Home /News /business /

सरकार के संरक्षण वाली इस स्‍कीम में हर महीने जमा करें 5000 रुपये, मिलेंगे पूरे 15 लाख, चेक करें डिटेल्‍स

सरकार के संरक्षण वाली इस स्‍कीम में हर महीने जमा करें 5000 रुपये, मिलेंगे पूरे 15 लाख, चेक करें डिटेल्‍स

केंद्र सरकार छोटी बचत योजना की ब्‍याज दरें हर तीन महीने में तय करती है. इस पर चक्रवृद्धि ब्‍याज मिलता है.

केंद्र सरकार छोटी बचत योजना की ब्‍याज दरें हर तीन महीने में तय करती है. इस पर चक्रवृद्धि ब्‍याज मिलता है.

राष्‍ट्रीय बचत संगठन ने 1968 में पीपीएफ (PPF) की शुरुआत छोटी बचत योजना के तौर पर की थी. पीपीएफ अकाउंट में आपको 15 साल की अवधि के लिए निवेश करना होता है. इस इस पीपीएफ अकाउंट पर 7.10 फीसदी की दर से ब्याज मिल रहा है.

    नई दिल्‍ली. अगर आप किसी ऐसे निवेश विकल्‍प की तलाश कर रहे हैं, जिसमें कम से कम जोखिम पर अच्‍छा मुनाफा कमाया जा सके तो पब्लिक प्रोविडेंट फंड (PPF) बेहतर साबित हो सकता है. इसमें आप महज 500 रुपये से निवेश की शुरुआत कर सकते हैं. पीपीएफ में निवेश पर जोखिम बिल्कुल नहीं (No Risk Investment) होता है. दरअसल, इस स्‍कीम को सरकार से पूरी तरह से संरक्षण मिला हुआ है. इसमें निवेश कर अच्‍छा मुनाफा (Good Return) कमाने के लिए सावधानी से निवेश करने की जरूरत भर है. इस स्‍कीम में लंबी अवधि में निवेश (Long Term Investment) करने पर बेहतर रिटर्न हासिल किया जा सकता है.

    राष्‍ट्रीय बचत संगठन ने 1968 में पीपीएफ की शुरुआत छोटी बचत योजना के तौर पर की थी. पीपीएफ में मौजूदा ब्‍याज दरों (PPF Interest) पर हर महीने 5000 रुपये का निवेश कर 15 लाख रुपये का फंड इकट्ठा किया जा सकता है. हालांकि, इसके लिए आपको 15 साल की अवधि के लिए निवेश करना होगी. बता दें कि इस इस पीपीएफ अकाउंट पर 7.10 फीसदी की दर से ब्याज मिल रहा है. आप 5,000 रुपये प्रति माह के आधार 15 साल में कुल 9 लाख रुपये जमा करेंगे. इस पर मौजूदा दर के हिसाब से आपको 6,77,840 रुपये ब्‍याज मिलेगा यानी मैच्योरिटी पर आपको 15.78 लाख रुपये मिलेंगे.

    ये भी पढ़ें- PM KISAN: इस कार्ड के बिना नहीं मिलेगी पीएम किसान सम्‍मान निधि की 10वीं किस्‍त, चेक करें रजिस्‍ट्रेशन की प्रक्रिया

    7 से 8 फीसदी के बीच रहती है ब्‍याज दर
    केंद्र सरकार हर तिमाही में पीपीएफ अकाउंट पर मिलने वाली ब्याज दर में बदलाव करती है. ब्याज दर आमतौर पर 7 से 8 फीसदी के बीच ही रहती है, जो आर्थिक स्थिति को देखते हुए कम या ज्‍यादा की जाती है. मौजूदा ब्याज दर 7.1 फीसदी कई बैंकों के फिक्स्ड डिपॉजिट से ज्यादा है. पीपीएफ अकाउंट में कम से कम 500 रुपये और ज्‍यादा से ज्‍यादा 1.5 लाख रुपये सालाना निवेश कर सकते हैं. इसका मैच्योरिटी पीरियड 15 साल होता है. इसके बाद आप इन पैसों को निकाल सकते हैं या फिर हर 5 साल के लिए आगे बढ़ा सकते हैं.

    ये भी पढ़ें- आम उपभोक्‍ता को झटका! त्योहारी मांग बढ़ने से खाद्य तेल हुए महंगे, कितना हो गया सरसों के तेल का भाव?

    1000 रुपये महीने से कैसे मिलेंगे 12 लाख
    अगर आप पीपीएफ अकाउंट में हर महीने 1000 रुपये जमा करते हैं तो 15 साल में आपकी निवेश राशि 1.80 लाख रुपये होगी. इस पर 1.45 लाख रुपये ब्याज मिलेगा यानी मैच्योरिटी के बाद आपको कुल 3.25 लाख रुपये मिलेंगे. अब अगर आप इस रकम को निकालने के बजाय अगले 5 साल के लिए पीपीएफ अकाउंट में रहने देते हैं और हर महीने 1000 रुपये का निवेश जारी रखते हैं तो आपकी कुल निवेश राशि 2.40 लाख रुपये हो जाएगी. इस रकम पर 2.92 लाख रुपये का ब्याज मिलेगा.

    इस तरह मैच्योरिटी के बाद आपको 5.32 लाख रुपये मिलेंगे. अगर आप 15 साल की मैच्योरिटी अवधि पूरी होने के बाद तीन बार 5-5 साल के लिए बढ़ाते हैं और हर महीने 1000 रुपये का निवेश जारी रखते हैं तो कुल निवेश राशि 3.60 लाख रुपये हो जाएगी. इस पर 8.76 लाख रुपये ब्याज मिलेगा. इस तरह मैच्योरिटी पर कुल 12.36 लाख रुपये मिल जाएंगे.

    ये भी पढ़ें- Paytm IPO को सेबी की मंजूरी के बाद जमकर नाचे संस्‍थापक विजयशेखर शर्मा, हर्ष गोयनका ने ट्वीट किया वीडियो

    मिलती है लोन की सुविधा भी
    अगर आपने PPF में निवेश किया है तो इस अकाउंट पर लोन भी लेने की सुविधा मिलती है. इसका फायदा अकाउंट खुलने के तीसरे या छठे साल में मिलेगा. पीपीएफ अकाउंट के 6 साल पूरे होने पर थोड़ा बहुत पैसे भी निकाल सकते हैं.

    Tags: Earn money, Investment and return, Provident Fund, Provident fund savings, Public Provident Fund, Small Savings Schemes, Tax saving options

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर