दिवाली के बाज़ार ने लगाई ऊंची छलांग, कोरोना के साये में भी हुआ 72 हजार करोड़ का कारोबार

कोरोना के बावजूद भी दिवाली में 72 हजार करोड़ रुपये का कारोबार हुआ है.
कोरोना के बावजूद भी दिवाली में 72 हजार करोड़ रुपये का कारोबार हुआ है.

CAIT के अनुसार, इस बार दिवाली पर 72 हज़ार करोड़ रुपये का कारोबार (Business) हुआ है. खास बात यह भी है कि 40 हज़ार करोड़ रुपये के चीन के बने सामान का बॉयकट भी किया गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 15, 2020, 3:48 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. उम्मीद से परे जाकर दिवाली (Diwali) के बाज़ार ने ऊंची छलांग लगाई है. कोरोना (Corona) के साय में भी लोगों ने जमकर खरीदारी की. वहीं ग्राहकों पर भरोसा करते हुए दुकानदारों ने सैकड़ों वैराइटी का माल जमा किया था. देशभर के कारोबारियों के सबसे बड़े संगठन कन्फ़ेडरेशन ऑफ़ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (CAIT) की मानें तो इस बार दिवाली पर 72 हज़ार करोड़ रुपये का कारोबार (Business) हुआ है. खास बात यह भी है कि 40 हज़ार करोड़ रुपये के चीन के बने सामान का बॉयकट भी किया गया है. पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के लोकल पर वोकल एवं आत्मनिर्भर भारत अभियान को भी समर्थन दिया गया. जिसे देखकर कहा जा सकता है कि कोरोना के चलते बीते 8 महीने से चला आ रहा बाज़ारों का सूखा भी खत्म हो गया है.

देशभर के बाज़ारों में जमकर बिका यह सामान
कैट के राष्ट्रीय अध्यक्ष बीसी भरतिया और राष्ट्रीय महामंत्री प्रवीन खंडेलवाल ने बताया कि  रिटेल व्यापार के विभिन्न वर्गों जिसमें खासतौर पर भारत में बने एफएमसीजी उत्पाद, उपभोक्ता वस्तुएं, खिलौने, बिजली के उपकरण और सामान, इलेक्ट्रॉनिक उपकरण, रसोई के सामान, उपहार की वस्तुएं, मिठाई-नमकीन, घर का सामान, टेपेस्ट्री, बर्तन, सोना-चांदी, जूते, घड़ियां, फर्नीचर, कपड़े, कपड़ा, घर की सजावट का सामान, मिट्टी के दिए सहित दिवाली पूजा का सामान, सजावटी सामान जैसे दीवार की लटकने, हस्तकला की वस्तुएं, वस्त्र, घर द्वार पर  लगाने वाले शुभ-लाभ, ओम, देवी लक्ष्मी के चरण आदि अनेक त्योहारी सीजन वस्तुओं की बिक्री बहुत अच्छी रही है.

यह भी पढ़ें- दिवाली के लिए 10 लाख व्यापारियों ने बनाया था यह प्लान, अब बिक्री देख खुशी से फूले नहीं समा रहे
Sensex-NIFTY ने भी बाज़ार के लिए दिए अच्छे संकेत


प्रवीन खंडेलवाल ने कहा कि दिवाली पर महूर्त ट्रेडिंग पर Nifty 12780 पर और Sensex 43, 637.98 पर बंद हुआ. पिछली दिवाली से लेकर इस दिवाली पर सूचकांकों में कोरोना और लॉकडाउन के प्रभाव के बावजूद लगभग 10 प्रतिशत का इजाफा हुआ. वृहद मोर्चे पर रिकवरी के अच्छे संकेतों और लगातार हो रहे निवेश के जारी रहने के कारण अगली दिवाली तक बाजार 14000 के अंक को भी छू सकता है, ऐसा अनुमान है.

20 शहरों में हुए सर्वे से सामने आए आंकड़े
कैट के प्रवीन खंडेलवाल का कहना है कि 20 शहरों में दिल्ली, मुंबई, चेन्नई, बैंगलोर, हैदराबाद, कोलकाता, नागपुर, रायपुर, भुवनेश्वर, रांची, भोपाल, लखनऊ, कानपुर, नोएडा, जम्मू, अहमदाबाद, सूरत, कोचीन, जयपुर, चंडीगढ़ को कैट "वितरण शहर" मानता है और इसीलिए विभिन्न विषयों पर नियमित सर्वेक्षण कराता है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज