DPIIT रैंकिंग: स्टार्टअप्स को बेहतर इकोसिस्टम उपलब्ध कराने में गुजरात टॉप, लगातार दूसरे साल मारी बाजी

DPIIT रैंकिंग: स्टार्टअप्स को बेहतर इकोसिस्टम उपलब्ध कराने में गुजरात टॉप, लगातार दूसरे साल मारी बाजी
सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेश दिल्ली के बीच से गुजरात सबसे बेहतर

DPIIT रैंकिंग के अनुसार बेहतर इकोसिस्टम उपलब्ध कराने में 22 राज्यों और 3 केंद्र शासित प्रदेशों में से गुजरात लगातार दूसरे साल बेस्ट परफॉर्मर बना.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 12, 2020, 11:06 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. डिपार्टमेंट फॉर प्रमोशन ऑफ इंडस्ट्री एंड इंटरनल ट्रेड (DPIIT) ने शुक्रवार को स्टार्टअप को बेहतर इकोसिस्टम उपलब्ध कराने वाले राज्यों की रैंकिंग जारी की. इस रैंकिंग में गुजरात एक बार फिर सबसे बेहतर प्रदर्शन करने वाले राज्य के रूप में उभरकर सामने आया है. सभी राज्यों और एक संघ शासित प्रदेश दिल्ली के बीच से गुजरात (Gujarat) का प्रदर्शन सबसे बेहतर रहा है. असम को छोड़कर अन्य सभी पूर्वोत्तर राज्यों और दिल्ली के अलावा अन्य संघ शासित प्रदेशों को अलग श्रेणी में रखा गया है. इस वर्ग में अंडमान और निकोबार द्वीप सबसे बेहतर प्रदर्शन करने वाला रहा है.

इसमें 22 राज्यों और 3 केंद्र शासित प्रदेशों ने हिस्सा लिया
शुक्रवार को वाणिज्य मंत्री पीयूष गोयल ने रैंकिंग जारी करते हुए बताया कि इसमें 22 राज्यों और 3 केंद्र शासित प्रदेशों ने हिस्सा लिया है. यह रैंकिंग नवोदित उद्यमियों को स्टार्टअप स्थापित करने के लिए बेहतर इकोसिस्टम उपलब्ध कराने के आधार पर तय की गई है. 2019 में जारी रैंकिंग फ्रेमवर्क के मुताबिक, सात क्षेत्रों में सुधार के आधार पर 30 अंक दिए जाते हैं. इस बार राज्यों को दो वर्गों 'वाई' और 'एक्स' में बांटकर रैंकिंग दी गई है. वाई कैटेगरी असम और दिल्ली को छोड़कर सभी केंद्र शासित प्रदेशों को शामिल किया गया है. अन्य सभी प्रदेशों और केंद्र शासित प्रदेशों को एक्स कैटेगरी में शामिल गया है. वाई कैटेगरी में अंडमान एंड निकोबार द्वीपसमूह बेस्ट परफॉर्मर बना है.


गोयल ने कहा कि स्टार्टअप के वित्तपोषण के मामले में ‘कोषों का कोष’ उनको समर्थन दे रहा है और कई सार्वजनिक उपक्रम स्टार्टअप के लिए समर्पित कोष बनाने के साथ आगे आ रहे हैं. उन्होंने स्टार्टअप को भी संदेश देते हुए कहा कि वह आत्मनिर्भर भारत को बढ़ावा देने के लिए तीन 'पी' प्रोडक्ट (उत्पाद), प्रोसेस (प्रक्रिया), पीपुल (लोग) पर ध्यान दें.



ये भी पढ़ें : रेलयात्री के लिए खुशखबरी! 174 दिन के बाद आज से शुरू होगी वंदे भारत और हमसफर एक्सप्रेस

डीपीआईआईटी सचिव गुरुप्रसाद महापात्रा ने इस अवसर पर कहा कि विभाग ने अब तक 36,000 स्टार्टअप की पहचान की है. उन्होंने कहा कि सभी राज्य नए उदीयमान उद्यमियों को बढ़ावा देने के लिये काम कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि देश में स्टार्टअप के काम शुरू करने और अनुकूल माहौल बनने से चार लाख रोजगार के अवसर सृजित हुए हैं. रैंकिंग में राज्यों, संघ शासित प्रदेशों को पांच श्रेणियों में वर्गीकृत किया गया है.

गुजरात के बाद बेहतर प्रदर्शन करने वाले राज्य
गुजरात के बाद बेहतर प्रदर्शन करने वाले राज्यों में बिहार, महाराष्ट्र, ओड़िशा, राजस्थान और चंडीगढ़ का स्थान रहा है. वहीं आंकांक्षी लीडर श्रेणी में हरियाणा, झाारखंड, पंजाब, तेलंगाना, उत्तराखंड और नगालैंड शामिल रहे हैं. उभरती स्टार्टअप पारस्थितिकी वाले राज्यों में आंध्र प्रदेश, असम, छत्तीसगढ़, दिल्ली, हिमाचल प्रदेश, मध्य प्रदेश, तमिलनाडु, उत्तर प्रदेश, मिजोरम और सिक्किम का स्थान रहा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज