Home /News /business /

Delhi Bandh: कपड़ा पर GST बढ़ोत्‍तरी से खफा व्यापारी सड़कों पर उतरे, कल करेंगे द‍िल्‍ली बंद

Delhi Bandh: कपड़ा पर GST बढ़ोत्‍तरी से खफा व्यापारी सड़कों पर उतरे, कल करेंगे द‍िल्‍ली बंद

जीएसटी दरों में वृद्धि को लेकर द‍िल्‍ली के व्‍यापारी खासकर रेडीमेड गारमेंट से जुड़े व्‍यापारी बेहद खफा हैं.

जीएसटी दरों में वृद्धि को लेकर द‍िल्‍ली के व्‍यापारी खासकर रेडीमेड गारमेंट से जुड़े व्‍यापारी बेहद खफा हैं.

Delhi Bandh: सीटीआई के चेयरमैन बृजेश गोयल ने बताया कि आज सभी व्यापारी संगठनों ने कपड़े पर जीएसटी की दर को बढ़ाने का पुरजोर विरोध किया और केन्द्र सरकार से इसे लागू नहीं करने का अनुरोध किया. कल 30 दिसंबर को दिल्ली में कपड़ों पर जीएसटी के विरोध में दिल्ली की 1 लाख दुकानें बंद रहेंगी जिसमें प्रमुख बाजार चांदनी चौक, गांधी नगर, करोल बाग, ओखला, शांति मौहल्ला, लाजपत नगर, रोहिणी, पीतमपुरा आदि आते हैं.

अधिक पढ़ें ...

    नई द‍िल्‍ली (भूपेन्‍द्र पांचाल). केंद्र सरकार (Central Government) ने कपड़ों पर जीएसटी दरों में वृद्धि (GST Raise) की है. इस वृद्ध‍ि को लेकर द‍िल्‍ली के व्‍यापारी खासकर रेडीमेड गारमेंट से जुड़े व्‍यापारी बेहद खफा हैं. इसके व‍िरोध में कल 30 द‍िसंबर को बाजाद बंद का ऐलान क‍िया है ज‍िसमें दिल्ली के थोक खरीददारी के लिए मशहूर चांदनी चौक, गांधी नगर, करोल बाग, ओखला, शांति मौहल्ला, लाजपत नगर, रोहिणी, पीतमपुरा आदि की मार्केट्स बंद रहेंगी. केंद्र सरकार के इस फैसले का सभी बाजारों में विरोध क‍िया जा रहा है.

    इस कड़ी में व्यापारियों के शीर्ष संगठन चैम्बर ऑफ ट्रेड एंड इंडस्ट्री (CTI) के नेतृत्व में कनॉट प्लेस में व्यापारियों ने विरोध प्रदर्शन किया जिसमें कपड़ा, रेडीमेड गारमेंट्स, साड़ी सूट से जुड़े व्यापारी संगठनों ने हिस्सा लिया. संगठन का का कहना है क‍ि जीएसटी काउंसिल द्वारा प्रस्ताव दिया गया है कि 1 जनवरी से कपड़े पर जीएसटी को 5% से बढ़ाकर 12% कर दिया जाए ज‍िसका चौतरफा व‍िरोध क‍िया जा रहा है.

    ये भी पढ़ें: Delhi Bandh: GST की बढ़ी दरों से खफा व्‍यापारी, 30 द‍िसंबर को बंद रहेंगी द‍िल्‍ली के ये सभी रेडीमेड कपड़ा मार्क‍िट्स 

    सीटीआई के चेयरमैन बृजेश गोयल और महासचिव रमेश आहूजा ने बताया कि आज सभी व्यापारी संगठनों ने कपड़े पर जीएसटी की दर को बढ़ाने का पुरजोर विरोध किया और केन्द्र सरकार से इसे लागू नहीं करने का अनुरोध किया.

    कल 30 दिसंबर को दिल्ली में कपड़ों पर जीएसटी के विरोध में दिल्ली की 1 लाख दुकानें बंद रहेंगी जिसमें प्रमुख बाजार चांदनी चौक, गांधी नगर, करोल बाग, ओखला, शांति मौहल्ला, लाजपत नगर, रोहिणी, पीतमपुरा आदि आते हैं. उन्‍होंने कहा क‍ि चांदनी चौक मर्केंटाइल एसोसिएशन के श्री भगवान बंसल, मुकेश सचदेवा, गांधी नगर के अध्यक्ष के के बल्ली, करोल बाग के अध्यक्ष सतवंत बंता, टैंक रोड़ के उपाध्यक्ष राजेश आहूजा ने बयान जारी करके 30 दिसंबर के बंद का ऐलान किया.

    बृजेश गोयल ने बताया कि आजादी के बाद से जीएसटी आने तक कपड़ा टैक्स फ्री था. लेकिन जब जीएसटी लागू किया गया तो कपड़े पर 5% जीएसटी लगा दिया गया था और अब केन्द्र सरकार जले पर नमक छिड़कते हुए इस पर जीएसटी बढ़ाकर 12% करने जा रही है. इससे कपड़े‌ काफी महंगे हो जाएंगे और आम जनता को भी इसका बोझ उठाना पड़ेगा.

    सरकार ने कफन पर भी टैक्स लगा दिया. अगर 12% जीएसटी लगा दिया गया तो व्यापारी के पास पूंजी नहीं बचेगी और ना केवल हजारों छोटे-छोटे कारखाने बंद हो जायेंगे बल्कि टैक्स चोरी भी बढ़ेगी. चीन और बांग्लादेश से प्रतिस्पर्धा करना मुश्किल हो जाएगा.

    Tags: Business news in hindi, Delhi news, Gst, Gst news, Textile Business, Textile Market, Textiles

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर