कमोडिटी मार्केट में ट्रेडिंग से मोटी कमाई करने के लिए इन बातों का जरूर ध्यान रखें, जानें सबकुछ

सिर्फ कमोडिटी एक्सचेंज में रजिस्टर्ड ब्रोकर के जरिए ही ट्रेडिंग करें.

सिर्फ कमोडिटी एक्सचेंज में रजिस्टर्ड ब्रोकर के जरिए ही ट्रेडिंग करें.

कमोडिटी मार्केट में मार्जिन भुगतान समय पर करें, ब्रोकर से रसीद जरूर लें. BUY/SELL पर कमोडिटी/रकम का भुगतान समय पर करें.

  • Share this:

नई दिल्ली. शेयर बाजार की तरह कमोडिटी मार्केट में भी मोटी कमाई के मौके हैं. हालांकि, इसमें शेयरों की बजाय जिंस का कारोबार होता है. इसलिए इसमें ट्रेडिंग करने के तौर-तरीके भी अलग है.

आज हम ट्रेडिंग के लिए ब्रोकर का चुनाव करने से लेकर सौदा लेने तक की पूरी डिटेल्स पर बात कर रहे हैं. साथ ही कमोडिटी एक्सचेंज किस तरह से काम करता है और BUY/SELL की स्थिति में भुगतान और डिलिवरी को लेकर क्या नियम हैं, इसपर भी चर्चा करेंगे. आप सबसे पहले जानें कि कमोडिटी में सिर्फ एक्सचेंज में रजिस्टर्ड ब्रोकर के जरिए ही ट्रेडिंग करना चाहिए. ट्रेडिंग शुरू करने से पहले KYC करना जरूरी होता है. सभी ट्रेड Unique Client Code के जरिए करना चाहिए. अपना मोबाइल नंबर और E-Mail जरूर रडिस्टर्ड करें. SMS, E-Mail के जरिए एक्सचेंज ट्रेड की जानकारी देता है. एक्सचेंज की वेबसाइट पर ट्रेड वेरिफिकेशन की सुविधा भी मिलती है.

यह भी पढ़ें : नौकरी की बात : महामारी में साइकोमेट्रिक्स टेस्ट और वर्चुअल इंटरव्यू की ट्रिक से पक्की करें अपनी जॉब


BUY/SELL पर कमोडिटी/रकम का भुगतान समय पर करें.

मार्जिन भुगतान समय पर करें, ब्रोकर से रसीद जरूर लें. BUY/SELL पर कमोडिटी/रकम का भुगतान समय पर करें. ब्रोकर से कमोडिटी/पैसे के भुगतान का दस्तावेज जरूर लें. दस्तावेज में तारीख, Commodity Quantity लिखी होती है. बैंक/रीमैट में जमा फंड और वेयरहाउस रसीद भी चेक करें. कमोडिटी ट्रेडिंग के दौरान कुछ बातों का ध्यान रखना बेहद जरुरी होता है जैसे समय-समय पर एक्सचेंज वेबसाइट चेक करते रहना चाहिए. ट्रेडिंग शुरू करने से पहले ब्रोकर की पूरी डिटेल्स पता करें. ब्रोकर की डिटेल्स एक्सचेंज वेबसाइट पर है या नहीं चेक करें. ट्रेडिंग वाली कमोडिटी के फंडामेंटल की जानकारी रखेंअफवाहों और मार्केट टिप्स पर भरोसा नहीं करें.

यह भी पढ़ें : Success Story : कचरा बीनने वालों के साथ काम कर हैंडबैग बनाए, आज 100 करोड़ का टर्नओवर 3591311




एक्सचेंज का काम करने का तरीका समझे, फिर करें निवेश

BUY/SELL पर एक कामकाजी दिन में भुगतान/डिलीवरी होता है. 24 घंटे के अंदर एक्सचेंज हर ट्रेड की डिटेल्स भेजता है. एक्सचेंज ये डिटेल्स SMS, E-Mail के जरिए ट्रेड डिटेल्स भेजता है. एक्सचेंज हर 7 कामकाजी दिन में वीकली स्टेटमेंट देता है. वीकली स्टेटमेंट में फंड बैलेंस/डिलीवरी डिटेल्स होती है. ट्रेड डिटेल्स गलत होने पर 15 दिन में शिकायत की सुविधा मिलती है. ब्रोकर समाधान नहीं निकाले तो एक्सचेंज में शिकायत करें. अगर किसी कारणवंश एक्सचेंज के समाधान से संतुष्ट ना होने पर SEBI में जाएं.

यह भी पढ़ें : Success Story : माता-पिता की देखभाल के लिए नौकरी छोड़ टीपीए बिजनेस किया, अब 3000 करोड़ का पोर्टफोलियो

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज