भारत को मिलने वाली सब्सिडी बंद करना चाहते हैं ट्रंप, US को बताया 'विकासशील देश'

ट्रंप ने चीन से सभी वस्तुओं के आयात पर टैरिफ लगाने की शुक्रवार को धमकी दी. इससे बीजिंग के साथ वाशिंगटन के व्यापारिक रिश्तों में पहले से चली आ रही तल्खी और बढ़ गयी है.

News18Hindi
Updated: September 8, 2018, 1:42 PM IST
भारत को मिलने वाली सब्सिडी बंद करना चाहते हैं ट्रंप, US को बताया 'विकासशील देश'
डोनाल्ड ट्रंप की फाइल फोटो
News18Hindi
Updated: September 8, 2018, 1:42 PM IST
अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा है कि वह भारत और चीन सरीखे विकासशील देशों को दी जा रही सब्सिडी बंद करवा देना चाहते हैं. ट्रंप ने एक कार्यक्रम के दौरान कहा कि चीन को 'महान आर्थिक शक्ति' बनाने में विश्व व्यापार संगठन का हाथ है.'

ट्रंप ने कहा, 'हमारे पास कुछ ऐसे देश हैं जो प्रगतिशील अर्थव्यवस्था वाले हैं. कुछ देश अभी परिपक्व नहीं हो सके हैं, ऐसे में हम उन्हें सब्सिडी दे रहे हैं. यह सब मूर्खतापूर्ण हैं. जैसे भारत, जैसे चीन. वह भी वास्तव में प्रगति कर रहे हैं.'  ट्रंप ने कहा कि वे खुद को विकासशील राष्ट्र कहते हैं और 'उस श्रेणी के तहत उन्हें सब्सिडी मिलती है.'

बता दें ट्रंप ने चीन से सभी वस्तुओं के आयात पर टैरिफ लगाने की शुक्रवार को धमकी दी. इससे बीजिंग के साथ वाशिंगटन के व्यापारिक रिश्तों में पहले से चली आ रही तल्खी और बढ़ गयी है. ट्रंप ने कहा कि पहले से 50 अरब डॉलर के वस्तुओं पर दंडात्मक शुल्क लागू है और 200 अरब डॉलर का शुल्क लगाने पर विचार किया जा रहा है तथा'इसे जल्द ही लागू किया जा सकता है.'

यह भी पढ़ें:  भारत-अमेरिका ने ‘कॉमकासा’ पर किए हस्ताक्षर, भारत को मिलेंगे ये फायदे

ट्रंप ने कहा, 'हम भी एक विकासशील देश हैं, ठीक है? हम हैं. जहां तक मेरा संबंध है, हम एक विकासशील राष्ट्र हैं.  हम किसी के मुकाबले तेजी से बढ़ रहे हैं.' डब्ल्यूटीओ पर हमला करते हुए ट्रम्प ने कहा कि वह सोचते हैं कि विश्व व्यापार संगठन शायद सबसे खराब है. ट्रंप ने कहा, 'डब्ल्यूटीओ ने चीन को महान आर्थिक शक्ति बनने की अनुमति दी.'
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर