बैंकों को पूंजी मिलने में हो सकती है देरी, तीसरी तिमाही में ऐलान संभव

बैंकों में पूंजी निवेश का फैसला लेने में देरी हो सकती है. केंद्र सरकार का मानना है कि बैंकों में फिलहाल पर्याप्त नकदी है. सरकार बैंकों की पहली तिमाही के सारे नतीजों के बाद समीक्षा करेगी.

News18Hindi
Updated: August 6, 2019, 2:41 PM IST
News18Hindi
Updated: August 6, 2019, 2:41 PM IST
बैंकों में पूंजी निवेश का फैसला लेने में देरी हो सकती है. केंद्र सरकार का मानना है कि बैंकों में फिलहाल पर्याप्त नकदी है. सरकार बैंकों की पहली तिमाही के सारे नतीजों के बाद समीक्षा करेगी. सूत्रों के मुताबिक सरकारी सेक्टर बैंकों (PSBs) में पूंजी निवेश का ऐलान तीसरी तिमाही में होने की संभावना है. सूत्रों के मुताबिक तीसरी तिमाही में 4 से 5 बैंकों को पूंजी दी जा सकती है. पिछले पांच वर्षों में सरकार तकरीबन 2.30 लाख करोड़ रुपये सरकारी बैंकों को दे चुकी है.

डिपॉजिट रेट घटाना पर्याप्त नकदी का संकेत
डिपॉजिट रेट घटाना पर्याप्त नकदी का संकेत है. SBI के बाद दूसरे बैंक डिपॉजिट रेट घटा सकते हैं. सरकारी बैंकों को बजट में आवंटित रकम दिए जाने की उम्मीद कम है. बजट में सरकार ने सरकारी बैंकों में 70,000 करोड़ रुपये पूंजी निवेश करने की घोषणा की थी. सूत्रों के मुताबिक पहली तिमाही के नतीजों के बाद सरकार इस पर समीक्षा करेगी.



इकोनॉमी की हालत सुधारने के लिए ये कदम उठाएगी मोदी सरकार!
वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि केंद्र सरकार ने अर्थव्यवस्था की हालत को तत्काल सुधारने के लिए कदम उठाने की योजना बनाई है. प्राइवेट डेटा ग्रुप सीएमआईई के मुताबिक, भारतीय अर्थव्यवस्था सकल घरेलू उत्पाद (GDP) विकास दर में सुस्ती तथा बेरोजगारी की समस्या से जूझ रही है और जुलाई में बेरोजगारी दर में साल दर साल आधार पर 2 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है.

ये भी पढ़ें: टाइटैनिक बनाने वाली 158 साल पुरानी कंपनी हो रही है दिवालिया, ये है वजह
Loading...

चुनौतियों से निपटने के लिए कदम उठाएगी सरकार
सीतारमण ने कहा, केंद्र सरकार उद्योगपतियों से मुलाकातें कर रही है और अर्थव्यवस्था के समक्ष चुनौतियों से निपटने के लिए कदम उठाएगी. वित्त मंत्री ने कहा, विदेशी मुद्रा में कर्ज जुटाने के लिए केंद्र सरकार विदेश में कब और कितनी मात्रा में सरकारी बॉन्ड जारी करेगी, इसपर अभी कोई फैसला नहीं किया गया है.

(आलोक प्रियदर्शी, संवाददाता- CNBC आवाज़)

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 6, 2019, 1:37 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...