अपना शहर चुनें

States

एयर इंडिया तलाश रही एक हजार करोड़ रुपये का शॉर्ट टर्म लोन

कंपनी के निविदा दस्तावेज के अनुसार , एक हजार करोड़ रुपये का ऋण जून में एक या अधिक खेप के माध्यम से निकाला जाएगा.
कंपनी के निविदा दस्तावेज के अनुसार , एक हजार करोड़ रुपये का ऋण जून में एक या अधिक खेप के माध्यम से निकाला जाएगा.

कंपनी के निविदा दस्तावेज के अनुसार , एक हजार करोड़ रुपये का ऋण जून में एक या अधिक खेप के माध्यम से निकाला जाएगा.

  • Share this:
सार्वजनिक विमानन कंपनी एयर इंडिया ने त्वरित कार्यशील पूंजी जरूरतों को पूरा करने के लिए एक हजार करोड़ रुपये के अल्पकालिक ऋण का प्रस्ताव रखा है. कर्ज में फंसी सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनी लगातार तीसरे महीने 11 हजार से अधिक कर्मचारियों को वेतन देने में असफल रही है.

कंपनी के निविदा दस्तावेज के अनुसार , एक हजार करोड़ रुपये का ऋण जून में एक या अधिक खेप के माध्यम से निकाला जाएगा. कंपनी ने बैंकों से 13 जून तक प्रस्ताव रखने को कहा है. दस्तावेज में कहा गया है कि इस अल्पकालिक ऋण की अवधि (नवीकरणीय) एक साल की होगी.

उल्लेखनीय है कि कोष की कमी के बीच एयरलाइन ने पिछले साल सितंबर से इस साल जनवरी के बीच 6,250 करोड़ रुपये कर्ज लिये. यह कार्यशील पूंजी तथा अन्य जरूरतों को पूरा करने के लिये लिया गया. सरकार कर्ज में डूबी एयर इंडिया में 76 प्रतिशत हिस्सेदारी बेचने का प्रस्ताव किया है. लेकिन 31 मई तक रूचि पत्र जमा करने की अंतिम तिथि तक कोई बोलीदाता सामने नहीं आया.



विमानन कंपनी ने अपने कर्मचारियों को मई का वेतन अबतक नहीं दिया है. प्रवक्ता ने कल कहा था कि इसका वितरण अगले सप्ताह तक किये जाने की उम्मीद है. मार्च के बाद यह तीसरा मौका है जब एयरलाइन ने इस साल वेतन देने में देरी की है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज