होम /न्यूज /व्यवसाय /खुशखबरी! वाराणसी इंटरनेशनल एयरपोर्ट में शुरू हुई पेपरलेस हवाई यात्रा, ट्रायल स्टार्ट

खुशखबरी! वाराणसी इंटरनेशनल एयरपोर्ट में शुरू हुई पेपरलेस हवाई यात्रा, ट्रायल स्टार्ट

वाराणसी के लाल बहादुर शास्त्री एयरपोर्ट पर 1 दिसंबर यानी आज से डीजी यात्रा यानी पेपरलेस वर्क सिस्टम का शुभारंभ हो रहा है.

वाराणसी के लाल बहादुर शास्त्री एयरपोर्ट पर 1 दिसंबर यानी आज से डीजी यात्रा यानी पेपरलेस वर्क सिस्टम का शुभारंभ हो रहा है.

वाराणसी के लाल बहादुर शास्त्री एयरपोर्ट पर 1 दिसंबर यानी आज से डीजी यात्रा यानी पेपरलेस वर्क सिस्टम का शुभारंभ हो रहा ह ...अधिक पढ़ें

नई दिल्ली. वाराणसी के लाल बहादुर शास्त्री एयरपोर्ट पर 1 दिसंबर यानी आज से डीजी यात्रा यानी पेपरलेस वर्क सिस्टम का शुभारंभ हो रहा है. वाराणसी के साथ-साथ ये सुविधा दिल्ली और बेंगलूर में भी शुरू होगी. इसके लिए नगर विमानन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया नई दिल्ली से पेपरलेस डीजी यात्रा सर्विस का वर्चुअली उद्घाटन करेंगे.

डीजी यात्रा सर्विस के शुरू होने से पैसेंजर के समय की बचत होगी. साथ ही, कई तरह के कागजात को लेकर चलने से भी निजात मिलेगी.

ये भी पढ़ें: WhatsApp Ban: वॉट्सऐप ने भारत में बैन किए 23 लाख से ज्यादा अकाउंट, जानिए वजह

जानिए कैसे करना होगा रजिस्ट्रेशन
एयरपोर्ट पर लगे डीजी यात्रा से संबंधित क्यूयार बार कोड को पहली बार यात्री को अपने मोबाइल से स्कैन करना पड़ेगा. बार कोड स्कैन होते ही डीजी यात्रा संबंधित एप्लीकेशन अपलोड होगा और यात्री अपने मोबाइल से पंजीकरण कर सकेगा. यात्री को अपना मोबाइल नंबर, आधार कार्ड लिंक करने के बाद वैक्सीनेशन का विवरण अपलोड करना होगा.

रजिस्ट्रेशन के बाद सेव हो जाएगा डेटा
डीजी यात्रा सर्विस से एयरपोर्ट पर पहुंचने के बाद टर्मिनल भवन में प्रवेश से लेकर विमान में बैठने तक पैसेंजर की आईडी और टिकट वगैरह की जांच हाथ से नहीं की जाएगी. बोर्डिंग पास या टिकट पर छपा बारकोड को एप्लीकेशन से स्कैन के बाद यात्रा विवरण डीजी एप्लीकेशन में स्वत: स्टोर हो जाएगा. मशीन के कैमरे के जरिए यात्री का आई स्कैन के बाद गेट खुलेगा और यात्री टर्मिनल भवन में प्रवेश कर जाएगा. फेस स्कैनर और आइरिस स्कैनर से पैसेंजर के चेहरे और आइरिस को स्कैन किया जाएगा.

ये भी पढ़ें: CNG-PNG Price- आम आदमी को मिलेगी राहत, नेचुरल गैस के दाम में कटौती की सिफारिश 

डेटाबेस मेच न होने पर नहीं मिलेगी एंट्री
यदि डेटाबेस का मिलान करने में कोई त्रुटि मिलेगी तो पैसेंजर को प्रवेश नहीं मिल पाएगा. पहली बार डीजी यात्रा सर्विस के माध्यम से यात्रा करने वाले पैसेंजर को पैन कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, पासपोर्ट, वोटर आईडी आदि को स्कैन कर रजिस्ट्रेशन करना होगा. यह रजिस्ट्रेशन केवल एक बार होगा, उसके बाद कभी भी डीजी यात्रा सुविधा से जुड़े एयरपोर्ट से गुजरते समय पैसेंजर इसका लाभ उठा सकेंगे.

Tags: Airport, Business news in hindi, PM Modi Varanasi Visit, Varanasi Airport

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें