कब तक आएगा 30 लाख सरकारी कर्मचारियों के खाते में Diwali Bonus का पैसा, जानिए ऐसे ही सवालों के जवाब

30 लाख सरकारी कर्मचारियों को दिवाली बोनस
30 लाख सरकारी कर्मचारियों को दिवाली बोनस

कैबिनेट की बैठक (Cabinet Meeting Decision) के बाद 30 लाख सरकारी कर्मचारियों को दिवाली बोनस (Government Employee Bonus) देने का ऐलान कर दिया है. केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर (Prakash Javadekar) ने बताया कि दशहरा से पहले ही केंद्रीय कर्मचारियों को 3,737 करोड़ रुपये के बोनस का भुगतान शुरू हो जाएगा. जानें बोनस से जुड़े सवालों के जवाब...

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 22, 2020, 9:25 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट की बैठक (Cabinet Meeting Decision) के दौरान त्‍योहारी सीजन को देखते हुए सरकारी कर्मचारियों (Government Employees) के लिए बड़ा फैसला किया गया है. कैबिनेट ने 30 लाख सरकारी कर्मचारियों को दीपावली बोनस (Government Employee Bonus) देने का ऐलान कर दिया है. केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर (Prakash Javadekar) ने बताया कि दशहरा से पहले ही केंद्र सरकार के 30 लाख कर्मचारियों को 3,737 करोड़ रुपये के बोनस का भुगतान शुरू होगा. अब अगर आप सरकारी कर्मचारी हैं और आपके मन में भी सवाल उठ रहा है कि आपको दीपावली बोनस मिलेगा या नहीं तो यहां हम आपको दे रहे हैं ऐसे ही सवालों के जवाब...

किन विभागों के कर्मचारियों को मिलेगा दिवाली बोनस
केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने बताया कि सरकार के कमर्शियल एस्‍टेब्लिशमेंट जैसे भारतीय रेलवे (Indian Railways), पोस्‍ट ऑफिस (Post Office), डिफेंस प्रोडक्‍शंस (Defence Production), ईपीएफओ (EPFO), एम्‍प्‍लॉय स्‍टेट इंश्‍योरेंस कॉरपोरेशन (ESIC) के 17 लाख नॉन-गैजेटेड एम्‍प्‍लॉयज को 2,791 करोड़ रुपये का प्रोडक्टिविटी लिंक्‍ड इंसेंटिव (PLI) बोनस के तौर पर दिया जाएगा. इसके अलावा केंद्र सरकार में काम करने वाले 13 लाख कर्मचारियों को 906 करोड़ रुपये का नॉन-प्रोडक्टिविटी लिंक्‍ड (Non-PLI) बोनस दिया जाएगा.


कैसे मिलेगा केंद्र की ओर से घोषित दीपावली बोनस


प्रकाश जावड़ेकर ने स्‍पष्‍ट किया है कि केंद्र सरकार (Central Government) की ओर से घोषित दीपावली बोनस सीधे सरकारी कर्मचरियों के बैंक अकाउंट में यानी डायरेक्ट बेनेफिट ट्रांसफर (DBT) के जरिये ट्रांसफर किया जाएगा. इससे उन्‍हें त्‍योहारी सीजन (Festive Season) में नकदी की समस्‍या (Cash Crunch) का सामना नहीं करना होगा. जावड़ेकर ने कहा कि इस बोनस से मध्‍यम वर्ग के हाथ में पैसा आएगा.

ये भी पढ़ें- हर महीने घर खर्च के लिए ट्रांसफर करते हैं पैसे तो क्‍या पत्‍नी को आ सकता है आयकर नोटिस?

सरकारी खजाने पर बोनस से कितना पड़ेगा भार
वित्त वर्ष 2019-20 के लिए प्रोडक्टिविटी से जुड़े बोनस और नॉन-प्रोडक्टिविटी लिंक्ड बोनस से सरकार के 30 लाख से अधिक नॉन-गैजेटेड कर्मचारियों को सीधा फायदा होगा. इससे राजकोषीय खजाने पर 3,737 करोड़ रुपये का अतिरिक्त बोझ पड़ेगा.

सरकारी कर्मचारियों किस आधार पर मिलेगा बोनस
दीपावली बोनस की रकम अलग-अलग कर्मचारियों के लिए अलग होगी. दरअसल, सरकार की ओर से अपने कमर्शियल एस्‍टेब्लिशमेंट्स के लिए घोषित पीएलआई बोनस कर्मचारियों और प्रतिष्‍ठान के प्रदर्शन से जुड़ा है. आसान शब्‍दों में समझें तो ये बोनस कर्मचारी और प्रतिष्‍ठान की सालभर की परफॉर्मेंस के आधार पर अलग-अलग होगा. इसलिए इसकी सटीक जानकारी उपलब्‍ध करा पाना मुश्किल है. अपने बोनस की जानकारी के लिए एचआर से संपर्क करें.

ये भी पढ़ें- इनकम टैक्स रिटर्न को लेकर है उलझन तो यहां समझें आपको ITR दाखिल करना है या नहीं

सरकार ने क्‍यों की दिवाली बोनस की घोषणा
केंद्रीय कर्मचारी काफी दिनों से दिवाली पर दिए जाने वाले बोनस की घोषणा का इंतजार कर रहे थे. इसी बीच कोरोना वायरस महामारी के कारण इस बार बोनस नहीं दिए जाने की खबरों से कर्मचारियों में असंतोष बढ़ता जा रहा था. कई जगह कर्मचारियों ने विरोध-प्रदर्शन भी किया था, लेकिन अब सरकार ने बोनस की घोषणा कर सभी कर्मचारियों को खुश होने का मौका दे दिया है.

देश की अर्थव्‍यवस्‍था को इससे क्‍या होगा फायदा
कोरोना संकट के बीच घटी मांग के कारण देश की अर्थव्‍यवस्‍था को काफी नुकसान हो रहा है. ऐसे में सरकार लगातार प्रति व्‍यक्ति खर्च बढ़ाकर बाजार में मांग बढ़ाने की कोशिश कर रही है. सरकार का मानना है कि त्‍योहारी सीजन में सीधे लोगों की जेब में पैसा पहुंचने से मांग में बढ़ोतरी होगी अर्थव्‍यवस्‍था को सहारा मिलेगा. इससे पहले केंद्र की ओर से सरकारी कर्मचारियों के लिए घोषित एलटीसी कैश वाउचर स्‍कीम और स्पेशल फेस्टिवल एडवांस स्कीम का मकसद मांग बढ़ाकर अर्थव्‍यवस्‍था को सहारा देना ही था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज