Home /News /business /

1 जनवरी से बदल जाएगा आपके डेबिट और क्रेडिट कार्ड से जुड़ा यह नियम, पढें इसकी पूरी जानकारी

1 जनवरी से बदल जाएगा आपके डेबिट और क्रेडिट कार्ड से जुड़ा यह नियम, पढें इसकी पूरी जानकारी

01 जनवरी से डेबिट/क्रेडिट कार्ड पेमेंट से जुड़ा नियम बदल जाएगा.

01 जनवरी से डेबिट/क्रेडिट कार्ड पेमेंट से जुड़ा नियम बदल जाएगा.

1 जनवरी 2021 से डेबिट और क्रेडिट कार्ड (Debit/Credit Card) के जरिए कॉन्टैक्टलेस लेनदेन की लिमिट बढ़ जाएगी. फिलहाल यह लिमिट 2,000 रुपये प्रति ट्रांजैक्शन की है, जोकि अब बढ़कर 5,000 रुपये तक हो जाएगी. आरबीआई ने इस नये नियम के लागू होने से जुड़ी सभी जानकारी दे दिया है.

अधिक पढ़ें ...
    नई दिल्ली. नये साल की शुरुआत के साथ ही डेबिट व क्रेडिट कार्ड से पेमेंट नियमों में बड़ा बदलाव होने जा रहा है. भारतीय रिज़र्व बैंक के गवर्नर शक्तिकांत दास ने इस महीने की शुरुआत में ही इसकी जानकारी दी है, जिसके तहत अब आप कॉन्टैक्टलेस डेबिट और क्रेडिट कार्ड्स से अधिकतम 5 हजार रुपये तक का भुगतान बिना किसी पिन के आसानी से कर सकेंगे. ये सुविधा 1 जनवरी 2021 से पूरे देश में लागू होगी. अभी तक कॉन्टैक्टलेस डेबिट और क्रेडिट कार्ड्स से केवल अधितम 2 हजार रुपये का भुगतान बिना पिन के किया जा सकता था. आपको बता दें कि One Nation One Card स्कीम के तहत भारतीय कंपनी RuPay कॉन्टैक्टलेस डेबिट और क्रेडिट कार्ड्स जारी की थी. इन कार्ड्स की मदद से आप पब्लिक ट्रांस्पोर्ट से लेकर शॉपिंग मॉल तक में आसानी से भुगतान कर सकते है.

    क्या होता है कि कॉन्टैक्टलेस डेबिट और क्रेडिट कार्ड?
    RuPay द्वारा पावर्ड इस कार्ड को नेशनल कॉमन मोबिलिटी कार्ड के तौर पर यूज किया जा सकता है. यह कार्ड एक तरह का स्मार्ट कार्ड होता है. दिल्ली मेट्रो में ऐसा ही कार्ड चलता है, जिसे आप रिचार्ज कराते हैं और मेट्रो में सफर कर सकते हैं. अब देश के सभी बैंक RuPay के जो भी नए डेबिट और क्रेडिट कार्ड जारी करेंगे उनमे नेशनल कॉमन मोबेलिटी कार्ड फीचर होगा. ये किसी और वॉलेट की तरह ही काम करेंगे.

    क्या होता है कॉन्टैक्टलेस ट्रांजैक्शन?
    इस टेक्नॉलजी की मदद से कार्ड होल्डर को ट्रांजैक्शन के लिए स्वाइप करने की जरूरत नहीं होती है. पॉइंट ऑफ सेल (POS) मशीन से कार्ड को सटाने पर पेमेंट हो जाता है. कॉन्टैक्टलेस क्रेडिट कार्ड में दो तकनीकों का इस्तेमाल किया जाता है - ‘नियर फील्ड कम्युनिकेशन’ यानी एनएफसी और ‘रेडियो फ्रीक्वेंसी आइडेंटिफिकेशन’ (RFID). जब इस तरह के कार्ड को इस तकनीक से लैस कार्ड मशीन के पास लाया जाता है, तो पेमेंट अपने-आप हो जाता है.

    यह भी पढ़ें: Ration Card में नाम कटने को लेकर हुआ बड़ा फैसला, जानिए सबकुछ

    मशीन की 2 से 5 सेंटीमीटर की रेंज में भी कार्ड को रखा जाए तो पेमेंट हो सकता है. इससे कार्ड को किसी मशीन में डालने या उसे स्वाइप करने की जरूरत नहीं पड़ती. न ही पिन या ओटीपी डालने की जरूरत होती है. कॉन्टैक्टलेस पेमेंट की अधिकतम सीमा 2,000 रुपए होती है, जिसे अब बढ़ाकर 5,000 रुपये कर दी जाएगी. एक दिन में पांच कॉन्टैक्टलेस ट्रांजैक्शन किए जा सकते हैं. इससे ज्यादा राशि के पेमेंट के लिए पिन डालने या ओटीपी की जरूरत होती है.

    कैसे मिलेगा कार्ड?
    इस कार्ड को पाने के लिए आपको अपने बैंक से संपर्क करना होगा. ये 25 बैंकों में उपलब्ध होने के साथ ही यह कार्ड पेटीएम पेमेंट बैंक द्वारा भी जारी किया जाता है. इस कार्ड को एटीएम पर इस्तेमाल करने पर 5 फीसदी का कैशबैक और विदेश यात्रा के दौरान मर्चेंट आउटलेट पर भुगतान करने पर 10 फीसदी का कैशबैक मिलता है. रुपे का यह कार्ड डिस्कवर और डाइनर्स क्लब इंटरनैशनल मर्चेंट्स के अलावा विदेश के एटीएम पर भी स्वीकार किया जाता है. इस कार्ड को एसबीआई, पीएनबी समेत देशभर के 25 बैंक उपलब्ध कराते हैं.

    कैसे काम करते हैं ये कार्ड्?
    इन सभी कार्ड्स पर एक खास निशान बना होता है. वहीं, जिन पेमेंट मशीनों पर इनका इस्तेमाल होता है. वहां भी एक खास चिह्न बना होता है. इस मशीन पर करीब 4 सेंटीमीटर की दूरी पर कार्ड रखना या दिखाना होगा और आपके खाते से पैसे कट जाएंगे. कार्ड को स्वाइप या डिप करने की जरूरत नहीं होगी और न ही पिन एंटर करना होगा.

    यह भी पढ़ें: 27 राज्यों को आत्मनिर्भर भारत के तहत 9880 करोड़ रुपये की विशेष सहायता राशि मंजूर...

    ज्यादा पेमेंट के लिए पिन और OTP जरूरी
    1 जनवरी के बाद 5 हजार रुपये से ज्यादा की पेमेंट के लिए ही पिन या ओटीपी लगेगा. यानी आपका कार्ड किसी और के हाथ लग जाए तो वह एक बार में कम से कम 5 हजार रुपए तक की शॉपिंग कर सकता है. हो सकता है कि जब तक आपको इसका पता चले, तब तक वह आपके खाते से इससे ज्यादा पैसे उड़ा चुका हो.

    कार्ड गुम होने पर किसी दूसरे को मिल गया तब क्या होगा?
    जानकारों का कहना है कि इस स्थिति में आपको तुरंत बैंक को सूचित कर कार्ड ब्लॉक करवाना होगा. अगर आपकी जानकारी में आने से पहले किसी ने शॉपिंग कर ली है, तो बैंक नुकसान की भरपाई करेगा.

    यह भी पढ़ें: SBI का स्टूडेंट्स के लिए खास ऑफर! YONO के साथ करें कंपीटिटिव एग्जाम की तैयारी, मिलेगा 20% डिस्काउंट

    आनंद महिंद्रा भी जता चुके हैं चिंता- महिंद्रा ग्रुप के चेयरमैन आनंद महिंद्रा ने वर्ष 2018 में एक वीडियो ट्वीट किया था, जिसमें एक व्यक्ति दूसरे व्यक्ति के पीछे की जेब में रखे कार्ड पर चुपके से मशीन टच कर रहा था और पेमेंट लेकर दिखा रहा था. महिंद्रा ने लिखा था ‘क्या ऐसा संभव है? यह डराने वाला है.' महिंद्रा के इस ट्वीट के जवाब में वीज़ा साउथ एशिया के कंट्री हेड टीआर रामचंद्रन ने लिखा, ‘ऐसा नहीं हो सकता. ऐसी ट्रिक करने वाले को सजा हो सकती है.'

    Tags: Business news in hindi, Credit card, Credit card limit, New Rule, RBI

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर