल्यु पर 22300 करोड़ डॉलर का रिस्क

दुनिया की टॉप 100 ब्रांड्स की वैल्यु पर 22300 करोड़ डॉलर का रिस्क

दुनिया की टॉप 100 ब्रांड्स की वैल्यु पर 22300 करोड़ डॉलर का रिस्क

देश की प्रमुख आईटी सेवा प्रदाता कंपनी इन्फोसिस ने आशंका जताई है कि डाटा ब्रीच से दुनिया के 100 सबसे मूल्यवान ब्रांड्स को 22,300 करोड़ डॉलर (223 बिलियन डॉलर) तक का नुकसान उठाना पड़ सकता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 10, 2021, 8:14 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली: देश की प्रमुख आईटी सेवा प्रदाता कंपनी इन्फोसिस ने आशंका जताई है कि डाटा ब्रीच से दुनिया के 100 सबसे मूल्यवान ब्रांड्स को 22,300 करोड़ डॉलर (223 बिलियन डॉलर) तक का नुकसान उठाना पड़ सकता है. कंपनी ने यह बात मंगलवार को बंगलूरू में आयोजित एक कार्यक्रम में कही है. इस जोखिम की पहचान करने के लिए, इन्फोसिस और इंटरब्रांड इस तरह की गतिविधियों की पहचान करने में देश में जानी जाती हैं.

इन्फोसिस और इंटरब्रांड देखते हैं कि डेटा के जोखिम से डेटा के लाभ से प्रौद्योगिकी, वित्तीय सेवाओं और ऑटो विनिर्माण जैसे उद्योग प्रभावित होने की संभावना है. इन्फोसिस के मुख्य सुरक्षा अधिकारी और साइबर सिक्योरिटी प्रैक्टिस के प्रमुख विशाल सालवी ने कहा कि दीर्घकालिक साइबर सुरक्षा का बाजार मूल्य देखा गया है.

यह भी पढ़ें: कोटक महिंद्रा बैंक के निवेशकों के लिए खुशखबरी! कंपनी जल्द कर सकती है डिविडेंड का ऐलान

आपको बता दें डाटा ब्रीच से इस जोखिम की मात्रा का निर्धारण करने के लिए इन्फोसिस और इंटरब्रांड ने उन कारकों की पहचान की जो किसी कंपनी में डाटा ब्रीच होने पर सबसे ज्यादा प्रभावित होते हैं. इसके बाद ब्रीच की स्थिति में जोखिम में आई ब्रांड वैल्यू का अनुमान लगाया.
जानें क्या है इससे खतरा?

इन्फोसिस और इंटरब्रांड ने पाया कि टेक्नोलॉजी, वित्तीय सेवाओं और ऑटोमोटिव उद्योग के सामने डाटा ब्रीच की वजह से ब्रांड वैल्यू पर अधिक असर पड़ने का खतरा है. वहीं, लग्जरी ब्रांड्स और उपभोक्ता वस्तुओं के मामले में उनकी आय के एक हिस्से पर बड़ा संकट बन सकता है.

यह भी पढ़ें: 15 मार्च को कमाई करने का मौका! यहां लगाएं सिर्फ 14950 रुपये और पहले ही दिन मिलेगा मोटा फायदा



इंटरब्रांड में भारतीय विपणन के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अमेय कपनादक ने कहा कि ब्रांड अपने ग्राहकों के साथ कैसे व्यवहार करते हैं, इसमें बदलाव किया गया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज