Delhi-NCR में दूध को लेकर हो सकता है बड़ा संकट, तेजी से बढ़ रही डेयरी प्रोड्क्ट की डिमांड

दिल्ली-एनसीआर में बढ़ रही है दूध की जरूरत

दिल्ली-एनसीआर में बढ़ रही है दूध की जरूरत

सरकार की एक रिपोर्ट के मुताबिक, दिल्ली-एनसीआर (Delhi-NCR) में दूध की जरूरत लगातार बढ़ रही है. आने वाले वक्त में दिल्ली को 20 से 25 लाख लीटर और दूध (Milk) की रोजाना जरूरत पड़ने वाली है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 10, 2021, 9:27 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली अपने दूध उत्पादन के नाम पर तो न के बराबर है, लेकिन उसकी दूध और दूध से बने सामान की जरूरतें लगातार बढ़ती ही जा रही हैं. दिल्ली में दूध की जरूरत ने यूपी (UP), राजस्थान, मध्य प्रदेश और गुजरात (Gujrat) समेत ऐसे राज्यों को भी पीछे छोड़ दिया है जहां खुद का दिल्ली से ज्यादा दूध उत्पादन है. काफी हद तक अमूल और मदर डेयरी दिल्ली-एनसीआर (Delhi-NCR) की दूध की जरूरत के पूरा कर रही हैं. लेकिन केन्द्र सरकार की एक रिपोर्ट के मुताबिक यह जरूरत लगातार बढ़ रही है. आने वाले वक्त में दिल्ली 20 से 25 लाख लीटर और दूध (Milk) की रोजाना जरूरत पड़ने वाली है.

हाल ही में केन्द्र सरकार ने संसद में एक रिपोर्ट पेश की थी. रिपोर्ट के मुताबिक मौजूदा वक्त में दिल्ली में रह रहे प्रति व्यक्ति को 601 एमएल दूध की रोजाना जरूरत है. जबकि धीरे-धीरे कर 2030 तक प्रति व्यक्ति की यह जरूरत 833 एमएल हो जाएगी. जबकि कुछ छोटे प्लांट और शहर के बाहर चल रहीं छोटी-छोटी डेयरियों की बात करें तो दिल्ली में रोजाना 15 लाख लीटर दूध का ही उत्पादन है. इसमे कुछ प्लांट अमूल और मदर डेयरी के भी हैं. जबकि जानकारों का कहना है कि आज के वक्त में दिल्ली को रोजाना कम से कम 75 से 80 लाख लीटर दूध की जरूरत है.

अमूल से 44 तो मदर डेयरी से जाता है 25 लाख लीटर दूध



सरकारी आंकड़ा बताता है कि दिल्ली-एनसीआर में अमूल दूध का सबसे बड़ा वितरक है. अमूल दिल्ली-एनसीआर में रोजाना 44 लाख लीटर दूध सप्लाई करता है. जबकि मदर डेयरी अकेली दिल्ली में ही 25 लाख लीटर दूध की सप्लाई देती है. जानकार बताते हैं कि अमूल और मदर डेयरी के मुकाबले दिल्ली में मामूली सा योगदान हरियाणा की दूध कंपनी वीटा का भी है.
Alibaba को भी पीछे छोड़ेगा इंडिया का ये ई-कॉमर्स पोर्टल, 11 मार्च को हो रहा है लॉन्च

मदर डेयरी के दिल्ली में 1400 रिटेल आउटलेट और 1000 स्पेशल आउटलेट हैं. वहीं अमूल के दिल्ली-एनसीआर में 12 डेयरी प्लांट हैं. इसके अलावा यूपी, हरियाणा, मध्य प्रदेश और गुजरात भी दिल्ली की जरूरत को पूरा करता है.

किस राज्य में कितने दूध का है उत्पादन

सरकार की ओर से संसद में रखी गई रिपोर्ट के मुताबिक हरियाणा में 71.25 लाख लीटर दूध का रोजाना उत्पादन होता है. वहीं यूपी में 44.13, राजस्थान 31.60, पंजाब 24.85, मध्य प्रदेश 15.18 और गुजरात में 278 लाख लीटर दूध का रोजाना उत्पादन होता है. दूध की जरूरत के मामले में पहले नंबर पर हरियाणा में प्रति व्यक्ति 846 एमएल की जरूरत है, पंजाब 648, दिल्ली 601, राजस्थान 510, गुजरात 493, यूपी 360 और मध्य प्रदेश में प्रति व्यक्ति को 241 एमएल दूध की रोजाना जरूरत है. परेशान करने वाली बात यह है कि वक्त के साथ उन राज्यों की जरूरत भी बढ़ेगी जो दिल्ली-एनसीआर को दूध की सप्लाई दे रहे हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज