TikTok और WeChat पर बड़ी कार्रवाई की तैयारी में अमेरिकी सरकार, बंद होंगी कुछ सर्विसेज

अमेरिका में ​टिकटॉक के कई सेवाओं को रोक दिया जाएगा.
अमेरिका में ​टिकटॉक के कई सेवाओं को रोक दिया जाएगा.

ट्रंप प्रशासन ने शुक्रवार को कहा कि 12 सितंबर से अमेरिका में वीचैट और टिकटॉक की कुछ सेवाएं बंद कर दी जाएंगी. इनमें ऐप के जरिए पेमेंट, प्ले स्टोर से अपडेट करना, ऐप मेंटेनेंस आदि शामिल है. दोनों कंपनियों के पास 12 नवंबर तक मौका है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 18, 2020, 7:39 PM IST
  • Share this:
वॉशिंगटन. चाइनीज ऐप WeChat और TikTok पर अमेरिका बड़ी कार्रवाई करने जा रहा है. अगाामी 20 सितंबर को अमेरिका में इन दोनों ऐप्स के ट्रांजैक्शन, नए डाउनलोड्स व अपडेट की सर्विसेज को बंद कर दिया जाएगा. ​अमेरिका के वाणिज्य सचिव विल्बर रॉस (Wilber Ross) ने शुक्रवार को कहा कि अमेरिका में WeChat और इसकी पेरेंट कंपनी टेन्सेन्ट होल्डिंग्स लि. (Tencent Holdings Ltd.) के कैश ट्रांसफर पर ​प्रतिबंध लगा दिया जाएगा. इसके अलावा इन ऐप्स के प्ले स्टोर्स के जरिए मेंटेनेंस, अपडेट्स आदि पर प्रतिबंध लगेगा. हालांकि, अमेरिका के बाहर इन दोनों ऐप्स पर ऐसा कोई प्रतिबंध नहीं लगेगा. टिकटॉक का दावा है कि अमेरिका (TikTok Users in USA) में उसके करीब 10 करोड़ एक्टिव यूजर्स हैं, जिसका एक बड़ा हिस्सा युवाओं का है.

इस प्रतिबंध से उन अमेरिकी टेक कंपनियों को झटका लगेगा, जो WeChat के जरिए पेमेंट की सुविधा मुहैया कराते हैं. विल्बर रॉस ने फॉक्स बिजनेस को दिए इंटरव्यू में कहा कि चीन में रहने वाले अमेरिकी लोग WeChat या टिकटॉक का इस्तेमाल पेमेंट के लिए कर सकेंगे. 12 नवंबर तक इसमें कोई बदलाव नहीं किया जाएगा. हालांकि, यूजर्स को रविवार रात से ये दोनों ऐप्स अपग्रेड करने की कोई अनुमति नहीं होगी.

यह भी पढ़ें: Google ने गूगल प्ले स्टोर से Paytm को हटाया, App हटाने के पीछे बताई ये वजह




​दोनों ​कंपनियों के पास 12 नवंबर तक मौका
अमेरिकी वाणिज्य विभाग (Commerce Department USA) ने यह भी कहा है कि बाइटडांस (Bytedance) को टिकटॉक ऐप के जरिए राष्ट्रीय सुरक्षा चिंताओं को दूर करने के लिए राष्ट्रपति ने 12 नवंबर तक मौका दिया है. अगर इस समय तक बाइटडांस ट्रंप प्रशासन को सुरक्षा खतरे को लेकर आश्वस्त करता है तो सभी तरह के प्रतिबंध वापस ले लिए जाएंगे.

क्या है इस प्रतिबंध के मायने?
ट्रंप प्रशासन द्वारा इस प्रतिबंध का मतलब है कि टिकटॉक व WeChat ऐप को प्ले स्टोर से डिलीट करने की पूरी जिम्मेदारी अब ऐप्पल इंक (Apple Inc.) और गूगल (Google Play Store) पर होगी. लेकिन, इस बीच जो लोग अपने स्मार्टफोन में इस ऐप को पहले से ही इंस्टॉल कर चुके हैं और इस्तेमाल कर रहे हैं, उन पर इस प्रतिबंध का कोई असर नहीं पड़ेगा. इस बारे में अभी तक न तो गूगल ने और न ही ऐप्पल इंक ने कोई बयान दिया है.

यह भी पढ़ें: Google Play Store से हटाने के बाद क्या अब मोबाइल फोन में बंद हो जाएगा Paytm ऐप? जानिए इस सवाल का जवाब

ओरेकल के साथ डील पर चर्चा
गौरतलब है कि कुछ दिन पहले ही क्लाउड इन्फ्रास्ट्रक्चर के क्षेत्र में काम करने वाली कंपनी ओरेकल (Oracle) ने बाइटडांस के साथ डील की जानकारी दी थी. हालांकि, इस डील पर अभी भी अमेरिकी सरकार द्वारा मंजूरी लिया जाना बाकी है. ओरेकल ने 14 सितंबर को एक बयान जारी कर कहा था कि वो सेक्रेटरी म्नुचिन के बयान की पुष्टि करता है. ट्रेजरी डिपार्टमेंट (Treasury Department) को बाइटडांस के साथ डील के लिए प्रस्ताव भेज दिया गया है. ओरेकेल इस कंपनी की भरोसावादी टेक्नोलॉजी पार्टनर (Trusted Technology Partner) के तौर पर काम करेगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज