Home /News /business /

do minors also have to file itr what does income tax rule say jst

क्या नाबालिगों को भी भरना पड़ता है आईटीआर, क्या कहता है आयकर नियम?

नाबालिगों को भी भरना होता है आईटीआर.

नाबालिगों को भी भरना होता है आईटीआर.

18 वर्ष से कम के बच्चों को भी आईटीआर भरना पड़ सकता है. अगर उनकी इनकम टैक्सेबल रेंज में आती है तो वह खुद भी आईटीआर फाइल कर सकते हैं वरना उनके अभिभावकों को बच्चे की आय पर टैक्स भरना होता है.

नई दिल्ली. अगर 18 साल से कम का कोई बच्चा या किशोर आय अर्जित कर रहा है तो संभव है कि उसकी आय पर टैक्स लगेगा. इसके लिए उसकी आय टैक्सेबल इनकम के दायरे में आनी चाहिए. वैसे तो भारत में बाल मजदूरी पर प्रतिबंध है लेकिन आजकल बच्चे कई अन्य वैध तरीकों से बड़ी राशि अर्जित कर रहे हैं और यह टैक्स के दायरे में आती है.

आयकर भरने के लिए पैन कार्ड जरूरी होता है. ऐसे में कई लोगों के मन में सवाल उठ सकता है कि क्या नाबालिग का पैन कार्ड बनता है? इसका जवाब है हां. एक नाबालिग भी पैन कार्ड के लिए आवेदन कर सकता है.

ये भी पढ़ें- दिल्ली में अब होटल में ठहरना, रेस्टोरेंट में खाना होगा महंगा, एनडीएमसी ने बढ़ाई ट्रेड लाइसेंस फीस

क्या कहता है आयकर कानून
आयकर संबंधी कानून की धारा 64 (1ए) के अनुसार, नाबालिग को मिलने वाली किसी आय को उसके माता-पिता की आय में जोड़ा जाएगा. उस पर टैक्स माता-पिता की आय पर टैक्स के समान होगा. हालांकि, बच्चा अगर महीने का केवल 1500 रुपये कमाता है तो उसे माता पिता की आय में नहीं जोड़ा जाएगा और न ही उस पर कोई टैक्स देना होगा. लेकिन अगर आय इससे अधिक होती है तो उसे माता-पिता की आय में जोड़ दिया जाएगा और उन्हें टैक्स भरना होगा. माता-पिता अपने बच्चे की आय पर 1500 रुपये तक टैक्स छूट का दावा कर सकते हैं. यह दावा अधिकतम 2 बच्चों के लिए किया जा सकता है.

तलाक की स्थिति में क्या होगा
अगर माता-पिता का तलाक हो गया हो तो बच्चे की आय उस पेरेंट की आय से जोड़ी जाएगी जिसकी कस्टडी में बच्चा है. वहीं, अनाथ बच्चा अपना आईटीआईर खुद भरेगा. अगर बच्चा अपंग है तो उसकी आय माता-पिता की आय से नहीं जोड़ी जाएगी.

ये भी पढ़ें- New Labour Code: वेतन, छुट्टियों और पीएफ पर क्‍या होगा नए कानूनों का असर? डिटेल में जानिए हर सवाल का जवाब

2 तरह की आय अर्जित कर सकता है नाबालिग
अगर नाबालिग हर महीने 15,000 रुपये अधिक है तो वह खुद भी आईटीआर फाइल कर सकता है. नाबालिग 2 तरह की आय अर्जित करता है. पहली अर्न्ड इनकम और अनअर्न्ड इनकम. अगर कोई बच्चा किसी टीवी शो, प्रोग्राम, खुद के बिजनेस या सोशल मीडिया के जरिए कोई कमाई करता है तो यह अर्न्ड इनकम है. जबकि अगर उसे कहीं से कोई गिफ्ट मिलता है तो वह अनअर्न्ड मनी है. हालांकि, आईटीआर उसे दोनों सूरतों में भरना होगा.

Tags: Income tax, Income tax law, ITR

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर