जल्द शुरू हो सकती है दिल्ली मेट्रो, अब डेबिट या क्रेडिट से भी दे सकेंगे किराया

जल्द शुरू हो सकती है दिल्ली मेट्रो, अब डेबिट या क्रेडिट से भी दे सकेंगे किराया
दिल्ली मेट्रो की सेवाएं जल्द शुरू हो सकती हैं.

Delhi Metro: उम्मीद की जा रही है कि केंद्र सरकार 15 अगस्त के बाद मेट्रो सेवाएं शुरू करने का फैसला ले सकती है. साथ ही दिल्ली मेट्रो सर्विस के फेयर कलेक्शन सिस्टम समेत कई तरह के बदलाव की भी तैयारी चल रहा है.

  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना वायरस के मद्देनजर लॉकडाउन के ऐलान के बाद से बंद पड़ी दिल्ली मेट्रो (Delhi Metro Service) जल्द शुरू हो सकती है. उम्मीद की जा रही है कि आगामी 15 अगस्त के बाद केंद्र सरकार दिल्ली मेट्रो का परिचालन शुरू करने का फैसला ले सकती है. मनीकंट्रोल ने अपनी एक रिपोर्ट में कहा है कि केंद्र सरकार से परिचालन की मंजूरी मिलने के बाद दिल्ली मेट्रो में यात्रियों का सफर और आरामदायक हो जाएगा. यात्रियों को टोकन खरीदने या स्मार्ट कार्ड (Metro Smart Card) रिचार्ज कराने के लिए लंबी-लंबी लाइनों में खड़ा नहीं होना होगा. दिल्ली मेट्रो में आने वाले समय में सफर करने के लिए आप डेबिट और क्रेडिट कार्ड का प्रयोग कर पाएंगे. इससे स्मार्ट कार्ड रिचार्ज कराने की समस्या भी खत्म हो जाएगी.

फेयर कलेक्शन सिस्टम में होगा बदलाव
दरअसल, डीएमआरसी (DMRC) अपने ऑटोमैटिक फेयर कलेक्शन सिस्टम (Automatic fare collection system) को अपग्रेड करने जा रहा है. इस साल दिसंबर में इसका पायलट प्रोजेक्ट एयरपोर्ट एक्सप्रेस लाइन पर शुरू किया जाएगा. अगर यह सफल रहा तो अगले एक वर्ष के अंदर यह सुविधा दिल्ली मेट्रो में शुरू हो जाएगी. दिल्ली मेट्रो अपने पूरे फेयर कलेक्शन को मेट्रो फेज चार के तीन कॉरीडोर को ध्यान में रखकर अपग्रेड करने जा रहा है.

कॉन्टेक्टलेस सिस्टम के साथ डिजिटाइजेशन को बढ़ावा देने के मकसद से डीएमआरसी ने यह फैसला लिया है. इसके तहत पूरे फेयर कलेक्शन सिस्टम को प्वाइंट ऑफ सेल (PoS - Point of Sale) के साथ इंटीग्रेट किया जाएगा. इसके साथ ही टिकटिंग मशीन को भी पीओएस मशीन के साथ इंटीग्रेट किया जाएगा. इससे स्मार्ट कार्ड को डेबिट और क्रेडिट कार्ड से रिचार्ज कराने में भी आसानी होगी.
यह भी पढ़ें: टैक्स से जुड़े मामलों को निपटाने के लिए उठाएं विवाद से विश्वास स्कीम का फायदा



मेट्रो कार्ड से जुर्माना भरने की सुविधा
दिल्ली मेट्रो में जुर्माने का भुगतान भी अब मेट्रो स्मार्ट कार्ड से कर पाएंगे. अभी तक स्मार्ट कार्ड में पैसा होने के बाद भी आपको कैश देकर ही जुर्माना भरने का प्रावधान था. दिल्ली मेट्रो ऑटोमैटिक फेयर कलेक्शन सिस्टम को अपग्रेड करने के साथ पुराने ऑटोमैटिक फेयर कलेक्शन गेट को भी बदल रही है. ऐसे 600 एएफसी गेट को चिन्हित किया गया है, जिसे बदला जा रहा है. ये गेट बहुत पुराने हैं या खराब हो चुके हैं. इसके अलावा दिल्ली मेट्रो ऑटोमैटिक फेयर कलेक्शन सिस्टम में अभी किराए के लिए 32 नेटवर्क जोन हैं जिसे दोगुना करने का तैयारी है. DMRC ने कहा कि कुल 64 नेटवर्क जोन बनाए जाने की तैयारी है. इसके अलावा मौजूदा सिस्टम में अभी 256 मेट्रो स्टेशन की क्षमता है. उसे बढ़ाकर 512 मेट्रो स्टेशन किया जा रहा है.

मेट्रो सेवाएं शुरू होने की संभवना
पिछले साढ़े चार महीने से बंद दिल्ली मेट्रो एक बार फिर यात्रियों को सेवाएं देने के लिए तैयार है, लेकिन DMRC को केंद्र सरकार की मंजूरी मिलने का इंतजार है. कोरोना संक्रमण प्रसार को रोकने के लिए 22 मार्च से दिल्ली मेट्रो की सेवाएं बंद हैं. इससे DMRC को करोड़ों रुपये का नुकसान हो रहा है.

यह भी पढ़ें: 15 हजार कमाने वाले को सरकार हर साल देगी 36 हजार, जानिए स्कीम के बारे में सबकुछ

इतने लंबे समय तक मेट्रो की सेवाएं बंद रहने से होने वाले नुकसान के कारण DMRC ने बकाया लोन चुकाने में भी असमर्थता जाहिर की है. DMRC को उम्मीद हा कि 15 अगस्त के बाद सरकार मेट्रो का परिचालन शुरू करने का आदेश दे सकती है. DMRC के कार्यकारी निदेशक (जनसंपर्क) अनुज दयाल ने कहा कि अगर मेट्रो सेवाएं शुरू करने की अनुमति मिलती है तो DMRC की वित्तीय स्थिति में सुधार होगा. उन्होंने कहा कि दिल्ली मेट्रो ने संक्रमण से बचाव के सभी इंतजाम किए हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज