• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • Jewar Airport के डिजाइन में दिखेगी भारतीय विरासत की झलक, चेक करें डिटेल्‍स

Jewar Airport के डिजाइन में दिखेगी भारतीय विरासत की झलक, चेक करें डिटेल्‍स

नोएडा अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा दिल्ली के इंदिरा गांधी हवाई अड्डे से 80 किमी दूर गौतमबुद्धनगर जिले में बन रहा है. (सांकेतिक फोटो)

नोएडा अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा दिल्ली के इंदिरा गांधी हवाई अड्डे से 80 किमी दूर गौतमबुद्धनगर जिले में बन रहा है. (सांकेतिक फोटो)

Jewar Airport: नोएडा अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा (Noida International Airport) दिल्ली के इंदिरा गांधी अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे (IGI) से लगभग 80 किलोमीटर दूर गौतमबुद्धनगर जिले में स्थित जेवर में बन रहा है. जेवर हवाई अड्डे को स्विस कंपनी ज्यूरिख इंटरनेशनल एयरपोर्ट (ZIA) एजी द्वारा 29,560 करोड़ रुपये की अनुमानित लागत से विकसित किया जा रहा है.

  • Share this:
    नोएडा. उत्‍तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ ( CM Yogi Adityanath) ने जेवर हवाई अड्डे (Jewar Airport) के प्रस्तावित डिजाइन से प्रभावित होकर अधिकारियों को महत्वपूर्ण निर्देश दिए हैं. योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों को हवाई अड्डे के मुख्य टर्मिनल भवन में 'भारतीय विरासत का प्रतिबिंब' सुनिश्चित करने का निर्देश दिया है. सीएम ने यह निर्देश हवाई अड्डे की हालिया समीक्षा बैठक के दौरान दिया है. बता दें कि नोएडा अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा दिल्ली के इंदिरा गांधी अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे से लगभग 80 किलोमीटर दूर गौतमबुद्धनगर जिले में स्थित जेवर में बन रहा है. जेवर हवाई अड्डे को स्विस कंपनी ज्यूरिख इंटरनेशनल एयरपोर्ट (ZIA) एजी द्वारा 29,560 करोड़ रुपये की अनुमानित लागत से विकसित किया जा रहा है. कहा जा रहा है कि पूरा होने के बाद यह देश का सबसे बड़ा हवाईअड्डा होगा.

    जेवर एयरपोर्ट पर भारतीय विरासत की झलक दिखेगी
    बता दें कि जून और अगस्त 2020 के बीच तीन चरणों की प्रतियोगिता के माध्यम से हवाई अड्डे के यात्री टर्मिनल को डिजाइन करने के लिए डेवलपर सेलेक्ट किया गया था. दिसंबर की शुरुआत में आर्किटेक्ट के रूप में नॉर्डिक, हैप्टिक, ग्रिमशॉ और एसटीयूपी से मिलकर एक संघ का चयन किया था. सूत्र बताते हैं कि बीते 17 जुलाई को हवाई अड्डे की प्रगति की समीक्षा करते हुए सीएम आदित्यनाथ ने कहा कि मुख्य टर्मिनल भवन की वास्तुकला में देश की विरासत का प्रतिबिंब झलकना चाहिए. सीएम ने आगे कहा कि अधिकारियों को देखना चाहिए कि इसे कैसे लागू किया जाएगा क्योंकि हवाई अड्डे के मुख्य टर्मिनल भवन का डिजाइन आकर्षक होना चाहिए, लेकिन भारतीय विरासत के पहचान के साथ.

    Jewar Airport, Noida International Airport, Uttar Pradesh, Yogi Adityanath, Indian heritage, IGI, जेवर एयरपोर्ट, जेवर एयरपोर्ट का डिजाइन, भारतीय विरासत की झलक, योगी आदित्यनाथ, नोएडा न्यूज, स्वीस कंपनी, यूपी न्यूज, योगी आदित्य नाथ, यूपी के सीएम योगी, जेवर एयरपोर्ट की समीक्षा, जेवर इंटरनेशनल ए​यरपोर्ट न्यूज, जेवर इंटरनेशनल ए​यरपोर्ट
    योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों को हवाई अड्डे के मुख्य टर्मिनल भवन में 'भारतीय विरासत का प्रतिबिंब' सुनिश्चित करने का निर्देश दिया है.


    योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों को दिए यह निर्देश
    डिजाइन प्रस्तुति के दौरान मुख्यमंत्री को नोएडा हवाई अड्डे के आधुनिक टर्मिनल भवन की विशेषताओं से भी अवगत कराया गया. सूत्रों के अनुसार 12 मिलियन यात्रियों के शुरुआती वार्षिक आगमन को संभालने की उम्मीद है. फुटबॉल मैदान के आकार का एक विशाल फूड कोर्ट, शानदार टर्मिनल भवन प्रस्तावित किया गया है, जो आगमन और प्रस्थान क्षेत्रों के बीच स्थित होगा.

    ऐसे बनेगा नोएडा एयरपोर्ट
    अधिकारियों ने कहा है कि मुख्य टर्मिनल से सटे एक और टर्मिनल भवन स्थापित किया जाएगा, जो मूल भवन की दर्पण छवि होगी. वर्तमान में हवाई अड्डे के पहले चरण के लिए 1,334 हेक्टेयर क्षेत्र में काम चल रहा है, जिस पर दो रनवे बनाने की योजना है. इसके अलावा नोएडा हवाई अड्डे पर कार्गो सेवाएं भी होंगी.

    Jewar Airport, Noida International Airport, Uttar Pradesh, Yogi Adityanath, Indian heritage, IGI, जेवर एयरपोर्ट, जेवर एयरपोर्ट का डिजाइन, भारतीय विरासत की झलक, योगी आदित्यनाथ, नोएडा न्यूज, स्वीस कंपनी, यूपी न्यूज, योगी आदित्य नाथ, यूपी के सीएम योगी, जेवर एयरपोर्ट की समीक्षा, जेवर इंटरनेशनल ए​यरपोर्ट न्यूज, जेवर इंटरनेशनल ए​यरपोर्ट
    अधिकारियों ने कहा है कि मुख्य टर्मिनल से सटे एक और टर्मिनल भवन स्थापित किया जाएगा.


    ये भी पढ़ें: जहां जातिगत राजनीति का है बोलबाला वहीं पर जाति आधारित जनगणना की क्यों उठ रही है मांग?

    कुलमिलाकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ समीक्षा के दौरान कहा कि हवाईअड्डे की मुख्य टर्मिनल इमारत के वास्तु में भारतीय विरासत की झलक मिलनी चाहिए. आदित्यनाथ ने ये भी कहा कि अब यह अधिकारियों को देखना है कि यह कैसे होगा. योगी आदित्यनाथ के निर्देश के बाद अधिकारियों ने भी डिजाइन आकर्षक बनाने की दिशा में काम कर रहे हैं. इस बैठक में नागर विमानन मंत्री नंद गोपाल गुप्ता, सीएम के अतिरिक्त मुख्य सचिव एस पी गोयल, नोएडा अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डा लि. (नायल) के मुख्य कार्यपालक अधिकारी अरुण वीर सिंह तथा और कई प्रतिनिधि भी शामिल हुए.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज