• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • 90 दिन के भीतर इन 21 बैंकों के ग्राहकों को मिलेगा ₹5 लाख तक, PMC बैंक ग्राहकों को भी होगा पेमेंट, जानिए वजह

90 दिन के भीतर इन 21 बैंकों के ग्राहकों को मिलेगा ₹5 लाख तक, PMC बैंक ग्राहकों को भी होगा पेमेंट, जानिए वजह

DICGC ने आज 21 ऐसे बैंकों की लिस्‍ट जारी की है, जहां के अकाउंट होल्‍डर 5 लाख रुपये तक की रकम हासिल कर पाएंगे.

DICGC ने आज 21 ऐसे बैंकों की लिस्‍ट जारी की है, जहां के अकाउंट होल्‍डर 5 लाख रुपये तक की रकम हासिल कर पाएंगे.

DICGC ने आज 21 ऐसे बैंकों की लिस्‍ट जारी की है, जहां के अकाउंट होल्‍डर 5 लाख रुपये तक की रकम हासिल कर पाएंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

    नई दिल्ली. बैंक ग्राहकों (Bank customers) के लिए बड़ी खबर आ रही है. खबर है कि जिन ग्राहकों के पैसे बैंक बंद होने चलते डूब गए थे अब उन्हें 90 दिन के भीतर 5 लाख तक की राशि दी जाएगी. यानी कि 5 लाख रुपये की रकम उन बैंकों के डिपॉजिटर्स को मिलेगी जो रिजर्व बैंक (RBI) के मॉरेटोरियम पर हैं. दरअसल, डिपॉजिट इंश्‍योरेंस एंड क्रेडिट गारंटी कॉरपोरेशन (DICGC) ने आज 21 ऐसे बैंकों की लिस्‍ट जारी की है, जहां के अकाउंट होल्‍डर बैंक बंद होने के बाद 5 लाख रुपये तक की रकम हासिल कर पाएंगे.

    DICGC ने 21 सितंबर को घोषणा की है कि वह सभी समावेशी निर्देशों (AID) के तहत रखे गए बीमित बैंकों के जमाकर्ताओं को बकाया जमा राशि (अधिकतम 5 लाख रुपये तक) के बराबर राशि का भुगतान करेगा. DICGC ने एक विज्ञप्ति में कहा कि अब 90 दिन के भीतर 21 बैंकों के कस्‍टमर्स को 5 लाख रुपये तक का क्‍लेम मिल जाएगा. बता दें कि इन बैंकों की लिस्‍ट में PMC बैंक भी शामिल है.

    जानें क्या है नियम?
    सरकार ने DICGC कानून को 1 सितंबर 2021 को नोटिफाई कर दिया. इस कानून के तहत यह सुनिश्चित किया गया है कि RBI की ओर से किसी बैंक के कामकाज पर रोक लगाए जाने के 90 दिन के भीतर बैंक के डिपॉजिटर्स को 5 लाख रुपये तक की जमा रकम मिल जाए. बता दें कि इस संबंध में वित्‍त मंत्रालय की ओर से 27 अगस्त 2021 को एक सर्कुलर जारी किया गया था.

    DICGC issues 21 bank list including pmc bank customers can claim up to 5 lakh rupees deposit insurance

    ये भी पढ़ें- Post Office- इस स्कीम में बस एक बार लगाएं पैसा, हर महीने खाते में आएंगे 4,950 रुपये, जानिए डिटेल

    ब्याज समेत भुगतान
    डीआईसीजीसी के मुताबिक, जमा राशि का क्लेम करने के लिए जमाकर्ताओं को 45 दिनों के भीतर दावों को जमा करने के लिए बैंकों को आवश्यक निर्देश जारी किए गए हैं. DICGC ने अपने विज्ञप्ति में कहा कि अगले 45 दिनों (29 नवंबर, 2021) के भीतर बैंक द्वारा किए गए दावों का सत्यापन और निपटान किया जाएगा. यानी कि 15 अक्टूबर तक बैंकों की ओर से फॉर्म DICGC को देना होगा. जिसके बाद क्लेम का वेरिफिकेशन होगा और फिर उसकी प्रोसेसिंग होगी. डीआईसीजीसी ने विज्ञप्ति में कहा कि ये बैंक 15 अक्टूबर, 2021 तक क्लेम करने वालों की लिस्ट जारी करेंगे और 29 दिसंबर 2021 तक डिपॉजिट पर ब्याज सहित भुगतान होगा.

    ये भी पढ़ें-  ₹1 लाख लगाकर शुरू कर दें यह कारोबार, हर महीने 8 लाख रुपये तक की होगी कमाई, सरकार करेगी मदद

    देनी होगी ये डिटेल
    DICGC के मुताबिक, बैंक आपको एक क्लेम फॉर्म देगा, जिसमें खाता संख्या, ब्रांच और रकम भरना होगा. क्लेम फॉर्म में मोबाइल नंबर और ई-मेल का भी ब्यौरा देना होगा. बता दें कि RBI संकट में फंसे बैंक कस्टमर्स को राहत देने के लिए जमा पैसे पर इंश्‍योरेंस कवरेज देता है. यह कवरेज RBI की सब्सिडियरी डिपॉजिट इंश्‍योरेंस एंड क्रेडिट गारंटी कॉरपोरेशन (DICGC) देती है. DICGC के मुताबिक, बैंकों में जमा रकम पर 5 लाख रुपये इंश्‍योरेंस कवर मिलता है. इस दायरे में सभी कॉमर्शियल और को ऑपरेटिव बैंक आते हैं.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज