..तो क्या बंद हो जाएंगी दिल्लीवालों की पसंदीदा कनॉट प्लेस और खान मार्केट की बड़ी दुकानें, इस वजह से मंडरा रहा है खतरा

..तो क्या बंद हो जाएंगी दिल्लीवालों की पसंदीदा कनॉट प्लेस और खान मार्केट की बड़ी दुकानें, इस वजह से मंडरा रहा है खतरा
..तो क्या बंद हो जाएंगी दिल्लीवालों की पसंदीदा कनॉट प्लेस और खान मार्केट!

वैश्विक महामारी कोरोना (Coronavirus) की वजह से 2 माह से अधिक का लॉकडाउन (Lockdown) लगाया गया. लॉकडाउन से हुए घाटे के चलते कारोबारी प्रतिष्ठानों के बंद होने का सिलसिला जारी है. कोरोना वायरस महामारी का असर रिटेल सेक्टर्स (Retail Sector) पर दिखना शुरू हो गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: June 10, 2020, 12:09 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. वैश्विक महामारी कोरोना (Coronavirus) की वजह से 2 माह से अधिक का लॉकडाउन (Lockdown) लगाया गया. लॉकडाउन से हुए घाटे के चलते कारोबारी प्रतिष्ठानों के बंद होने का सिलसिला जारी है. कोरोना वायरस महामारी का असर रिटेल सेक्टर्स (Retail Sector) पर दिखना शुरू हो गया है. दिल्ली के दो प्रमुख मार्केट खान मार्केट तथा कनॉट प्लेस (Khan Market & Connaught Place) में कई दिग्गज रिटेल स्टोर्स बंद हो सकते हैं. मकान मालिकों व दुकानदारों के बीच विवाद से यह नौबत आई है.

अब इस कड़ी में खान मार्केट का प्रतिष्ठित कॉफी शॉप-बुक स्टोर भी जुड़ गया है. किताबों की दुकान फुल सर्कल व इसके साथ जुड़ा कैफे टर्टल बंद हो गया है. इससे जुड़े लोगों के मुताबिक लॉकडाउन में बंदी के कारण पहले से ही दिक्कतें थीं. उस पर अधिक किराया होना, कर्मचारियों का वेतन तथा कैफे को अनलॉक -1 में शारीरिक दूरी के नियमों के साथ खोलना घाटे का सौदा हो गया है.

ये भी पढ़ें:- Railway ने टिकट चेकिंग के सिस्टम में किया बदलाव, अब जरूरी है ये काम करना



फुल सर्किल और कैफे टर्टल सहित 8-10 स्टोर्स खान मार्केट में बंद हो चुके 
देश के दो सबसे महंगे रिटेल लोकेशंस के 20 से अधिक रिटेलर्स अपने दुकान मालिक से बातचीत कर रहे हैं और अगर यह नाकाम होता है तो इनके शटर गिर सकते हैं. वहीं रेस्टॉरेंट एंड ट्रेडर्स एसोसिएशंस की माने तो फुल सर्किल और कैफे टर्टल सहित 8-10 स्टोर्स खान मार्केट में बंद हो चुके हैं और आने वाले दिनों में और भी बंद हो सकते हैं.

बिक्री नहीं होने की वजह से कई दुकानें बंद हो सकती हैं
न्यू दिल्ली ट्रेडर्स एसोसिएशन के प्रेजिडेंट अतुल भार्गव ने ET को बताया कि कनॉट प्लेस में लगभग 80% रिटेल स्टोर्स खुल चुके हैं. उन्होंने कहा कि इन दुकानों का किराया और मेंटनेंस बहुत अधिक है, ऐसी स्थिति में बिक्री नहीं होने की वजह से इनमें से कई दुकानें बंद हो सकती हैं. नेशनल रेस्टॉरेंट एसोसिएशन ऑफ इंडिया (NRAI) के ट्रेजरर मनप्रीत सिंह ने कहा कि उन्होंने कनॉट प्लेस स्थित अपना रेस्टॉरेंट जेन नहीं खोला है, क्योंकि उसकी मेंटनेंस काफी अधिक है.

ये भी पढ़ें:- SBI ने दी चेतावनी! अगर फ़ोन में रखा है ये ऐप तो खाली हो सकता है बैंक खाता

इस विवाद पर किरायेदार और दुकान मालिक का अलग-अलग रुख है. फुल सर्किल और कैफे टर्टल की मालकिन प्रियंका मल्होत्रा ने बताया कि लॉकडाउन से पहले फुल सर्किल के एक निदेशक ने रिटेल स्पेस के मालिक से मुलाकात की थी. उन्होंने कहा कि हमने उन्हें लॉकडाउन की अवधि का किराया माफ करने के लिए कहा, लेकिन हमें उनकी तरफ से कोई जवाब नहीं मिला.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज