यहां होता है PPF से जल्दी पैसा डबल, जानें इस योजना से जुड़ी सभी जरूरी बातें

आइए जानते हैं इस स्कीम के बारे में सबकुछ...

News18Hindi
Updated: April 11, 2019, 8:04 AM IST
यहां होता है PPF से जल्दी पैसा डबल, जानें इस योजना से जुड़ी सभी जरूरी बातें
फाइल फोटो
News18Hindi
Updated: April 11, 2019, 8:04 AM IST
अगर आप नौकरी करते हैं और निवेश के नए विकल्प की तलाश में हैं तो वॉलंटरी प्रोविडेंट फंड (VPF) आपके लिए अच्छा विकल्प साबित हो सकता है. इस स्कीम में जहां पब्लिक प्रोविडेंट फंड (PPF) से ज्यादा ब्याज मिल रहा है. वहीं इसमें निवेश किए गए आपके पैसे PPF से 9 महीने पहले डबल होता है. VPF में निवेश करने के लिए आपको अलग से कोई खाता खोलने की जरूरत नहीं है. इसके अलावा इस पर मिलने वाला ब्याज 80C के तहत टैक्स फ्री भी है. आइए जानते हैं इस स्कीम के बारे में सबकुछ... (ये भी पढ़ें: कहीं आप तो नहीं कर रहे PF खाते को लेकर ये गलती, घर बैठे ऐसे करें दूर)

जानें क्या है VPF- वॉलंटरी प्रोविडेंट फंड (VPF) कर्मचारी भविष्य निधि (EPFO) की ही एक योजना है. इस योजना के तहत लाभ लेने वाले कर्मचारी अपनी इच्‍छा से अपने वेतन का कोई भी हिस्सा वॉलंटरी प्रोविडेंट फंड खाते में योगदान कर सकता है. यह योगदान सरकार द्वारा अनिवार्य 12 फीसदी पीएफ की अधिकतम सीमा से अधिक होना चाहिए. आपको बता दें कि कंपनी वीपीएफ की ओर से किसी भी राशि का योगदान करने के लिए बाध्‍य नहीं है.



निवेश के लिए अलग से खाते की जरूरत नहीं- VPF के लिए अलग से खाता खोलने की जरूरत नहीं है. एक कर्मचारी अपने मूल वेतन और डीए का 100 फीसदी योगदान वीपीएफ में दे सकता है. इस पर ब्‍याज दर ईपीएफ के समान होगी और यह राशि ईपीएफ योजना के खाते में जमा की जाएगी, क्‍योंकि VPF के लिए कोई अलग खाता नहीं है. (ये भी पढ़ें: बस एक बार लगाएं 50 हजार रुपये, 10 साल तक होगी लाखों में कमाई)



VPF पर PPF से मिल रहा ज्यादा ब्याज- वॉलंटरी प्रोविडेंट फंड पर इस समय PPF के मुकाबले अधिक ब्याज मिल रहा है. PPF पर इस समय 8% तो VPF पर 8.65% ब्याज मिल रहा है. प्राइवेट कंपनियों ने भी VPF को ऑनलाइन कर दिया है तो आपके लिए निवेश आसान है. आप इसमें अपना निवेश घटा-बढ़ा सकते हैं और कभी भी इसे बंद करा सकते हैं. हालांकि इसमें पैसा लॉक हो जाता है. (ये भी पढ़ें: PPF में खुलवाया है खाता तो याद रखें ये तारीख! वरना घट जाएगा मुनाफा)


Loading...

कितना कर सकते हैं निवेश- PPF में आप जहां एक साल में अधिकतम 1.50 लाख रुपये तक ही निवेश करने की सीमा. वहीं VPF में निवेश करने की कोई सीमा नहीं है. इसमें आप कितना भी निवेश कर सकते हैं.

कब निकाल सकते हैं पैसा- आप इसमें से पैसा तभी निकाल सकते हैं जब आप रिटायर हों या फिर नौकरी छोड़ दें.



इस फॉर्मूले से पता करें कब होगा डबल पैसा-  फाइनेंस का यह खास नियम है रूल ऑफ 72. एक्सपर्ट्स इसे सबसे सटीक रूल मानते हैं, जिससे यह तय किया जाता है कि आपका निवेश कितने दिनों में डबल हो जाएगा. इसे आप ऐसे समझ सकते हैं कि अगर आपने PPF में निवेश किया और यहां आपको सालाना 8% ब्याज मिलता है.
- ऐसे में आपको रूल 72 के तहत 72 में 8 का भाग देना होगा.
- 72/8= 9 साल, यानी PPF में आपके पैसे 9 साल में दोगुने हो जाएंगे.
- वहीं VPF में ब्याज दर 8.65 फीसदी है. आपको 72 में 8.65 से भाग देना होगा. 72/8.65= 8.32 साल, यानी VPF में आपका पैसा 8.32 साल में डबल हो जाएगा. इसका मतलब है वीपीएम में आपका पैसा PPF से 9 महीने पहले डबल होगा.

ये भी पढ़ें: इनकम टैक्स रिटर्न भरने के लिए कौन से फॉर्म का करें इस्तेमाल, यहां जानें!

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...

वोट करने के लिए संकल्प लें

बेहतर कल के लिए#AajSawaroApnaKal
  • मैं News18 से ई-मेल पाने के लिए सहमति देता हूं

  • मैं इस साल के चुनाव में मतदान करने का वचन देता हूं, चाहे जो भी हो

    Please check above checkbox.

  • SUBMIT

संकल्प लेने के लिए धन्यवाद

जिम्मेदारी दिखाएं क्योंकि
आपका एक वोट बदलाव ला सकता है

ज्यादा जानकारी के लिए अपना अपना ईमेल चेक करें

डिस्क्लेमरः

HDFC की ओर से जनहित में जारी HDFC लाइफ इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड (पूर्व में HDFC स्टैंडर्ड लाइफ इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड). CIN: L65110MH2000PLC128245, IRDAI R­­­­eg. No. 101. कंपनी के नाम/दस्तावेज/लोगो में 'HDFC' नाम हाउसिंग डेवलपमेंट फाइनेंस कॉर्पोरेशन लिमिटेड (HDFC Ltd) को दर्शाता है और HDFC लाइफ द्वारा HDFC लिमिटेड के साथ एक समझौते के तहत उपयोग किया जाता है.
ARN EU/04/19/13626

News18 चुनाव टूलबार

  • 30
  • 24
  • 60
  • 60
चुनाव टूलबार