• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • GDP आंकड़े लुढ़कने के बाद भी वित्त मंत्री को उम्मीद, मोदी सरकार के कदम से 5 ट्रिलियन डॉलर का सपना होगा पूरा

GDP आंकड़े लुढ़कने के बाद भी वित्त मंत्री को उम्मीद, मोदी सरकार के कदम से 5 ट्रिलियन डॉलर का सपना होगा पूरा

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण

GDP आंकड़े जारी होने के ठीक एक दिन बाद वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) ने मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल में 6 महीने पूरे होने के बाद कहा कि कॉरपोरेट टैक्स में कटौती करना सरकार का ऐतिहासिक कदम.

  • Share this:
    नई दिल्ली. आर्थिक सुस्ती के बीच वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (FM Nirmala Sitharaman) ने एक बार फिर कहा है कि मोदी सरकार द्वारा कॉरपोरेट टैक्स दर (Corporate Tax Rate) में कटौती करना एक ऐतिहासिक कदम है. वित्त मंत्री ने इस बारे में एक ट्वीट भी किया है.

    ट्वीट में उन्होंने लिखा, 'देश में निवेश, औद्योगिक ग्रोथ बढ़ाने और 5 ट्रिलियन डॉलर की इकोनॉमी के लक्ष्य का पूरा करने के लिए मोदी सरकार ने कॉरपारेट टैक्स दर को दुनिया भर में सबसे कम कर दिया है.'

    GDP आंकड़े जारी होने के 1 दिन बाद वित्त मंत्री का बयान
    वित्त मंत्री ने लगातार कई ट्वीट में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) की अगुआई वाली सरकार को 6 महीने पूरा करने पर बधाई दी. ध्यान देने वाली बात है कि वित्त मंत्री की तरफ से ये ​ट्वीट एक ऐसे समय पर आ रहे हैं जब एक दिन पहले सकल घरेलू उत्पाद यानी जीडीपी ग्रोथ रेट के आंकड़े आए हैं. इन आंकड़ों के मुताबिक, वित्त वर्ष 2019-20 की दूसरी तिमाही में भारत की जीडीपी दर 4.5 फीसदी ही रही है, जोकि बीते 6 साल के न्यूनतम स्तर पर है.

    ये भी पढ़ें: PM-किसान सम्मान निधि योजना: आज जरूर लिंक करवा लें अपना आधार वरना नहीं मिलेंगे 6000 रुपए!
    कोर सेक्टर्स के भी आंकड़े​ गिरे
    बीते दिन ही 8 कोर सेक्टर्स के ​भी आंकड़े जारी किए गए. इन आंकड़ों के मुताबिक, अक्टूबर माह के दौरान 8 कोर इन्फ्रास्ट्रक्चर इंडस्ट्रीज का उत्पादन 5.8 फीसदी के स्तर पर आ गया है. इन आंकड़ों का साफ मतलब है कि आर्थिक सुस्ती अब चिंताजनक रूप लेती जा रही है. इसी सप्ताह में पहले सीतारमण ने राज्य सभा में कहा था कि भले ही आर्थिक ग्रोथ सुस्त है, लेकिन आर्थिक मंदी जैसे न तो हालात है और न ही देश में आर्थिक मंदी आने वाली है.


    जीडीपी ग्रोथ में गिरावट के ठीक बाद विपक्षी दलों ने एनडीए सरकार को अर्थव्यवस्था की हालात को लेकर आड़े हाथों लिया. जीडीपी आंकड़े जारी होने के ठीक बाद पूव प्रधानमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता डॉ मनमोहन सिंह (Dr. Manmohan Singh) ने कहा कि अर्थव्यवस्था की मौजूदा हालात चिंताजनक है.

     

    ये भी पढ़ें: 1 दिसंबर से बदल रही हैं आम आदमी से जुड़ी ये 4 चीजें, इंश्योरेंस से मोबाइल तक के कई नियम


    मनीष तिवारी का भी बयान
    कांग्रेस के ही एक और नेता मनीष तिवारी ने न्यूज एजेंसी ANI को कहा कि अर्थव्यवस्था की खराब हालत आर्थिक वजहों से नहीं है, बल्कि प्रशासनिक कारणों से है. सरकार के गवर्नेंस का गुजरात मॉडल फेल हो चुका है जोकि केवल सीबीआई, ईडी और इनकम टैक्स विभाग की मदद से चलता है.

    ये भी पढ़ें: हर दिन मात्र 400 रुपये बचाकर हो सकते हैं मालामाल! जानिए क्या है तरीका

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज