Home /News /business /

Stock Market Trading के लिये KYC हुई अनिवार्य, इसके बिना डीमैट और ट्रेडिंग अकाउंट हो जाएंगे बंद, चेक करें डेडलाइन

Stock Market Trading के लिये KYC हुई अनिवार्य, इसके बिना डीमैट और ट्रेडिंग अकाउंट हो जाएंगे बंद, चेक करें डेडलाइन

KYC नहीं कराने पर शेयर मार्केट में ट्रेडिंग नहीं कर पायेंगे. सभी अकाउंट्स के लिए छह जानकारियां देना अनिवार्य बना दिया है.

KYC नहीं कराने पर शेयर मार्केट में ट्रेडिंग नहीं कर पायेंगे. सभी अकाउंट्स के लिए छह जानकारियां देना अनिवार्य बना दिया है.

डीमैट या ट्रेडिंग अकाउंट की KYC नहीं कराने पर शेयर बाजार में खरीद-फरोख्‍त नहीं कर पायेंगे. अकाउंट्स से लेनदेन करते रहने के लिए छह जानकारियां देना अनिवार्य कर दिया गया है.

नई दिल्‍ली. अगर आप शेयर मार्केट (Share Market) में ट्रेडिंग करते हैं तो ये खबर आपके काम की है. आपको अपने डीमैट (Demat)  और ट्रेडिंग अकाउंट (Trading Account) की केवाईसी करानी होगी. ऐसा नहीं करने पर आपका अकाउंट बंद हो जाएगा और आप शेयर बाजार में काम नहीं कर पाएंगे.

1 जून 2021 के बाद खुलने वाले सभी अकाउंट्स के लिए छह जानकारियां देना अनिवार्य कर दिया गया है. निवेशकों को KYC अपडेट कराने के लिए 31 मार्च 2022 तक का समय दिया गया है. अगर ये जानकारियां अपडेट नहीं की जाती हैं तो आपका डीमैट अकाउंट (Demat Account) डिएक्टिवेट यानी बंद कर दिया जाएगा. फिर ये जानकारियां अपडेट होने के बाद ही उसे दोबारा एक्टिवेट किया जाएगा.

ये भी पढ़ें : Rakesh Jhunjhunwala का भरोसा इस स्‍टॉक पर बरकरार, विदेशी निवेशकों ने भी बढ़ाई हिस्‍सेदारी

कैसे पूरी करें केवाईसी प्रक्रिया

NSDL के मुताबिक, डीमैट और ट्रेडिंग अकाउंट रखने वाले निवेशकों को नो योर कस्टमर (KYC) प्रक्रिया के 6 जानकारियां देनी जरूरी हैं. इसमें नाम, पता, पैन डिटेल (PAN Details), मोबाइल नंबर, ई-मेल आईडी और सालाना आय (Annual Income) शामिल है. जो डीमैट अकाउंट होल्‍डर ने इनकम (Income), मोबाइल नबर (Mobile Number), ईमेल आईडी (Email ID) अपडेट नहीं करेगा तो उसका अकाउंट डिएक्टिवेट हो जाएगा.

खाते में पड़े शेयर्स का क्‍या होगा

अकाउंट डिएक्टिवेट होने पर खाते में पहले से मौजूद शेयर या पोर्टफोलियो बने रहेंगे. लेकिन, नई तरह की कोई भी खरीद-फरोख्त नहीं कर पाएंगे. यह खाता दोबारा तभी सक्रिय होगा जब उसमें केवाईसी डिटेल को अपडेट किया जाएगा. इस बारे में सीडीएसएल और एनडीएसएल ने पहले ही सर्कुलर जारी किया है.

ये भी पढ़ें :   Mutual Funds SIP : एक्सपर्ट के बताए इस फॉर्मूले को अपनाएं और कम रिस्क में ज्यादा मुनाफा कमाएं

शेयर बाजार में बढ़ा रुझान

कोरोना काल में शेयर बाजार की ओर निवेशकों का रुझान बढ़ा है. NSE के ताजा आंकड़ों से इसकी पुष्टि होती है. NSE के मुताबिक करेंट फिस्कल ईयर के दौरान चार महीनों से कम समय में उसके प्लेटफॉर्म पर 50 लाख से अधिक नए निवेशकों का रजिस्ट्रेशन हुआ है.

शेयर मार्केट का काम पारदर्शी बने और शेयरहोल्डिंग की पूरी जानकारी मिल सके, इसके लिए केवाईसी पर जोर दिया जा रहा है. केवाईसी से सेबी के पास शेयर खरीद-बिक्री का पूरा हिसाब रहेगा. इससे टैक्स चोरी पर भी लगाम लग सकेगी.

Tags: NSE, Stock market

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर